ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRनजफगढ़ के सैलून में डबल मर्डर के पीछे हो सकती हैं ये दो बड़ी वजह, किन-किन ऐंगल से जांच कर रही दिल्ली पुलिस

नजफगढ़ के सैलून में डबल मर्डर के पीछे हो सकती हैं ये दो बड़ी वजह, किन-किन ऐंगल से जांच कर रही दिल्ली पुलिस

दिल्ली के नजफगढ़ में शुक्रवार रात सैलून के अंदर हुई दो लोगों की हत्या सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डालने के विवाद के कारण हुई थी। हमलावरों में से एक आरोपी कुख्यात गोगी गैंग से जुड़ा बताया जा रहा है।

नजफगढ़ के सैलून में डबल मर्डर के पीछे हो सकती हैं ये दो बड़ी वजह, किन-किन ऐंगल से जांच कर रही दिल्ली पुलिस
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानSun, 11 Feb 2024 06:28 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में शुक्रवार रात सैलून के अंदर हुई दो लोगों की हत्या सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डालने के विवाद के कारण हुई थी। हमलावरों में से एक आरोपी कुख्यात गोगी गैंग से जुड़ा बताया जा रहा है। हत्या को गैंगवार से जोड़कर भी जांच की जा रही है। पुलिस अभी तक शूटरों को नहीं पकड़ पाई है। फिलहाल, जिला पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच और स्पेशल सेल की टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी हैं और दिल्ली-एनसीआर सीमाओं के आसपास तैनाती बढ़ा दी है।

दोनों हमलावरों की पहचान संजीव दहिया उर्फ संजू और हर्ष उर्फ चिंटू के रूप में हुई है। अब तक की जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपियों ने सोशल मीडिया पर डाले गए पोस्ट को लेकर हुए आशीष और सोनू की हत्या की थी। आरोपी चिंटू के गोगी गैंग से जुड़े गैंगस्टर योगेश टुंडा का करीबी होने का पता चला है, जबकि मारे गए एक युवक के भी एक गैंग से जुड़े होने की जानकारी मिल रही है।

हालांकि, इस पर पुलिस की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। करीब आधा दर्जन पुलिस टीमें आपसी विवाद, सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर हुए विवाद और गैंगवार सहित अन्य सभी एंगल से मामले की जांच कर रही हैं।

डीसीपी अंकित सिंह का कहना है कि आरोपियों के गिरफ्तारी के बाद ही सही कारणों का खुलासा हो सकेगा। जांच से जुड़े सूत्रों का कहना है कि वारदात दिल्ली के दो गिरोह के बीच हुए गैंगवार का नतीजा हो सकती है क्योंकि पिछले दिनों गैंगवार में एक दूसरे गैंग के कई बदमाशों की हत्या की गई थी, और कई पर जानलेवा हमला हुआ था।

सोनू और आशीष नांगली सकरावती इलाके में रहते थे। सोनू का संपत्ति किराये पर देने का काम था, जबकि आशीष लंबे समय से कोई काम नहीं कर रहा था। दोनों में लंबे समय से दोस्ती थी। शुक्रवार दोपहर सैलून में दोनों की हत्या कर दी गई थी।

घटनास्थल पर मौजूद महिला से भी पूछताछ

मामले के वायरल वीडियो में पॉइंट ब्लैंक रेंज से गोली लगने पर फर्श पर गिरे व्यक्ति को देखने के लिए दूसरी ओर से महिला आती है। लेकिन, आरोपी को मरा देखते ही वहां से तेजी से भाग जाती है। इसके बाद आरोपी भी मौके से फरार हो जाते हैं। पुलिस महिला से भी पूछताछ कर रही है।

पुलिस को जानकारी लीक करने का था शक

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का मानना ​​है कि हमलावर अपने साथियों के बारे में पुलिस को सूचना लीक करने के लिए मृतक से बदला लेना चाहते थे। अधिकारियों के मुताबिक, हर्ष हाल ही में तिहाड़ जेल से जमानत पर रिहा हुआ था। पुलिस सूत्रों ने कहा कि संजीव दहिया दिल्ली हाईकोर्ट में वकील है और उसके पिता द्वारका में दिल्ली पुलिस में एएसआई हैं।

एक अधिकारी ने कहा, “हर्ष जेल में बंद गैंगस्टर योगेश उर्फ ​​टुंडा का भाई है। टुंडा गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया की हत्या के आरोपियों में से एक है। आशीष ने कुछ महीने पहले हर्ष के कुछ साथियों को शरण दी थी, जो टुंडा के गैंग के सदस्य भी थे। हालांकि, उन्हें कुछ ही दिनों में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

अधिकारी ने कहा कि हर्ष को लगता है कि आशीष ने उसके साथियों के बारे में पुलिस को जानकारी लीक कर दी थी, जिसके चलते उनकी गिरफ्तारी हुई। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें