ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRसंजय और सिसोदिया को रिहा करो वरना करेंगे प्रदर्शन, संसद सत्र से पहले बोले AAP सांसद

संजय और सिसोदिया को रिहा करो वरना करेंगे प्रदर्शन, संसद सत्र से पहले बोले AAP सांसद

संजय सिंह औऱ दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया दोनों ही आप नेता दिल्ली के कथित आबकारी नीति घोटाले में जेल में बंद हैं। हालांकि, आम आदमी पार्टी अपने नेताओं पर लगे आरोपों को गलत बताती रही है।

संजय और सिसोदिया को रिहा करो वरना करेंगे प्रदर्शन, संसद सत्र से पहले बोले AAP सांसद
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 04 Dec 2023 11:48 AM
ऐप पर पढ़ें

संसद के शीतकालीन सत्र का आगाज हो चुका है। सत्र के शुरू होने से पहले ही आम आदमी पार्टी ने अपना इरादा साफ कर दिया है। आप के सांसद सुशील गुप्ता ने कहा, 'संसद में हम मांग उठाएंगे कि संजय सिंह और मनीष सिसोदिया को रिहा किया जाए वरना हम प्रदर्शन करेंगे।' आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह और दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया दिल्ली के कथित आबकारी नीति घोटाले में आरोपी हैं और अभी जेल की हवा खा रहे हैं।

इससे पहले सोमवार को शीतकालीन सत्र से पहले कांग्रेस अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जु्न खरगे के संसद भवन स्थित कक्ष में हुई बैठक में शामिल हुए। खरगे के अलावा लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश, तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओब्रायन एवं सुदीप बंदोपाध्याय, द्रमुक के नेता टी आर बालू, आम आदमी पार्टी के राघव चड्ढा और समाजवादी पार्टी के एसटी हसन तथा कुछ अन्य विपक्षी नेता शामिल हुए। इस बैठक में संसद के अंदर मोदी सरकार को घेरने की ऱणनीति पर चर्चा हुई।

आम आदमी पार्टी शुरू से ही आरोप लगाती रही है कि केंद्र सरकार जांच एजेंसियों का गलत इस्तेमाल करती आई है। आम आदमी पार्टी के सभी नेता दिल्ली में किसी भी तरह के शराब घोटाले और उसमें पार्टी नेताओं के शामिल होने के आरोप से इनकार करते रहे हैं। शराब घोटाले की जांच सीबीआई और ईडी दोनों ही एजेंसियां कर रही हैं।

सत्र को लेकर पीएम ने की अपील...

इधर पीएम मोदी ने सोमवार को विपक्षी दलों से आग्रह किया कि संसद के शीतकालीन सत्र में वे, विधानसभा चुनावों में मिली पराजय का गुस्सा ना निकालें बल्कि उससे सीख लेते हुए नकारात्मकता को पीछे छोड़ें और सकारात्मक रूख के साथ आगे बढ़ें। सत्र के पहले दिन मीडिया को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि यदि विपक्षी दल 'विरोध के लिए विरोध' का तरीका छोड़ दें और देश हित में सकारात्मक चीजों में साथ दें तो देश के मन में उनके प्रति आज जो नफरत है, हो सकता है वह मोहब्बत में बदल जाए।

चार राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजों को 'बहुत ही उत्साहवर्धक' करार देते हुए उन्होंने कहा, ''देश ने नकारात्मकता को नकारा है। सत्र के प्रारंभ में विपक्ष के साथियों के साथ हमारा विचार-विमर्श होता है। हमारी टीम उनसे चर्चा करती है। मिलकर के  सबके सहयोग के लिए हम हमेशा प्रार्थना करते हैं। इस बार भी इस प्रकार की सारी प्रक्रियाएं कर ली गई हैं।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें