ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRगाजियाबाद में 8वीं की छात्रा से गैंगरेप, मां को बीमार बता ले गए थे आरोपी; पीड़िता को आए 10 टांके

गाजियाबाद में 8वीं की छात्रा से गैंगरेप, मां को बीमार बता ले गए थे आरोपी; पीड़िता को आए 10 टांके

वारदात के बाद पीड़िता जैसे-तैसे किसी तरह अपने घर पहुंची, जहां बेटी की हालत देखकर मां हैरान रह गई। वह तुरंत उसे पास के अस्पताल लेकर गई, जहां पीड़िता के निजी अंग पर 10 टांके लगाने पड़े।

गाजियाबाद में 8वीं की छात्रा से गैंगरेप, मां को बीमार बता ले गए थे आरोपी; पीड़िता को आए 10 टांके
minor rape symbolic image
Sourabh Jainहिन्दुस्तान,मुकेश सिंघल, नई दिल्लीTue, 25 Jun 2024 11:56 PM
ऐप पर पढ़ें

गाजियाबाद के शालीमार गार्डन थाना क्षेत्र में विधवा मां को बीमार बता 8वीं की छात्रा से मकान मालिक के नाबालिग भतीजे व उसके दोस्त ने सामूहिक दुष्कर्म किया। जिसके बाद पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में 10 टांके आए हैं। घटना 11 जून की है। वारदात का पता चलते ही मकान मालिक ने पीड़िता व उसकी मां पर समझौते का दबाव बनाकर उन्हें बंधक बना लिया। मंगलवार को फूफा पहुंचे तो वे दोनों को थाना शालीमार गार्डन ले गए। दोनों मुख्य आरोपियों को देर रात गिरफ्तार कर पुलिस ने पीड़िता का इलाज करने वाले डॉक्टर को भी हिरासत में ले लिया है।

एक कॉलोनी में किराये के मकान में रहने वाली महिला ने बताया कि पति की डेढ़ साल पहले मौत हो गई थी। वह घरेलू सहायिका के रूप में काम कर 15 वर्षीय बेटी को पढ़ा रही हैं। 11 जून को मकान मालिक जाहिद का 11वीं पढ़ने वाला नाबालिग भतीजा व 12वीं में पढ़ने वाला उसका दोस्त मोहित उनके कमरे पर पहुंचा और बेटी से कहा कि तुम्हारी मां की तबीयत ज्यादा खराब है। 

इसके बाद नाबालिग आरोपी छात्रा को अपनी बहन के फ्लैट पर ले गया। यहां मां के नहीं मिलने पर जब किशोरी ने इस बारे में पूछा तो उन्होंने मां के दवा लेने जाने की बात कही। आरोपियों ने उसे कोल्ड्रिंक दी और खुद भी पी। कोल्ड्रिंक पीते ही बेहोशी छाने लगी। नाबालिग आरोपी और मोहित ने उससे दुष्कर्म किया। इस दौरान उसके निजी अंग से खून बहने लगा। काफी ज्यादा चोट आने पर पीड़िता रोने लगी और दोनों से अस्पताल ले चलने को कहा, लेकिन आरोपी हत्या की धमकी दे फरार हो गए।

पता चलते ही बना लिया बंधक

पीड़िता किसी तरह यहां से अपने घर पहुंची तो बेटी की हालत देखकर मां हैरान रह गई। वह तुरंत उसे पास के अस्पताल ले गईं, जहां पीड़िता के निजी अंग पर 10 टांके लगाने पड़े। बेटी के बताने पर मां ने मकान मालिक जाहिद से बात की तो उसने हत्या की धमकी देते हुए कमरे से बाहर जाने पर रोक लगा दी। जाहिद के साथ उसका साथी मुर्सलीन भी था, जिन्होंने डरा-धमकाकर सादे पेपर पर हस्ताक्षर करा लिए और कहा कि पुलिस में शिकायत की तो उल्टा फंसा देंगे। 11 जून से ही पीड़िता व उसकी मां आरोपियों के कब्जे में थीं। मंगलवार को पीड़िता के फूफा उनसे मिलने पहुंचे, जिन्होंने मामले की जानकारी पुलिस को दी और दोनों को लेकर थाने पहुंचे।

डॉक्टर से भी होगी पूछताछ

छात्रा का इलाज करने वाले डॉक्टर की भूमिका भी संदेह के घेरे में है, क्योंकि ऐसे मामलों में चिकित्सक तुरंत पुलिस को सूचना देते हैं। पुलिस डॉक्टर के भी बयान दर्ज करेगी। डीसीपी ट्रांस हिंडन निमिष पाटील का कहना है कि नाबालिग आरोपी और मोहित को गिरफ्तार कर लिया है। अभी तक की जांच में मोहित के दुष्कर्म करने की ही बात सामने आई है। बंधक बनाए जाने की भी पुष्टि नहीं हुई। जाहिद और मुर्सलीन की भूमिका की भी जांच कर रहे हैं। पीड़िता का इलाज करने वाले चिकित्सक को भी हिरासत में लिया है। बयानों के आधार पर आगे की कार्रवाई करेंगे।