ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली के 'दिल' में दुकान-ऑफिस किराए पर लेना सबसे महंगा, NCR में बाकी जगहों का कितना रेंट

दिल्ली के 'दिल' में दुकान-ऑफिस किराए पर लेना सबसे महंगा, NCR में बाकी जगहों का कितना रेंट

दिल्ली के दिल कहे जाने वाले कनॉट प्लेस में किराए पर दुकान या ऑफिस लेना सबसे महंगा है। किराये की दरों में साल-दर-साल 33 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जो टियर-वन शहरों में सबसे अधिक है।

दिल्ली के 'दिल' में दुकान-ऑफिस किराए पर लेना सबसे महंगा, NCR में बाकी जगहों का कितना रेंट
Sneha Baluniएजेंसी,नई दिल्लीWed, 08 May 2024 06:39 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली-एनसीआर में कनॉट प्लेस में हाई स्ट्रीट रिटेल स्पेस के लिए किराये की दरों में साल-दर-साल 33 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जो टियर-वन शहरों में सबसे अधिक है। इसका मतलब यहां पर दुकान, दफ्तर किराये पर लेना टियर वन शहरों में सबसे महंगा है। कनॉट प्लेस के बाद बेंगलुरु की हेनूर मेन रोड और कमर्शियल स्ट्रीट हैं, जहां किराये में साल-दर-साल क्रमश 20 और 17 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। 

संपत्ति सलाहकार नाइट फ्रैंक इंडिया की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, टियर-टू शहरों में गुवाहाटी-शिलांग रोड पर सबसे अधिक 38 फीसदी किराये में वृद्धि दर्ज हुई। नाइट फ्रैंक इंडिया ने अपनी नवीनतम रिपोर्ट ह्यथिंक इंडिया थिंक रिटेल 2024- शॉपिंग सेंटर और 29 शहरों में हाई स्ट्रीट डायनेमिक्स में बताया है कि वर्ष 2023 में हाई स्ट्रीट (व्यावसायिक स्थल) प्रति वर्ग फुट औसतन 370 अमेरिकी डॉलर की कमाई करती है। रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि 2024-25 के लिए 29 शहरों की 58 हाई स्ट्रीट पर संभावित खपत लगभग तीन बिलियन अमेरिकी डॉलर होगी।

शीर्ष तीन शहरों में एनसीआर पहले पायदान पर

रिपोर्ट के मुताबिक, 29 शहरों में हाई स्ट्रीट पर परिचालन स्टोर की कुल संख्या 7,246 है, जिनमें से अधिकांश टियर-वन बाजारों में स्थित हैं। वर्ष 2023 में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (23 प्रतिशत), बेंगलुरु (18 प्रतिशत) और हैदराबाद (15 प्रतिशत) शीर्ष आठ शहरों में सबसे अधिक स्टोर वाले शीर्ष तीन शहर बनकर उभरे। टियर-दो शहरों में वडोदरा (दो प्रतिशत), सूरत (दो प्रतिशत) और चंडीगढ़ (दो प्रतिशत) सबसे अधिक स्टोर के साथ आगे हैं। एनसीआर में खान मार्केट का किराया सबसे अधिक एक हजार से पंद्रह सौ रुपये प्रति वर्ग फुट प्रति माह है। इसके बाद गुरुग्राम में डीएलएफ गैलेरिया है, जहां किराया आठ सौ से बारह सौ रुपये प्रति वर्ग फुट प्रति माह है। हाई स्ट्रीट स्पेस में भारतीय ब्रांड खुदरा बाजार परिदृश्य पर हावी हो रहे हैं।

ये हैं टियर-एक शहर

दिल्ली, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद, मुंबई, पुणे, कोलकाता, अहमदाबाद।

ये हैं टियर-दो शहर

अमृतसर, भोपाल, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, फरीदाबाद, गाजियाबाद, जमशेदपुर, जयपुर, कोच्चि, लखनऊ, नागपुर, पटना, रायपुर, सूरत, विशाखापत्तनम, आगरा, अजमेर, कानपुर, मैसूर, श्रीनगर।