ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRलोग गिर कर मर जा रहे, कोविशील्ड के साइडइफैक्ट पर सरकार दे सफाई, सौरभ भारद्वाज ने केंद्र को घेरा

लोग गिर कर मर जा रहे, कोविशील्ड के साइडइफैक्ट पर सरकार दे सफाई, सौरभ भारद्वाज ने केंद्र को घेरा

सौरभ भारद्वाज ने मंगलवार को कहा कि करोड़ों लोगों ने कोविशील्ड वैक्सीन लगवाई थी। ऐसे में केंद्र सरकार को कोविशील्ड वैक्सीन के कथित दुष्प्रभावों से जुड़ी चिंताओं को तुरंत दूर करना चाहिए।

लोग गिर कर मर जा रहे, कोविशील्ड के साइडइफैक्ट पर सरकार दे सफाई, सौरभ भारद्वाज ने केंद्र को घेरा
Krishna Singhभाषा,नई दिल्लीTue, 30 Apr 2024 08:52 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने मंगलवार को कहा कि केंद्र सरकार को कोविशील्ड वैक्सीन के कथित दुष्प्रभावों से जुड़ी चिंताओं को तुरंत दूर करना चाहिए। हमने हाल में सोशल मीडिया पर कई वीडियो देखे हैं जिनमें लोगों को तुरंत बाद गिरते और फौरन मौत होते देखा जा सकता है। कोरोना महामारी से पहले ऐसा नहीं होता था। कई लोग कोविड टीके से इसे जोड़कर देख रहे हैं। यह काफी चिंता का विषय है। इससे तनाव फैल सकता है। केंद्र सरकार को इस मसले पर तुरंत बयान देना चाहिए। 

सौरभ भारद्वाज ने कोविशील्ड वैक्सीन के दुष्प्रभाव और भारत में सिलसिलेवार रूप से अचानक होने वाली मौतों के बीच कथित संबंध को लेकर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि भारत में करोड़ों लोगों को कोविड महामारी के दौरान यह टीका लगाया गया था। ब्रिटेन की फार्मास्युटिकल कंपनी एस्ट्राजेनेका ने भी माना है कि इसका कोविड टीका रक्त के थक्के जमाने संबंधी दुष्प्रभाव उत्पन्न कर सकता है। हालांकि इनके बीच कोई संबंध होने की जानकारी नहीं है। ब्रिटेन के एक अखबार ने अदालती दस्तावेज के हवाले से यह दावा किया है।

भारद्वाज ने दावा किया कि कोविशील्ड के सुरक्षित होने संबंधी आशंकाओं के चलते यह टीका जर्मनी, फ्रांस, स्पेन, फिनलैंड, नार्वे और डेनमार्क सहित कई यूरोपीय देशों में शुरू से ही प्रतिबंधित है। 'द डेली टेलीग्राफ' की रिपोर्ट के अनुसार, 51 वादियों की ओर से एक सामूहिक कार्रवाई के अनुरोध पर फरवरी में लंदन स्थित हाईकोर्ट में एक कानूनी दस्तावेज सौंपा गया था। इसमें एस्ट्राजेनेका ने माना था कि ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय की वैक्सीन दुर्लभ मामलों में रक्त के थक्के जमा सकती है। यह प्लेटलेट की संख्या भी घटा सकती है।

सौरभ भारद्वाज ने कहा- केंद्र सरकार को इस टीके के कथित दुष्प्रभाव से जुड़ी चिंताओं को तुरंत दूर करना चाहिए क्योंकि भारत में करोड़ों लोगों को यह टीका लगाया गया है। जान गंवाने वाले ज्यादातार लोग युवा थे। सरकार को इस बारे में विचार करना चाहिए कि यदि लोग दुष्प्रभावों का सामना कर रहे हैं तो इसे कैसे रोका जा सकता है। बता दें कि 'द डेली टेलीग्राफ' की रिपोर्ट को लेकर देश में सियासत गर्म है। सपा नेता शिवपाल यादव ने कहा कि भाजपा ने वैक्सीन में भी कमीशन लिया है। पूरी पोल खुल चुकी है।