ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR'ACB के एक्शन से डरीं स्वाति, बीजेपी करेंगी ज्वाइन'; मालीवाल पर AAP के नए आरोप

'ACB के एक्शन से डरीं स्वाति, बीजेपी करेंगी ज्वाइन'; मालीवाल पर AAP के नए आरोप

Swati Maliwal: आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी ने एक बार फिर स्वाति मालीवाल वाले मामले को बीजेपी की साजिश बताया है। उन्होंने एक निष्पक्ष जांच की मांग की है जिससे सच सबके सामने आ जाएगा।

'ACB के एक्शन से डरीं स्वाति, बीजेपी करेंगी ज्वाइन'; मालीवाल पर AAP के नए आरोप
Sneha Baluniएएनआई,नई दिल्लीSat, 18 May 2024 11:43 AM
ऐप पर पढ़ें

स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट के मामले में आम आदमी पार्टी (आप) की किरकिरी हो रही है। बचाव में आप ने एक बार फिर बीजेपी पर निशाना साधा है। दिल्ली सरकार में शिक्षा मंत्री आतिशी का कहना है कि मालीवाल के खिलाफ एंटी करप्शन ब्यूरों ने एक एफआईआर दर्ज की है जिसकी जांच चल रही है। ऐसे में चुनाव से पहले बीजेपी ने षड्यंत्र रचा जिसका मोहरा राज्यसभा सांसद को बनाया। एक निष्पक्ष जांच होनी चाहिए जिससे पता चले की दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष बीजेपी के किन नेताओं से मिलीं। वाट्सऐप पर उनसे क्या संपर्क रहा। जिसके बाद सच्चाई सामने आ जाएगी।

आतिशी ने कहा, 'भारतीय जनता पार्टी हर काम स्पष्ट तौर पर करती है। वो ईडी-सीबीआई, आयकर विभाग, एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) को विपक्ष के नेताओं के पीछे लगाती है। अगर पार्टी ऐसे षड्यंत्र नहीं करती तो प्रफुल्ल पटेल, छगन भुजबल, अजीत पवार उनकी पार्टी में कैसे आए? यह साफ-साफ उदाहरण हैं कि कैसे एजेंसियों को इस्तेमाल किया गया। विपक्ष के नेताओं के स्क्रू टाइट करने, ब्लैकमेल करने और उन्हें भाजपा में लाने के लिए ऐसा किया गया। स्वाति मालीवाल वाले मामले में भी बिलकुल यही फॉर्मूला अपनाया गया है।'

निष्पक्ष जांच हो

आप नेता ने कहा, 'एसीबी मालीवाल पर केस करता है। एफआईआर हुई है, उसकी जांच हो रही है। इसके जरिए उनसे यह षड्यंत्र रचाया जाता है। चुनाव से ठीक पहले, उन्हें इस षड्यंत्र का मोहरा बनाया जाता है। मैं फिर कह रही हूं कि निष्पक्ष जांच हो जाए कि कौन किसके संपर्क में था। भाजपा के किन नेतओं से स्वाति मालीवाल मिलीं। कब मिलीं, फोन पर क्या बात हुई, वाट्सऐप पर क्या संपर्क रहा। इसकी जांच हो जाए तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।'

भाजपा ने साजिश रची थी

इससे पहले शुक्रवार को आतिशी ने कहा था कि मुख्यमंत्री आवास का जो वीडियो सामने आया है, उससे साफ है कि स्वाति मालीवाल के आरोप निराधार और झूठ हैं। पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में उन्होंने जो आरोप लगाया है, उस वीडियो में बिल्कुल विपरीत है। उन्होंने आरोप लगाया कि यह भाजपा की साजिश है, जिसमें स्वाति मालीवाल मोहरा बनी हैं। जब से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जमानत मिली है, पूरी भाजपा बौखलाई हुई है। इसी बौखलाहट में भाजपा ने साजिश रची।