ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRगर्लफ्रेंड के लिए गिफ्ट नहीं खरीद पाने पर किशोर ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

गर्लफ्रेंड के लिए गिफ्ट नहीं खरीद पाने पर किशोर ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

17 वर्षीय किशोर अपनी मां के साथ गांव में किराए के मकान में रहता था। दोनों मेहनत मजदूरी करके गुजारा करते हैं। किशोर ने गुरुवार सुबह करीब छह बजे कमरे में पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

गर्लफ्रेंड के लिए गिफ्ट नहीं खरीद पाने पर किशोर ने फांसी लगाकर की खुदकुशी
Praveen Sharmaनोएडा | हिन्दुस्तानFri, 20 May 2022 09:55 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

नोएडा फेज-2 क्षेत्र के गांव में एक किशोर ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। किशोर से उसकी प्रेमिका ने गिफ्ट मांगा था। आर्थिक तंगी के चलते वह गिफ्ट नहीं दे सका। इस बात को लेकर वह मानसिक तनाव में था। पुलिस को मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

थाना प्रभारी ने बताया कि 17 वर्षीय किशोर अपनी मां के साथ गांव में किराए के मकान में रहता था। दोनों मेहनत मजदूरी करके गुजारा करते हैं। किशोर ने गुरुवार सुबह करीब छह बजे कमरे में पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। जब उसकी मां कमरे में पहुंची तो उसे घटना का पता चला। इसके बाद पुलिस को मामले की सूचना दी गई।

किशोर की मां ने पुलिस को बताया कि उनका बेटा पिछले काफी समय से एक लड़की से बात करता था। बताया जा रहा है कि किशोर से उसकी प्रेमिका ने गिफ्ट मांगा था। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के चलते वह गिफ्ट नहीं दे सका। इसको लेकर वह परेशान था। पुलिस अपने स्तर पर मामले की जांच कर रही है।

डंपर में तेज रफ्तार कार घुसी, कारोबारी की मौत

नोएडा। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर आगे चल रहे डंपर में तेज रफ्तार कार घुस गई। कार सवार नोएडा के कारोबारी की मौत हो गई, जबकि दो अन्य साथी गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को मिनी पीजीआई सैफई में भर्ती कराया गया है। कार सवार लोग बिहार के वैशाली से नोएडा जा रहे थे।

प्रयागराज निवासी 42 वर्षीय प्रिंस श्रीवास्तव अपने साथी बिहार वैशाली निवासी अक्षय कुमार और नोएडा के डी-113 सेक्टर-10 निवासी अनुज के साथ बिहार से नोएडा जा रहे थे। सौरिख से गुजरते समय एक्सप्रेसवे पर कार आगे चल रहे डंपर में जा घुसी। डंपर सौरिख से इटावा जा रहा था, उसे ड्राइवर इंद्रजीत सिंह चला रहा था। हादसे में कार सवार सभी लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पर पहुंचे यूपीडाकर्मी व पुलिस ने घायलों को मिनी पीजीआई सैफई भर्ती कराया। इलाज के दौरान प्रिंस श्रीवास्तव की मौत हो गई। घटना से परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों के अनुसार प्रिंस नोएडा में रहकर इलेक्ट्रॉनिक्स का व्यवसाय करता था।

epaper