DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस मॉडल पर आ गया था पति का दिल, पत्नी ने अपनी डायरी में किया था जिक्र

मॉडल एंजेल गुप्ता

1 / 2मॉडल एंजेल गुप्ता

मृतका सुनीता, पति मंजीत, मॉडल एंजेल गुप्ता

2 / 2मृतका सुनीता, पति मंजीत, मॉडल एंजेल गुप्ता

PreviousNext

बवाना में 29 अक्टूबर को बाइक सवारों द्वारा गोली मारकर की गई स्कूल टीचर सुनीता की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। टीचर की हत्या उसके पति मंजीत ने अपनी मॉडल प्रेमिका से शादी रचाने के लिए 10 लाख रुपये की सुपारी देकर कराई थी। इस मामले में पुलिस आरोपी पति मंजीत, उसकी मॉडल प्रेमिका एंजेल, प्रेमिका के मुंह बोले पिता राजीव और ममेरे भाई दीपक को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं, भाड़े के दो हत्यारों की तलाश की जा रही है। 

भाई ने शूटरों से संपर्क कराया : पुलिस के मुताबिक, मेरठ के नानू गांव का रहने वाला दीपक बीते दस सालों से एंजेल के मुंह बोले पिता राजीव गुप्ता के यहां चालक के तौर पर काम कर रहा था। एक दिन बातों-बातों में राजीव ने दीपक से मंजीत की पत्नी सुनीता को रास्ते से हटाने की बात कही। इसके बाद दीपक ने मेरठ के एक शख्स के जरिए जानी गिरोह के शूटरों से संपर्क साधा और बाद में इनकी मुलाकात मंजीत से कराई। शूटरों ने हत्या के लिए 18 लाख रुपये की मांग की, लेकिन अंत में सौदा दस लाख रुपये में तय हुआ। 

पति ने प्रेमिका से शादी करने को कराई थी पत्नी की हत्या

हत्यारों को पेशगी के तौर पर ढाई लाख रुपये दिए : राजीव गुप्ता ने पेशेवर हत्यारों को पेशगी के तौर पर ढाई लाख रुपये दिए थे और बाकी रकम काम होने के बाद देने की बात तय हुई थी। हत्या से 15 दिन पहले दोनों हत्यारों के साथ दीपक, मंजीत और एंजेल ने कार से सुनीता की रेकी की। भाड़े के हत्यारों ने बकायदा हत्या की रिहर्सल भी की थी। इसी मकसद से उन्होंने एंजेल को स्कूटी से सुनीता की तरह हरियाणा भेजा था। सारी योजना बनाने के बाद उन्होंने करवाचौथ से अगला दिन हत्या के लिए तय किया।

पत्नी की पल-पल की जानकारी देता रहा : वारदात वाली सुबह जब शिक्षिका सुनीता स्कूटी से अपने घर से स्कूल जाने के लिए निकली तो मंजीत ने इसकी सूचना शूटरों को दे दी। इस दौरान दीपक और राजीव भी घटनास्थल के आसपास मौजूद थे, जो शूटरों के संपर्क में थे। दरियापुर पुलिस चौकी के पास दोनों शूटर पहले से ही सुनीता का इंतजार कर रहे थे। सुनीता के आते ही उन्होंने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी और वहां से फरार हो गए।

मॉडल एंजेल गुप्ता

कई एल्बम में काम कर चुकी है मॉडल

जांच में मालूम हुआ कि एंजेल कई प्रसिद्ध गायिकाओं के म्यूजिक एल्बम में आइटम नंबर कर चुकी है। करीब पांच साल तक उसने मुंबई में विभिन्न कंपनियों के लिए मॉडलिंग की थी, लेकिन बाद में काम नहीं मिला तो वह दिल्ली आ गई।

डिस्को में हुई थी मुलाकात

पुलिस पूछताछ में मंजीत ने बताया कि दिसंबर 2012 में एक डिस्को में मॉडल एंजेल गुप्ता से उसकी मुलाकात हुई थी। धीरे-धीरे उनकी दोस्ती प्रेम में बदल गई। जब सुनीता को इस रिश्ते की जानकारी मिली तो वह विरोध करने लगी। एंजेल और मंजीत दोनों शादी करना चाहते थे। इस काम में एंजेल के मुंहबोले पिता राजीव ने भी उनका साथ दिया।

डायरी में अवैध संबंध के राज से पोल खुली

स्कूल टीचर हत्याकांड के आरोपी पति ने बड़े ही शातिराना ढंग से वारदात को अंजाम दिया था, मगर पुलिस घटना की कड़ी से कड़ी जोड़कर आखिरकार हत्यारोपी पति तक पहुंचने में कामयाब हो ही गई। पुलिस पूछताछ में सुनीता के मायकेवालों ने भी पति मंजीत पर ही हत्या का शक जताया था। इसी दौरान पुलिस को सुनीता के हाथ से लिखी डायरी मिली, जिसमें मंजीत के अवैध संबंधों का जिक्र था। तकनीकी जांच में भी पुलिस को हत्या के पीछे मंजीत का हाथ होने के सबूत मिले। इसी आधार पर पुलिस ने गुरुवार को मंजीत को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। 

जब सबूतों से आमना-सामना कराया गया तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। इसके बाद गुरुवार को ही एंजेल और राजीव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, जबकि इनकी निशानदेही पर शुक्रवार को दीपक की गिरफ्तारी हुई। बता दें कि बवाना गांव निवासी स्कूल टीचर सुनीता की 29 अक्टूबर को स्कूल जाते समय गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या का केस दर्जकरने के बाद मामले की जांच के लिए एसीपी बवाना सौरभ चंद्रा की देखरेख में बवाना एसएचओ धर्मदेव, स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर अजय एवं एसआई अजय की टीमें गठित की गई थीं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:School Teacher murder case solved Four arrested including husband and Model angel gupta