ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली-NCR में सभी पेट्रोल-डीजल कारों पर से रोक हटी, हवा में सुधार के बाद ग्रैप-3 की पाबंदियां वापस

दिल्ली-NCR में सभी पेट्रोल-डीजल कारों पर से रोक हटी, हवा में सुधार के बाद ग्रैप-3 की पाबंदियां वापस

प्रदूषण स्तर में हुए सुधार के बाद केंद्रीय वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) ने ग्रैप-तीन की पाबंदियां हटा ली हैं। इसके साथ ही दिल्ली-एनसीआर में निजी निर्माण कार्यों पर लगी पाबंदी भी हट गई है।

दिल्ली-NCR में सभी पेट्रोल-डीजल कारों पर से रोक हटी, हवा में सुधार के बाद ग्रैप-3 की पाबंदियां वापस
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानWed, 29 Nov 2023 06:13 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रदूषण स्तर में हुए सुधार के बाद केंद्रीय वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) ने ग्रैप-तीन की पाबंदियां हटा ली हैं। इसके साथ ही दिल्ली-एनसीआर में निजी निर्माण कार्यों पर लगी पाबंदी भी हट गई है। साथ ही बीएस-3 वाले पेट्रोल और बीएस-4 वाले डीजल वाहन का दोबारा संचालन हो सकेगा। दिल्ली का 24 घंटे का औसत एक्यूआई सोमवार शाम चार बजे 395 था, जो  मंगलवार को सुधरकर 312 हो गया।

इस फैसले के बाद निजी निर्माण और ध्वस्तीकरण के कार्य हो सकेंगे। स्टोन क्रेशर आदि का संचालन भी किया जा सकेगा। वहीं, ग्रैप तीन के तहत बीएस-3 वाले पेट्रोल और बीएस-4 वाले डीजल चार पहिया वाहनों (कारें) पर प्रतिबंध था। यह पाबंदी गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, फरीदाबाद और गुरुग्राम में भी लागू थी। अब इन वाहनों का संचालन हो सकेगा।

जानकारी के अनुसार, केंद्र ने हवा की गुणवत्ता में सुधार के बाद मंगलवार को पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में क्रमिक प्रतिक्रिया कार्य योजना (जीआरएपी) के चरण-तीन के तहत लागू प्रतिबंधों को तत्काल प्रभाव से हटाने का आदेश दिया है। एनसीआर और आसपास के क्षेत्रों में सीएक्यूएम ने दिल्ली-एनसीआर की समग्र वायु गुणवत्ता में महत्वपूर्ण सुधार के मद्देनजर मंगलवार को बैठक की। सीएक्यूएम क्षेत्र में प्रदूषण से निपटने के लिए रणनीति तैयार करने के लिए जिम्मेदार वैधानिक निकाय है।

सीएक्यूएम ने कहा कि मौसम विभाग के आगामी दिनों के लिए उपलब्ध वायु गुणवत्ता पूर्वानुमान से आने वाले दिनों में दिल्ली की औसत वायु गुणवत्ता 'गंभीर' श्रेणी में जाने का संकेत नहीं मिलता है। सीएक्यूएम ने 2 नवंबर को चरण तीन का प्रतिबंध लागू किया था, जिसमें दिल्ली-एनसीआर में गैर-जरूरी निर्माण कार्य, पत्थर तोड़ने और खनन पर रोक लगाने का निर्देश दिया गया था। इस चरण के तहत दिल्ली, गुरुग्राम, फरीदाबाद, गाजियाबाद और गौतम बुद्ध नगर में बीएस तीन पेट्रोल और बीएस चार डीजल चार पहिया वाहनों के परिचालन पर भी प्रतिबंध लगाया गया था।

बारिश के कारण दिल्ली में तापमान लुढका, वायु गुणवत्ता में सुधार

राजधानी दिल्ली में मंगलवार को हल्की बारिश के कारण न केवल तापमान में गिरावट दर्ज की गई, बल्कि इसकी वायु गुणवत्ता में भी सुधार हुआ। मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार, मंगलवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक, बीते 24 घंटे में शहर में 7.2 मिलीमीटर बारिश हुई, जबकि साढ़े आठ बजे और शाम साढ़े पांच बजे के बीच 0.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। दिल्ली में अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई, जो 22 डिग्री सेल्सियस रहा। यह इस मौसम के औसत तापमान से चार डिग्री कम है, जबकि न्यूनतम तापमान 14.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस अधिक है। सोमवार को शहर का अधिकतम तापमान 24.2 डिग्री सेल्सियस था जबकि न्यूनतम तापमान 13.4 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। दिल्ली का 24 घंटे का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) शाम चार बजे 312 पर था, जो सोमवार की तुलना में बेहतर है। सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी का एक्यूआई 395 दर्ज किया गया था। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें