ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRशराब के नशे में 6 साल के मासूम को बुलाया, कुकर्म के बाद गला घोंटा; एक महीने बाद ऐसे आरोपी तक पहुंची पुलिस

शराब के नशे में 6 साल के मासूम को बुलाया, कुकर्म के बाद गला घोंटा; एक महीने बाद ऐसे आरोपी तक पहुंची पुलिस

दिल्ली पुलिस ने एक महीने बाद छह साल के मासूम की हत्या करने वाले आरोपी को पकड़ लिया। इसमें लैब्राडोर डॉग ने अहम भूमिका निभाई। आरोपी ने शराब के नशे में बच्चे के साथ कुकर्म किया था फिर हत्या कर दी।

शराब के नशे में 6 साल के मासूम को बुलाया, कुकर्म के बाद गला घोंटा; एक महीने बाद ऐसे आरोपी तक पहुंची पुलिस
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Feb 2024 01:07 PM
ऐप पर पढ़ें

कहते हैं न कानून के हाथ बहुत लंबे होते हैं जिससे कोई भी अपराधी नहीं बच सकता। ऐसा ही कुछ कारनामा दिल्ली पुलिस ने किया है। पुलिस ने एक ऐसे केस को सुलझाया है जिसका उसके पास कोई सबूत नहीं था। पुलिस के K9 स्कवॉड में शामिल एक लैब्राडॉर डॉग की मदद से पुलिस हत्यारे तक पहुंची जिसने 6 साल के मासूम बच्चे के साथ पहले दरिंदगी की फिर गला घोंटकर मार डाला। इसके बाद वहां से भाग गया। पुलिस ने आरोपी को दिल्ली के मंडोली इलाके से श्मशाम घाट के पास से अरेस्ट किया।

अगस्त 2017 में उत्तरपूर्वी दिल्ली में एक छह साल के लड़का अपने घर जाते समय लापता हो गया। उसके पिता, एक चाय दुकान के मालिक ने दिल्ली पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसके बाद आरोपियों का पता लगाने के लिए कई टीमों का गठन किया गया। अगले दिन दोपहर को नाबालिग का शव कुछ दूरी पर स्थित एक नर्सरी के अंदर मिला, उसके गले पर निशान थे। मेडिकल जांच में पता चला कि हत्या से पहले लड़के के साथ कुकर्म किया गया था।

लगभग एक महीने तक, पुलिस के अपराधी के बारे में कोई सुराग नहीं था। पुलिस की घर-घर जाकर तलाशी बेनतीजा रही और जिस क्षेत्र से लड़का लापता हुआ था, वह ब्लैक स्पॉट था, इसलिए वहीं सीसीटीवी फुटेज मिलने की गुंजाइश नहीं थी। लगभग तीन हफ्ते बाद, एक सितंबर को, दिल्ली पुलिस के K9 दस्ते में तैनात 10 वर्षीय लैब्राडोर डॉग विनेश को घटनास्थल पर ले जाया गया। बाद में, घटना के समय मृत लड़के ने जो कपड़े पहने हुए थे, उसने उन्हें सूंघा।

एक अधिकारी ने कहा, 'मृतक के कपड़ों में लगी धूल सूंघने के बाद, विनेश तुरंत पुलिस टीम को इलाके के एक निर्माणाधीन स्थल पर ले गए, जहां उसने सिक्योरिटी गार्ड के कमरे को सूंघना शुरू कर दिया।' पुलिस टीम ने जब साइट के सुपरवाइजर से पूछताछ की, तो उसने बताया कि गार्ड 40 वर्षीय राम निवास, घटना के दिन 11 अगस्त से लापता है। पुलिस ने उसे उसके गृहनगर बरेली में ढूंढा लेकिन वह वहां नहीं मिला। फिर एक गुप्त सूचना के आधार पर उसे दिल्ली के मंडोली से गिरफ्तार किया गया।

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसकी पीड़ित के एक रिश्तेदार से दोस्ती थी और वह अपनी-अपनी शिफ्ट के बाद निर्माण स्थल पर उसके साथ शराब पीता था। 11 अगस्त को जब पूरे दिन निर्माण कार्य बंद था, निवास ने फिर से अपने दोस्त के साथ शराब पी, जो रात 8 बजे के आसपास वहां से चला गया। तत्कालीन डीसीपी (पूर्वोत्तर) एके सिंगला ने बताया, 'लगभग 8.15 बजे, नशे की हालत में आरोपी ने लड़के को अपने घर की ओर जाते देखा और उसे अपने पास बुलाया। उसने नाबालिग लड़के के साथ कुकर्म किया और जब उसने पिता से शिकायत करने की धमकी दी, तो उसने उसका गला घोंट दिया और भागने से पहले उसे घटनास्थल से लगभग दो किलोमीटर दूर एक नर्सरी में फेंक दिया।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें