DA Image
14 जुलाई, 2020|4:02|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली पुलिस ने ली मौलाना साद के कमरे की तलाशी, बेटों से भी हुई पूछताछ

saad

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने बुधवार को निजामुद्दीन मरकज की तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना मोहम्मद साद कांधलवी के कमरे की लेने के साथ ही उसके बेटों से भी पूछताछ की है। मौलाना साद की तलाश में जुटी क्राइम ब्रांच की यहां सबूत जुटाने पहुंची थी।

तबलीगी जमात कार्यक्रम के द्वारा कोरोना वायरस को फैलाने का आरोपी मौलाना साद इस मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद से ही फरार चल रहा है। पुलिस काफी समय से उसकी तलाश कर रही है। 

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने मौलाना साद को पेश होने के लिए नोटिस भेजकर उससे 26 सवाल भी पूछे थे, लेकिन मौलाना साद ने अपने वकील के माध्यम से नोटिस का जवाब दाखिल कर खुद के क्वारंटाइन में होने की जानकारी दी थी। इसके अलावा कुछ दिन पहले मौलाना साद ने अपना ऑडियो संदेश जारी किया था, जिसमें उसने बताया था कि वह सेल्फ आइसोलेशन में हैं।

1900 जमातियों पर कार्रवाई, क्राइम ब्रांच ने जारी किया लुकआउट नोटिस

वहीं, मरकज से निकलने के बाद से फरार चल रहे तबलीगी जमातियों के खिलाफ भी दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने लुकआउट सर्कुलर जारी किया है। विदेश से आए करीब 1900 जमातियों पर यह कार्रवाई की गई है। देश में संभवत: पहली बार इतनी बड़ी संख्या में लुकआउट सुर्कलर जारी किए गए हैं। सूत्रों की मानें तो वीजा नियम का उल्लंघन कर विदेश से आए जमाती धार्मिक गतिविधि में शामिल हुए हैं। इन्हें चिह्नित किए जाने के बाद वीजा रद्द किए जा रहे हैं। वहीं अन्य विदेशी मूल के जमातियों की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

जांच में जुटी क्राइम ब्रांच लोकेशन के आधार पर इन जमातियों की तलाश में छापेमारी कर रही है। वहीं तबलीगी जमात द्वारा बरती गई इस लापरवाही की जांच में18 लोगों को शामिल होने के लिए नोटिस जारी किया गया है। इनमें से 11 क्वारंटाइन किए गए लोग शामिल हैं।

960 विदेशी नागरिकों को ब्लैक लिस्ट किया केंद्र सरकार ने 960 विदेशी नागरिकों को ब्लैकलिस्ट किया है, जो फिलहाल टूरिस्ट वीजा लेकर भारत में ठहरे हैं और तबलीगी जमात में शामिल हुए थे। साथ ही सभी राज्य सरकारों से भी इस तरह के लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है जो टूरिस्ट वीजा पर भारत आए और मजहबी कार्यक्रमों में हिस्सा ले रहे हैं।

 पुलिस ने मौलाना से पूछे थे ये सवाल

नोटिस में संगठन का पूरा पता और रजिस्ट्रेशन से जुड़ी जानकारियां, संगठन से जुड़े कर्मचारियों की पूरी जानकारी, मरकज के प्रबंधन से जुड़े लोगों की डिटेल मांगी गई है। ये लोग कब से मरकज से जुड़े हैं। साथ ही मरकज की पिछले तीन साल की इनकम टैक्स की डिटेल, पैन कार्ड नंबर, बैंक खाते की जानकारी और एक साल की बैंक स्टेटमेंट भी मांगी गई है। 1 जनवरी 2019 से अब तक मरकज में हुए सभी धार्मिक आयोजनों की जानकारी भी मांगी गई है। पूछा गया है कि क्या मरकज के अंदर सीसीटीवी लगे हैं। अगर लगे हैं तो कहां-कहां लगे हैं, इसकी जानकारी मुहैया कराएं। क्राइम ब्रांच टीम ने नोटिस में मौलाना साद से पूछा कि धार्मिक आयोजनों में लोगों की भीड़ जुटने से पहले क्या कोई इजाजत पुलिस या प्रशासन से मांगी गई या कभी मिली तो उसकी जानकारी और दस्तावेज मुहैया कराएं।

12 मार्च के बाद कितने लोग आए 

क्राइम ब्रांच ने यह भी पूछा है कि 12 मार्च के बाद मरकज में कौन-कौन लोग आए? इनमें कितने विदेशी और कितने भारतीय हैं। इनमें से कितने लोग बीमार थे, जिन्हें अस्पताल ले जाया गया। मरकज के कोरोना कनेक्शन की पूरी जांच क्राइम ब्रांच ही कर रही है और इस मामले में मौलाना साद समेत सात लोगों पर एफआईआर दर्ज है।  

पुलिस और प्रशासन से भी जानकारी मांगी

12 मार्च के बाद स्थानीय पुलिस ने मरकज के लोगों से कब-कब संपर्क किया और क्या निर्देश दिए? वहीं प्रशासन स्तर पर क्या कार्रवाई की गई? एसडीएम, डब्ल्यूएचओ और डॉक्टरों की टीम ने कब मरकज का दौरा किया था, उसकी भी जानकारी मांगी गई है। क्राइम ब्रांच ने अस्पतालों में भर्ती जमात के लोगों का ब्योरा भी मांगा है।

देशभर में छापेमारी 

मरकज में आए तब्लीगी जमात के लोगों की तलाश में दिल्ली समेत पूरे देश में छापेमारी चल रही है। खासतौर से दिल्ली, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

960 विदेशी नागरिकों को ब्लैक लिस्ट किया

भारत सरकार ने 960 विदेशी नागरिकों को ब्लैक लिस्ट कर दिया है, जो फिलहाल टूरिस्ट वीजा लेकर भारत में ठहरे हुए हैं और वो तब्लीगी जमात में शामिल हुए थे। सभी राज्य सरकारों से भी ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है, जो टूरिस्ट वीजा पर भारत आए हैं और मजहबी कार्यक्रमों में हिस्सा ले रहे हैं।

मौलाना साद के पास है आलीशान फार्म हाउस, जानें क्या-क्या है उसमें

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Tablighi Jamaat event case : Delhi police searches Nizamuddin Markaz chief Maulana Saad s room and also interrogate his sons