ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRरिफा के प्यार में छिपा था धोखा, रोमांस के बहाने हनीट्रैप का गंदा खेल; गैंग में बॉयफ्रेंड भी शामिल

रिफा के प्यार में छिपा था धोखा, रोमांस के बहाने हनीट्रैप का गंदा खेल; गैंग में बॉयफ्रेंड भी शामिल

ग्रेटर नोएडा पुलिस ने हनीट्रैप गैंग के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरोह में शामिल लड़कियां प्यार के जाल में फंसाकर लड़कों को मिलने बुलाती थी। फिर दूसरे सदस्य डरा-धमकाकर पीड़ित से पैसे ऐंठते थे।

रिफा के प्यार में छिपा था धोखा, रोमांस के बहाने हनीट्रैप का गंदा खेल; गैंग में बॉयफ्रेंड भी शामिल
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,ग्रेटर नोएडाThu, 13 Jun 2024 09:57 AM
ऐप पर पढ़ें

ग्रेटर नोएडा सेक्टर बीटा-2 पुलिस ने लोगों को हनीट्रैप में फंसाकर लाखों रुपये वसूलने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर दो युवती समेत छह आरोपियों को गिरफ्तार किया। उनके पास से एक गाड़ी बरामद हुई है। आरोपी युवती मोबाइल पर लोगों को अपने प्रेम जाल में फंसाती थीं। उन्हें मिलने बुलाती थीं। फिर पीछे से युवती का ब्वॉयफ्रेंड परिवार का सदस्य बनकर मौके पर पहुंचता और दुष्कर्म का मुकदमा करने की धमकी देता था।

सेक्टर बीटा-2 थाना प्रभारी ने बताया कि गिरफ्त में आए आरोपियों की पहचान राज चौधरी उर्फ हसीन मौहम्मद निवासी आगरा, भूपेंद्र सिंह निवासी आगरा, फैजान अहमद निवासी कारल मैनपुरी, राहुल कुमार निवासी कबीरगंज इटावा, संजना यादव निवासी इटावा, रिफा उर्फ रूस्तम निवासी बरेली के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों को परी चौक गोल चक्कर के पास से गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त कार, पांच आधार कार्ड, चार एटीएम कार्ड बरामद हुए।

मुरादाबाद के युवक को फंसाकर ग्रेटर नोएडा बुलाया 

हनीट्रैप गिरोह की सदस्य रिफा ने मुरादाबाद के रहने वाले असादुर रहमान निवासी को फोन पर बात कर अपने जाल मे फंसाया। उसके बाद 10 जून को मिलने के बहाने सेक्टर पी-3 गोल चक्कर के पास बुलाया। असादुर रहमान अपने मित्र निजाम के साथ अपनी कार से रिफा से मिलने पहुंच गया। रिफा ने यह जानकारी अपने ब्वॉयफ्रेंड राज चौधरी को दी। वह कार से अपने साथियों संजना यादव, भूपेंद्र सिंह, फैजान अहमद और राहुल कुमार के साथ पी-3 गोल चक्कर के पास बने बस स्टॉप पर आया। आरोपी असादुर रहमान की गाड़ी में बैठ गए।

असादुर रहमान की गाड़ी में राज चौधरी ने अपनी गर्लफ्रेंड रिफा और निजाम को भी बैठा लिया। आरोप है कि सभी ने असादुर रहमान और उसके मित्र निजाम को उसकी गाड़ी में ही बंधक बनाकर गाली गलौज और मारपीट की। उसके बाद पांच लाख रुपये मांगे और न देने पर दुष्कर्म के झूठे मुकदमे मे फंसाने की धमकी दी। दबाव में आकर पीड़ित असादुर रहमान ने अपनी गाड़ी मे रखे 50 हजार रुपये आरोपियों को दे दिए। पीड़ित ने इसकी शिकायत सेक्टर बीटा-2 थाना पुलिस से की। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले का खुलासा किया।

मोबाइल की मदद से आरोपियों का सुराग लगा

जिस नंबर से लड़की पीड़ित से बात करती थी, पुलिस ने उस नंबर को सर्विलांस पर लगाकर उसकी लोकेशन ट्रेस की। इसके बाद आरोपियों की लोकेशन 12 जून को परी चौक के पास मिली। पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर महिला और उसके ब्वॉयफ्रेंड और गैंग के अन्य सदस्यों को गिरफ्तार किया। पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि 20 दिन पहले भी सेक्टर-135 नोएडा मे एक फार्म हाउस के पास एक व्यक्ति से इसी तरह की घटना को अंजाम दिया था। पुलिस का कहना है कि आरोपी अब तक कितने लोगों से ठगी कर चुके हैं, इसकी जानकारी जुटाई जा रही है।

पहले भी ऐसे मामले सामने आ चुके

30 मार्च 2024 सेक्टर-58 पुलिस ने दोस्ती कर युवकों को फंसाने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया।
30 दिसंबर 2021 फेसबुक पर दोस्ती करने के बाद नाइजीरियाई गिरोह ने महिला से 42 लाख ठगे।