ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRचलो एक गेम खलते हैं, बच्चियों से यूं न्यूड तस्वीरें मंगवा लेता था सुभान अली; दिल्ली में बड़ा खुलासा

चलो एक गेम खलते हैं, बच्चियों से यूं न्यूड तस्वीरें मंगवा लेता था सुभान अली; दिल्ली में बड़ा खुलासा

दिल्ली पुलिस ने नैनीताल से 27 साल के सुभान अली को गिरफ्तार किया है। आरोपी सोशल मीडिया पर फर्जी प्रोफाइल के जरिए खुद को लड़की बताकर नाबालिग लड़कियों से बात करता और उनसे अश्लील फोटो मंगवाता था।

चलो एक गेम खलते हैं, बच्चियों से यूं न्यूड तस्वीरें मंगवा लेता था सुभान अली; दिल्ली में बड़ा खुलासा
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 29 Feb 2024 11:36 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने 27 साल के एक शख्स को गिरफ्तार किया है जो सोशल मीडिया पर खुद को स्कूल स्टूडेंट बताकर नाबालिग लड़कियों से बात करता था। आरोपी का नाम सुभान अली है। अली ट्रुथ और डेयर गेम खेलने के बहाने नाबालिग लड़कियों की अश्लील तस्वीरें ले लेता और फिर उन्हें परेशान करता था। इस पूरे मामला का खुलासा तब हुआ जब हाल ही में एक लड़की की मां ने अपनी बेटी को डिप्रेशन में देखा। एक दिन, उसने अपनी बेटी का फोन चेक किया तो पता चला कि कोई उसकी बेटी को अश्लील तस्वीरें भेजने के लिए ब्लैकमेल कर रहा था।

किशोरी के पिता ने तुरंत पुलिस को सूचित किया और अली को नैनीताल में गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने कहा कि गन्ना फैक्ट्री कर्मचारी और स्कूल ड्रॉपआउट अली ने विभिन्न ऑनलाइन वीडियो देखकर सोशल मीडिया अकाउंट बनाना सीखा। उसने इंटरनेट का उपयोग ट्रुथ और डेयर गेम पर रिसर्च करने के लिए भी किया। हो सकता है ऐसा उसने नाबालिग लड़कियों को अपने जाल में फंसाने के लिए किया होगा।

शिकायत मिलने के बाद डीसीपी (साउथवेस्ट) रोहित मीणा ने जांच के लिए इंस्पेक्टर विकास कुमार बुलडक के नेतृत्व में एक टीम बनाई। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, 'आरोपी की फर्जी सोशल मीडिया प्रोफाइल का विश्लेषण करने पर, हमने पाया कि इसे एक ईमेल एड्रेस का उपयोग करके बनाया गया था। उस ईमेल को ट्रेस करते हुए हम नैनीताल पहुंचे, जहां से हमें अकाउंट होल्डर का पता चला। हालांकि, उसने प्रोफाइल बनाने से इनकार किया।'

बाद में, पता चला कि एक अन्य फैक्ट्री कर्मचारी ने नकली प्रोफाइल बनाने के लिए अपने ईमेल एड्रेस का उपयोग किया था। अधिकारी ने आगे कहा, 'हमने संदिग्ध को पकड़ लिया और उसका फोन जब्त कर लिया। आरोपी शिकायतकर्ता की बेटी सहित कम से कम छह लड़कियों को परेशान कर रहा था।' आगे की पूछताछ में पता चला कि वह पिछले एक साल से नाबालिग लड़कियों को ब्लैकमेल करने और परेशान करने के लिए फर्जी प्रोफाइल का इस्तेमाल कर रहा था। 

इससे पहले, आरोपी ने सोशल मीडिया एप्लिकेशन पर अकाउंट बनाने का तरीका जानने के लिए इंटरनेट पर सर्च किया था। इसके बाद उसने लड़की बनकर एक अकाउंट बनाया। पुलिस ने कहा, 'शिकायतकर्ता की बेटी को जुलाई 2023 से परेशान किया जा रहा था। आरोपी ने एक लड़की की तस्वीर का उपयोग करके उसे कई चैट रिक्वेस्ट भेजे थे। आखिरकार दोनों में चैटिंग शुरू हुई। इसके बाद आरोपी ने अपनी ट्रिक शुरू कर दी और लड़की को न्यूड तस्वीरें और वीडियो भेजने के लिए उकसाया।'

पुलिस अधिकारी ने कहा, 'हमने उसके एक फर्जी अकाउंट की पहचान की है और हमें शक है कि उसने अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी इसी तरह के अखाउंट बनाए होंगे। यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कितनी लड़कियां उसके नापाक इरादों का शिकार बनी हैं।' आरोपी उत्तराखंड के उधम सिंह नगर का रहने वाला है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें