ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRनोएडा में बाउंड्रीवॉल तोड़ सोसायटी में जा घुसी बस; एक युवक की मौत, दो घायल

नोएडा में बाउंड्रीवॉल तोड़ सोसायटी में जा घुसी बस; एक युवक की मौत, दो घायल

नोएडा के सेक्टर 118 में स्थित श्रीराम अपार्टमेंट की बाउंड्रीवॉल तोड़कर एक बस अंदर जा घुसी। मंगलवार को हुए इस हादसे में एक युवक की मौत गई, वहीं दो युवक घायल हैं, जिनमें से एक की हालत गंभीर है।

नोएडा में बाउंड्रीवॉल तोड़ सोसायटी में जा घुसी बस; एक युवक की मौत, दो घायल
Sourabh Jainलाइव हिंदुस्तान,नोएडाTue, 11 Jun 2024 10:39 PM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा के सेक्टर-118 में मंगलवार शाम करीब 7 बजे एक दर्दनाक हादसा हो गया। यहां स्थित श्रीराम अपार्टमेंट हाउसिंग सोसायटी की दीवार को तोड़कर एक बस अंदर घुस गई। इस दौरान दीवार के किनारे मोमोज के ठेले पर काम करने वाले तीन नेपाली युवक बस की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे में घायल एक युवक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि अन्य दोनों घायलों का इलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा है। हादसे के बाद चालक बस को छोड़कर मौके से फरार हो गया।

जिस बस से हादसा हुआ घटना के समय उसमें 25 लोग बैठे हुए थे। मृतकों के परिजनों ने अभी तक पुलिस से मामले की शिकायत नहीं की है। शिकायत मिलने के बाद पुलिस इस मामले में आगे कार्रवाई करने की बात कह रही है। एडिशनल डीसीपी मनीष कुमार मिश्र ने बताया कि सोसायटी की दीवार के किनारे मथुरा के भगत सिंह मोमोज का ठेला लगाते हैं। ठेले पर नेपाल के दीपक, सुशील और पवन काम करते हैं। 

सोमवार छह बजकर 54 मिनट पर तीनों जब ठेले पर मौजूद थे तभी एक कमर्शियल बस ठेले में टक्कर मारते हुए दीवार के अंदर घुस गई। हादसे में 32 वर्षीय दीपक और 20 वर्षीय सुशील गंभीर रूप से घायल हो गए। दीपक की मौके पर ही मौत हो गई। पवन को भी मामूली चोट आई हैं। 

स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया।  सुशील की हालत गंभीर बनी हुई है। फरार बस चालक की तलाश में दो टीमें गठित की गई हैं। स्थानीय लोगों के मुताबिक हादसे के समय बस चालक शराब के नशे में था। हालांकि इसकी पुष्टि अभी तक पुलिस की ओर से नहीं की गई है। 

बस के नीचे लहूलुहान अवस्था में फंसे घायलों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं। हादसे की सूचना मिलते ही डीसीपी नोएडा विद्यासागर मिश्र और एडिशनल डीसीपी मनीष कुमार मिश्र समेत अन्य अधिकारी पुलिसबल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। हादसे वाली बस का रजिस्ट्रेशन नंबर UP16HT8037 है और वह अवाना टू ऐंड ट्रेवल्स की बताई जा रही है। 

हादसे के बाद मची अफरातफरी

बस चालक द्वारा नेपाली नागरिकों को कुचलने की घटना के बाद अफरातफरी मच गई। चीख पुकार सुनकर सोसायटी के लोग तुरंत बाहर निकल गए। खून के धब्बे सड़क और बस पर बिखरे पड़े थे। हादसा इतना जोरदार था कि दीपक और सुशील ठेले समेत बस के अंदर घसीटते हुए करीब 20 मीटर तक चले गए। जिस समय हादसा हुआ उस समय बस की स्पीड सौ किलोमीटर प्रतिघंटे के आसपास बताई जा रही है। अवाना टूर एंड ट्रैवल्स की बस किसी कंपनी के कर्मचारियों को घर से कंपनी लाने और ले जाने के लिए लगी हुई थी। शाम को बस कुछ लोगों को लेकर सेक्टर-117 से सेक्टर-118 की तरफ आ रही थी। जैसे ही श्रीराम अपार्टमेंट के निकट पहुंची तो अनियंत्रित बस मोमोज बेचने वाले  नेपाली युवकों को कुचलते हुए दीवार तोड़कर सोसायटी में जा घुसी। चालक उतरकर मौके से भाग गया। 

शादीशुदा था मृतक, एक बेटी भी है

स्थानीय लोग घायलों को बचाने के लिए दौड़े तो देखा कि दीपक और सुशील लहूलुहान हालत में बस के नीचे फंसे हुए थे। हादसे में दीपक और सुशील के अलावा उनके साथ काम करने वाले पवन के घायल होने की भी खबर है। दीपक, सुशील और पवन तीनों सोरखा गांव में किराये का कमरा लेकर रहते हैं। घटनास्थल पर मौजूद सुनील ने बताया कि वह भी नेपाल के रहने वाले हैं और सोरखा गांव में दीपक, सुशील और पवन के साथ रहते हैं। हादसे की सूचना मिलते ही सुनील अस्पताल की ओर दौड़ पड़े। उन्होंने बताया कि सुशील चार दिन पहले ही नेपाल से परीक्षा देकर लौटा है, जबकि दीपक की शादी हो चुकी है। उसकी आठ वर्ष की एक बेटी भी है। मृतक के परिजनों को भी हादसे की जानकारी दे दी गई है। 

 

बाल-बाल बचे ठेले के पास खड़े दंपति
घटनास्थल पर मौजूद मीना ने बताया कि जिस ठेले पर दीपक समेत अन्य युवक काम करते हैं, वह उनके पति भगत सिंह का ही है। जिस समय हादसा हुआ मीना वहीं पर पति के साथ मौजूद थीं। एक व्यक्ति से बातचीत करने के लिए भगत और मीना ठेले से थोड़ी दूर चले गए। इसी समय बस आई और युवकों को कुचलकर दीवार तोड़कर अंदर घुस गई। अगर एक मिनट पहले बस आती तो दंपति भी इसकी चपेट में आ जाते। दंपति का कहना है कि दीपक और सुशील के साथ उनके यहां काम करने वाला पवन भी घायल है। 

यातायात हुआ बाधित
हादसे के बाद घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जुटने के कारण अल्प समय के लिए यातायात बाधित हो गया। पुलिसकर्मियों के पहुंचने के बाद यातायात सामान्य हो गया। बस में हादसे के समय कौन-कौन सवार था पुलिस इसकी भी जानकारी जुटा रही है। पुलिस का दावा है कि बस में सवार किसी भी सवारी को चोट नहीं आई है। नेपाली युवकों को टक्कर मारती बस की तस्वीरें घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई हैं।