ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRजामा मस्जिद के 14वें शाही इमाम बने सैयद शाबान बुखारी, परिवार में बरकरार रहा पद

जामा मस्जिद के 14वें शाही इमाम बने सैयद शाबान बुखारी, परिवार में बरकरार रहा पद

Shahi Imam of Jama Masjid: सैयद शाबान बुखारी ने अपने पिता सैयद इमाम अहमद बुखारी की जगह ली। उनकी जामा मस्जिद के 14वें इमाम के रूप में रविवार को दस्तारबंदी की गई। पढ़ें यह रिपोर्ट...

जामा मस्जिद के 14वें शाही इमाम बने सैयद शाबान बुखारी, परिवार में बरकरार रहा पद
Krishna Singhहिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 26 Feb 2024 12:25 AM
ऐप पर पढ़ें

सैयद शाबान बुखारी की जामा मस्जिद के 14वें इमाम के रूप में रविवार को दस्तारबंदी की गई। उन्होंने अपने पिता सैयद इमाम अहमद बुखारी की जगह ली। इस मौके पर उनके पिता और हालिया इमाम सैयद अहमद बुखारी ने शाबान बुखारी के नाम की घोषणा की और उनकी दस्तारबंदी की। इससे पहले शाबान बुखारी को नायब इमाम नियुक्त किया गया था।

जामा मस्जिद के शाही इमाम के दस्तारबंदी कार्यक्रम के लिए सियासत के जानी-मानी हस्तियों के साथ, देश-विदेश और कई लोग आमंत्रित थे। जामा मस्जिद परिसर में बड़ी संख्या में आम लोग भी एकत्रित हुए थे। पांच सौ किलो मिठाई यहां विभिन्न मार्केट वेलफेयर एसोसिएशन की तरफ से लोगों को बांटने के लिए पहुंचाई गई। इस दौरान जामा मस्जिद को रोशनी से सजाया गया था। 

रात 10 बजे के बाद इमाम अहमद बुखारी ने सैयद शाबान बुखारी के नाम की घोषणा की। उन्होंने कहा कि मैं 400 साल की रिवायत को बरकरार रखते हुए सब लोगों की मौजूदगी में शाबान बुखारी को जानसी मुकर्रर करता हूं। अली बुखारी नायब इमाम होंगे। उन्होंने खुदा से देश में अमन और तरक्की दुआ की।

सैयद शाबान बुखारी ने अपने पिता का शुक्रिया अदा किया और कहा कि यह मेरे लिए एक बड़ी जिम्मेदारी है। मैं इसका पालन करूंगा। मैं चाहूंगा कि खुदा मेरे पिता को सेहमंद और लंबी आयु दें। आप सब दुआ करें कि मैं बुजुर्गों के नक्शे कदम पर चलते इस जिम्मेदारी को हिम्मत के साथ निभा सकूं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें