ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRअपनी ही पार्टी के नेताओं ने...; फिर छलका स्वाति मालीवाल का दर्द, राहुल-पवार को लेटर लिखकर क्या बताया

अपनी ही पार्टी के नेताओं ने...; फिर छलका स्वाति मालीवाल का दर्द, राहुल-पवार को लेटर लिखकर क्या बताया

आम आदमी पार्टी (आप) की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने खुद पर कथित हमले को लेकर नई मुहिम छेड़ दी है। उन्होंने 'इंडिया' गठबंधन में अपनी पार्टी की घेराबंदी शुरू कर दी है। राहुल गांधी को लेटर लिखा।

अपनी ही पार्टी के नेताओं ने...; फिर छलका स्वाति मालीवाल का दर्द, राहुल-पवार को लेटर लिखकर क्या बताया
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 18 Jun 2024 05:00 PM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी (आप) की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने खुद पर कथित हमले को लेकर नई मुहिम छेड़ दी है। उन्होंने 'इंडिया' गठबंधन में अपनी पार्टी की घेराबंदी शुरू कर दी है। मालीवाल ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस सांसद राहुल गांधी समेत कई वरिष्ठ नेताओं को लेटर लिखा है। मालीवाल ने उन्हें अपना दर्द बताते हुए मुलाकात का वक्त भी मांगा है।

राहुल गांधी और शरद पवार को लिखे लेटर को मालीवाल ने अपने एक्स अकाउंट से सार्वजनिक भी किया है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष के रूप में अपने कामकाज का जिक्र करते हुए उन्होंने अपने साथ हुई घटना के बारे में उन्हें बताया है। मालीवाल ने कहा, 'पिछले 18 सालों से मैंने जमीन पर काम किया है और 9 सालों में महिला आयोग में 1.7 लाख केस में सुनवाई की है। बिना किसी से डरे और किसी के आगे झुके, महिला आयोग को एक बहुत ऊंचे मकाम पर खड़ा किया। पर बहुत दुख की बात है कि पहले मुझे मुख्यमंत्री के घर पर बुरी तरह पीटा गया, फिर मेरा चरित्र हरण करा गया।' मालीवाल ने बताया कि उन्होंने INDIA गठबंधन के सभी बड़े नेताओं को पत्र लिखा है और मिलने का समय मांगा है।

मालीवाल ने लेटर में कहा है कि 13 मई को सीएम के आवास पर उनके पीए ने पीटा, लेकिन समर्थन दिए जाने की बजाय उनकी ही पार्टी के नेताओं ने चरित्र हनन किया। मालीवाल ने कहा कि सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ चलाए गए मुहिम की वजह से उन्हें रेप और हत्या की धमकी दी जा रही है। मालीवाल ने कहा, 'एक महीने से मैंने खुद अनुभव किया है कि न्याय की लड़ाई में पीड़िताओं को किस तरह दर्द और अकेलपन का सामना करना पड़ता है। जिस तरह की विक्टिम शेमिंग और चरित्र हनन मेरे साथ किया गया है इससे महिलाएं अपने खिलाफ अपराध पर बोलने से हतोत्साहित होंगी। इस मुद्दे पर चर्चा के लिए मैं आपसे समय चाहती हूं। मैं इस पर आपके जवाब की प्रतिक्षा कर रही हूं।'