DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › सागर राणा मर्डर केस में दिल्ली पुलिस ने दाखिल की 170 पन्नों की चार्जशीट, पहलवान सुशील कुमार को बनाया मुख्य आरोपी
एनसीआर

सागर राणा मर्डर केस में दिल्ली पुलिस ने दाखिल की 170 पन्नों की चार्जशीट, पहलवान सुशील कुमार को बनाया मुख्य आरोपी

नई दिल्ली। हिन्दुस्तान टीम Published By: Praveen Sharma
Mon, 02 Aug 2021 03:14 PM
सागर राणा मर्डर केस में दिल्ली पुलिस ने दाखिल की 170 पन्नों की चार्जशीट, पहलवान सुशील कुमार को बनाया मुख्य आरोपी

छत्रसाल स्टेडियम में हुई 23 वर्षीय जूनियर पहलवान सागर राणा की हत्या मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार को रोहिणी कोर्ट में 170 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की है। चार्जशीट में ओलंपिक पदक विजेता अंतर्राष्ट्रीय पहलवान सुशील कुमार को मुख्य आरोपी बनाया गया है।

जानकारी के अनुसार, क्राइम ब्रांच की इस पहली चार्जशीट में पहलवान सुशील कुमार समेत करीब 20 आरोपियों के नाम शामिल हैं। मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट सतवीर सिंह लाम्बा की अदालत में दायर की गई चार्जशीट में पुलिस ने कहा  है ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार इस हत्याकांड में मुख्य आरोपी हैं। अब तक 15 आरोपी पुलिस गिरफ्त में आ चुके हैं, जबकि पांच फरार हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में चार मई की रात दिल्ली के मॉडल टाउन थाने के इलाके में पहलवान सुशील और उसके साथियों ने कथित तौर पर एक फ्लैट से सागर राणा और उसके दोस्तों सोनू महाल और अमित कुमार का अपहरण कर लिया था और फिर छत्रसाल स्टेडियम में ले जाकर उनकी बेरहमी से पिटाई की थी। इसमें सागर बुरी तरह घायल हो गया था और इलाज के दौरान सागर की मौत हो गई थी।

पुलिस सुशील कुमार को इस कथित हत्या का मुख्य अपराधी और मास्टरमाइंड बता रही है। पुलिस का कहना है कि उसके पास इलेक्ट्रॉनिक सबूत हैं जिसमें उन्हें और उनके साथियों को सागर को लाठी से पीटते देखा जा सकता है। सुशील कुमार को 23 मई को मुंडका इलाके से गिरफ्तार किया गया था। सुशील फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच छत्रसाल स्टेडियम में हुए विवाद से संबंधित मामले की जांच कर रही है। 

अब तक 15 आरोपी गिरफ्तार

सागर हत्या मामले में अब तक कुल 15 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। पुलिस ने मौके से एक आरोपी प्रिंस को घटना वाले दिन ही दबोच लिया था, जबकि इसके बाद सुशील कुमार और अजय को स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया था। वहीं असौदा-बवाना गैंग के चार अन्य बदमाशों भूपेंद्र उर्फ भूपी, मोहित उर्फ भोली, गुलाब उर्फ पहलवान और मनजीत उर्फ चुन्नीलाल को गिरफ्तार किया था। फिर विरेंदर उर्फ विंदर और रोहित करोर को पुलिस ने दबोचा। वहीं 11 जून को सोनीपत के अनिरुद्ध नाहरी नाम के एक पहलवान की गिरफ्तारी हुई। इस मामले में 11वें आरोपी जूडो कोच सुभाष को 15 जून को दबोचा गया, जबकि 26 जून को जूनियर पहलवान गौरव को गिरफ्तार किया गया। 

संबंधित खबरें