DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूडान से आई बहन ने अपनी किडनी देकर बचाई छोटे भाई की जान

भाई जहां अपनी बहन की रक्षा करने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार रहते हैं, वहीं बहन भी विपत्ति में भाई के साथ खड़ी रहती है। इसमें एक दूसरे की जान बचाने के लिए अंगदान करने से भी पीछे नहीं हटते हैं। सूडान निवासी 35 वर्षीय अब्दुल अहमद और उनकी 42 वर्षीय बहन हविदा अहमद ने ऐसा ही रिश्तों को और मजबूत करने वाल कदम उठाया है। यहां बहन ने किडनी देकर भाई की जान बचाई है। 

जुलाई में आए थे भारत

दिल्ली से सटे फरीदाबाद के एशियन अस्पताल में जुलाई के प्रथम सप्ताह में दोनों मेडिकल वीजा पर आए थे। अब्दुल अहमद को किडनी की शिकायत के साथ उच्च रक्तचाप, कमजोरी, शरीर में सूजन और खून की कमी शिकायत थी। उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां जांच के बाद डॉक्टरों की टीम ने किडनी प्रत्यारोपण का सलाह दी। लेकिन अब्दुल अहमद का वजन सौ किलोग्राम से ज्यादा होने के कारण उनका किडनी प्रत्यारोपण करना किसी चुनौती से कम नही था। सूडान के डॉक्टरों ने उनका किडनी प्रत्यारोपण करने से इंकार कर दिया था। इसके वह पिछले एक वर्षों से डायलेसिस पर थे। उसके बाद वह मेडिकल वीजा पर भारत आए। इस दौरान उन्होंने निजी अस्पतालों में उपचार के लिए भटकते रहे। वजन ज्यादा होने के कारण कई डॉक्टरों ने इंकार कर दिया था। जुलाई के प्रथम सप्ताह वह एशियन अस्पताल में आए थे, इस दौरान उन्होंने कई प्रकार की जांच करवाई।

15 दिन पहले प्रत्यारोपण हुआ

एशियन अस्पताल के किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. रितेश शर्मा ने बताया कि मरीज के पैरों में सूजन थी। इसके साथ ही उन्हें उच्च रक्तचाप सहित कई अन्य समस्याएं थी। उन्हें कुछ दिनों तक दवाईयों पर रखा गया था। उसके बाद खून के नमूने लेकर भाई और बहन की किडनी को क्रॉस मैच कराया गया। जांच के दौरान शत दोनों की किडनी शत प्रतिशत मिलान कर गई।

भाई-बहन पूरी तरह स्वस्थ्य

उनका दावा है कि प्रत्यारोपण के बाद भाई-बहन पूरी तरह स्वस्थ्य है। अब उन्हें विशेषज्ञ डॉक्टर के देखरेख में रखा गया है। उन्हें दो महीने के बाद सुड़ान भेज दिया जाएगा। किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. बीके उपाध्या का कहना है कि किडनी प्रत्यारोपण से पहले वह कई जगहों पर उपचार करवा चुके थे। मरीज का वजन ज्यादा होने से थोड़ी परेशानी हुई लेकिन यह प्रत्यारोपण टीम के लिए एक चुनौती थी। अब मरीज बिल्कुल ठीक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sister gave new life to brother by giving her kidney