ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRगाजियाबाद में छह साल की मासूम से दुष्कर्म करने वाले का स्केच जारी, पुलिस की छह टीमें जांच में जुटीं

गाजियाबाद में छह साल की मासूम से दुष्कर्म करने वाले का स्केच जारी, पुलिस की छह टीमें जांच में जुटीं

Ghaziabad News: साहिबाबाद थाना क्षेत्र में मासूम के साथ दरिंदगी करने के बाद हत्या करने वाला अपराधी जल्दी गिरफ्तार हो सकता है। पुलिस लगभग घटना के अनावरण के पास पहुंच चुकी है। पढ़ें यह रिपोर्ट...

गाजियाबाद में छह साल की मासूम से दुष्कर्म करने वाले का स्केच जारी, पुलिस की छह टीमें जांच में जुटीं
Krishna Singhभाषा,गाजियाबादTue, 06 Dec 2022 12:05 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

यूपी के गाजियाबाद जिले के साहिबाबाद थाना इलाके से छह साल की बच्ची का कथित तौर पर अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म करने और उसकी हत्या करने वाले आरोपी का पुलिस ने सोमवार को स्केच जारी किया है। पुलिस ने बताया कि अपने घर के बाहर खेलते हुए लापता हुई बच्ची का शव दो दिसंबर की सुबह उसके घर से 30 मीटर दूरी से बरामद किया गया था। डॉक्टरों के एक पैनल द्वारा बच्ची के पोस्टमॉर्टम से पुष्टि हुई कि हत्या से पहले उसके साथ दुष्कर्म किया गया था। बच्ची के जननांगों पर चोट के निशान पाए गए थे। 

पुलिस ने कहा कि  भारतीय दंड संहिता और पॉक्सो अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। पड़ोसियों से जानकारी लेने और सीसीटीवी फुटेज की निगरानी के बाद पुलिस ने आरोपी का एक स्केच जारी किया है। छह टीमें आसपास के इलाकों और अपराधी के संभावित ठिकानों पर छापा मार रही हैं। पुलिस अब तक 36 से ज्यादा संदिग्धों से पूछताछ कर चुकी है। 

पुलिस ने कहा कि कुछ और संदिग्धों को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है, जो स्केच से मिलते-जुलते हैं या जिनकी हरकत इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई है। पुलिस ने कहा कि इससे पहले उसके पिता ने साहिबाबाद थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने इस शिकायत में कहा था कि उनकी बेटी जो घर के बाहर खेल रही थी जो लापता हो गई है।

एसपी ट्रांस हिंडन ज्ञानेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने दुष्कर्म, हत्या और पॉक्सो एक्ट की धारा बढ़ाई थी। घटना के खुलासे के लिए छह टीमों को लगाया गया है। टीमों द्वारा सीसीटीवी फुटेज व सर्विलांस के माध्यम से संदिग्धों को चिन्हित कर सत्यापन कराया जा रहा है। राहगीरों से जानकारी जुटा आरोपी का स्केच तैयार किया गया है। मासूम के गुनहगार को शीघ्र ही कानून के शिकंजे में लाया जाएगा। पुलिस लगभग घटना के अनावरण के पास पहुंच चुकी है।