DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली : कमरे में बंद चोर मचाता रहा उत्पात, 1 घंटे तक नहीं आई पुलिस

प्रतीकात्मक तस्वीर

पूर्वी दिल्ली के मधु विहार में गुरुवार रात घर में चोरी करने घुसे एक चोर को दंपति ने कमरे में बंद कर दिया। चोर ने बाहर निकलने के लिए जमकर हंगामा किया और कमरे में तोड़फोड़ कर दी। उसने लोहे की रॉड से खिड़की की ग्रिल को भी तोड़ने का प्रयास किया और दंपति को गोली मारने की धमकी देता रहा। हालांकि, सूचना मिलने के पांच मिनट में अपराध स्थल पर पहुंचने का दावा करने वाली दिल्ली पुलिस करीब एक घंटे बाद मौके पर पहुंची और आरोपी को पकड़ लिया। गिरफ्तार आरोपी की पहचान राशिद के तौर पर हुई है।

पुलिस के अनुसार, 27 वर्षीय आशीष बिष्ट परिवार के साथ पश्चिमी विनोद नगर की गली नंबर-2 में किराए के मकान में रहते हैं। गुरुवार को उनका जन्मदिन था। रात करीब 12:30 बजे जन्मदिन की पार्टी के बाद परिवार सो गया। रात करीब 3 बजे उनकी पत्नी अंजलि बिष्ट की नींद दूसरे कमरे में हो रही खटपट की आवाज से खुल गई। पत्नी ने तुरंत आशीष को जगाया। इसके बाद आशीष ने दूसरे कमरे में झांककर देखा तो वहां एक युवक सामान ढूंढ रहा था। यह देख आशीष ने तुरंत बाहर से कमरे का दरवाजा बंद कर दिया। इस पर बदमाश दरवाजा खोलने के लिए शोर मचाने लगा। शोर सुनकर नीचे से मकान मालिक रामदत्त का परिवार भी वहां आ गया। इसके बाद 100 पर फोन कर मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

चोर ने परिवार को दी गोली मारने की धमकी

इस दौरान बदमाश कमरे से बाहर न निकालने पर परिवार के साथ गाली-गलौज करते हुए उन्हें गोली मारने की धमकी देता रहा। इस दौरान उसने लोहे की रॉड से खिड़की की ग्रिल तोड़ने का भी प्रयास किया और कमरे में रखा सामान भी तोड़ दिया। आशीष ने फिर भी दरवाजा नहीं खोला तो उसने गुस्से में फर्श पर पटककर अपना मोबाइल तोड़ दिया। इससे आशीष और उनकी पत्नी घबरा गए। उन्हें डर था कि अगर कुंडी टूट गई तो बदमाश उन पर भी हमला कर सकता था। करीब एक घंटे बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो दंपति ने राहत की सांस ली। पुलिस ने दरवाजा खोलकर आरोपी को पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपी के पास से पिस्तौल, तीन कारतूस, लोहे की रॉड और चोरी के एक जोड़ी कुंडल बरामद किए हैं। आरोपी कल्याणपुरी के इंदिरा कैंप का रहने वाला है।  

ऊपर जाने से कतरा रहे थे पुलिसकर्मी

पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना मिलने के पांच मिनट बाद पीसीआर को वारदात की जगह पहुंचना होता है, मगर यहां पुलिस करीब एक घंटे बाद पहुंची। आशीष ने बताया कि दरवाजा बंद करते ही उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम को फोन कर मामले की जानकारी दे दी थी। करीब आधे घंटे बाद पुलिस नहीं पहुंची तो उन्होंने दोबारा फोन किया। एक घंटे बाद पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे जरूर, मगर चोर के पास पिस्तौल होने की वजह से ऊपर जाने में कतरा रहे थे, लेकिन भीड़ के दबाव में उन्हें ऊपर जाना ही पड़ा।

बाहर से लॉक तोड़कर अंदर घुसा

आशीष ने सोने से पहले बाहर का दरवाजा अंदर से बंद किया, मगर बदमाश ने बाहर से ही दरवाजे का लॉक तोड़ दिया और भीतर घुस गया। वह कमरे की अलमारी का ताला तोड़ रहा था, तभी अंजलि की नींद खुल गई। 

ऐसे चला घटनाक्रम 

12:30 बजे गुरुवार रात जन्मदिन की पार्टी मनाने के बाद दंपति सो गया
2:30 बजे बदमाश घर में घुसा
3:00 बजे खटपट की आवाज से अंजलि की नींद खुल गई
3:05 बजे दंपति ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी
03:35 बजे दोबारा पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी गई
04:05 बजे पुलिस मौके पर पहुंची 
4 :10 बजे पुलिस ने बदमाश को कमरे से बाहर निकाला

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Thief creates rucks in room lock from outside Delhi police did not come for an hour