ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRपरिवार के 6 लोगों ने काट लीं हाथ की नसें, कर्ज में डूबे व्यापारी का खौफनाक कदम

परिवार के 6 लोगों ने काट लीं हाथ की नसें, कर्ज में डूबे व्यापारी का खौफनाक कदम

दिल्ली से सटे फरीदाबाद में सूदखोरी से तंग आकर पूरे परिवार ने एक साथ खुदकुशी की कोशिश की। परिवार के छह लोगों ने अपने हाथ की नस काट ली। इनमें से एक की मौत हो गई और 5 अस्पताल में भर्ती हैं।

परिवार के 6 लोगों ने काट लीं हाथ की नसें, कर्ज में डूबे व्यापारी का खौफनाक कदम
lakhisarai school girl suicide after lover reached home to meet her parents angry bihar police case
Sudhir Jhaहिन्दुस्तान,फरीदाबादFri, 24 May 2024 02:41 PM
ऐप पर पढ़ें

फरीदाबाद के सेक्टर-37 में रह रहे देशी घी और खाद्य तेल के एक व्यापारी ने गुरुवार रात पूरे परिवार के साथ हाथ का नस काटकर आत्महत्या का प्रयास किया। देर रात मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची सराय ख्वाजा थाना की पुलिस ने परिवार के सभी छह सदस्यों को गंभीर हालत में इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान एक की मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान 70 वर्षीय श्याम गोयल के रूप में हुई है। अस्पताल में उनकी पत्नी 67 वर्षीय साधाना गोयल, श्याम गोयल का बेटा 45 वर्षीय बेटा अनिरुद्ध गोयल, अनिरुद्ध गोयल की 42 वर्षीय पत्नी निधि गोयल, अनिरुद्ध गोयल का 19 वर्षीय बेटा धनंजय गोयल और हिमांक गोयल की हालत अस्पताल में गंभीर बनी है। पुलिस को प्राथमिक जांच में जानकारी मिली है कि इनका दिल्ली के चांदनी चौक स्थित खारी बाबली में देशी घी और खाद्य तेल का कारोबार है। उन्होंने दिल्ली में किसी से कर्ज लिया था। 

गुरुवार रात करीब  पौने 12 बजे कर्ज वसूली के तीन युवक कार से आए। वह अंदर जाने का प्रयास किया तो घर में मौजूद विदेशी नस्ल के कुत्तों ने उनपर हमला कर दिया। इस बाबत उन्होंने घर के दरवाजे को खोलने का प्रयास किया। बताया जा रहा है कि उन्होंने दरवाजा भी तोड़ दिया। लेकिन अंदर जाने में असफल रहने बाद उन्होनें सुरक्षा कर्मी को अगवा कर कार में बिठा लिया और वहां से उसे दिल्ली के लाजपत नगर लेकर गए। वहां सुरक्षाकर्मी को वहीं छोड़कर फरार हो गए। सुरक्षाकर्मी किसी तरह वहां से वापस सेक्टर-17 कोठी पर पहुंचा तो देखा कि वहां पुलिस मौजूद थी। उन्होंने जानकारी पुलिस को दी। 

दोस्त नहीं पहुंचता तो सभी की हो जाती मौत 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार घायल अनिरुद्ध गोयल का एक दोस्त उन्हें काफी समय से फोन कर रहा था। जब वह फोन नहीं उठाया तो आशंका में वह उसके घर पहुंचा तो देखा कि सभी खून से लथपथ हैं। इसके बाद उन्होंने शोर मचाते हुए पहले पड़ोसियों को जगाया, फिर डायल-112 पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मृतक श्याम गोयल के शव को कब्जे में लेकर बीके अस्पताल में सुरक्षित रखवा दिया है। थाना प्रभारी सराय ख्वाजा के प्रभारी ने बताया कि साधना गोयल और निधि गोयल की हालत गंभीर बनी है। पुलिस जांच में जुटी है।