ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRAAP का नया चेहरा बन उभर रहीं सुनीता केजरीवाल, दिल्ली की राजनीति में करेंगी बड़ा 'कमाल'?

AAP का नया चेहरा बन उभर रहीं सुनीता केजरीवाल, दिल्ली की राजनीति में करेंगी बड़ा 'कमाल'?

राजनीति के सार्वजनिक मंचों से हमेशा दूरी बनाने वाली सुनीता केजरीवाल का कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के साथ राजनीतिक मंच साझा करना यह बताता है कि वह धीरे-धीरे वह पार्टी का अहम चेहरा बनकर उभर रही हैं।

AAP का नया चेहरा बन उभर रहीं सुनीता केजरीवाल, दिल्ली की राजनीति में करेंगी बड़ा 'कमाल'?
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानWed, 03 Apr 2024 06:22 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) के जेल जाने के बाद राजनीति में सक्रिय हुईं उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल (Sunita Kejriwal) को आम आदमी पार्टी का अगला चेहरा माना जाने के संकेत मिलने लगे हैं। राजनीति के सार्वजनिक मंचों से हमेशा दूरी बनाने वाली सुनीता केजरीवाल बीते कुछ समय से पार्टी की गतिविधियों में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रही हैं। मंगलवार को विधायकों के साथ हुई बैठक के बाद यह कयास लगाए जा रहे हैं कि आने वाले दिनों में वह पार्टी के अंदर होने वाले राजनीतिक फैसलों में अहम भूमिका निभाएंगी। एक कारण यह भी है कि जेल में बंद अरविंद केजरीवाल व आम आदमी पार्टी के बीच सूचनाओं के आदान प्रदान की वह मुख्य कड़ी हैं।

आम आदमी पार्टी (आप) का गठन हुए एक दशक से ज्यादा समय बीत चुका है, लेकिन सुनीता केजरीवाल कभी भी राजनीतिक मंच पर सार्वजनिक तौर पर नजर नहीं आई थीं। बड़ी जीत हासिल करने के बाद वह अरविंद केजरीवाल के साथ नहीं दिखी, परंतु 21 मार्च की गिरफ्तारी के बाद दो बार पत्रकारवार्ता करना, आम आदमी पार्टी के एक अभियान को लॉन्च करना और फिर इंडिया गठबंधन में 'आप' की तरफ से कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के साथ राजनीतिक मंच शेयर करना यह बताता है कि वह सक्रिय तौर पर पार्टी गतिविधियों से जुड़ी हुई हैं। धीरे-धीरे वह पार्टी का अहम चेहरा बनकर उभर रही हैं।

पार्टी में अहम भूमिका निभा रहीं

मंगलवार को भी उन्होंने अरविंद केजरीवाल का संदेश 'आप' विधायकों, मंत्रियों तक पहुंचाया है कि वह जेल जाने से चिंतित नहीं हैं। उनके इरादे मजबूत हुए हैं। इससे साफ है कि अरविंद केजरीवाल अगर इस्तीफा नहीं देते हैं तो वह आम आदमी पार्टी व दिल्ली सरकार दोनों सुनीता केजरीवाल के जरिए चलाते रहेंगे, क्योंकि जेल रहने के दौरान उन्हें पत्नी सुनीता केजरीवाल से मुलाकात या वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत का मौका मिलता है, जिससे अब सुनीता केजरीवाल आम आदमी पार्टी में अहम भूमिका में नजर आएंगी।

सीएम तक संदेश पहुंचाने की कड़ी

बैठक में विधायक भले ही अपने संदेश पहुंचाने की बात कह रहे हैं, मगर सूत्रों की मानें तो यह बैठक सुनीता केजरीवाल की तरफ से बुलाई गई थी, जिसमें 'आप' विधायकों के साथ भविष्य में पार्टी की रणनीति पर चर्चा के साथ अरविंद केजरीवाल के इस्तीफे को लेकर भी बात करनी थी। अब विधायकों ने खुला समर्थन का ऐलान किया है तो वह यह बात अरविंद केजरीवाल तक पहुंचाएंगी। 'आप' के सूत्रों की मानें तो सुनीता केजरीवाल लोकसभा चुनाव, उसके आगे रणनीति को लेकर भी पार्टी नेताओं से अपडेट ले रही हैं। पति के साथ मुलाकात के दौरान उन सूचनाओं को वहां तक पहुंचा भी रही हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें