ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRरश्मिका मंदाना डीप फेक वीडियो मामले में बड़ा ऐक्शन, पकड़ा गया मुख्य आरोपी

रश्मिका मंदाना डीप फेक वीडियो मामले में बड़ा ऐक्शन, पकड़ा गया मुख्य आरोपी

अभिनेत्री रश्मिका मंदाना के डीपफेक वीडियो केस में मुख्य आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया है। इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रेटेजिक ऑपरेशन के डीसीपी हेमंत तिवारी ने गिरफ्तारी को लेकर जानकारी साझा की है।

रश्मिका मंदाना डीप फेक वीडियो मामले में बड़ा ऐक्शन, पकड़ा गया मुख्य आरोपी
rashmika mandhana deepfake video case main accused caught
Mohammad Azamएएनआई,दिल्लीSat, 20 Jan 2024 03:22 PM
ऐप पर पढ़ें

Rashmika Mandana: अभिनेत्री रश्मिका मंदाना के डीपफेक वीडियो केस में मुख्य आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया है। इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रेटेजिक ऑपरेशन के डीसीपी हेमंत तिवारी ने इस बारे में जानकारी साझा की है। कुछ महीनों पहले रश्मिका का एक फेक वीडियो सामने आया था, जिसे आर्टीफिसियल इंटेलीजेंस की सहायता लेकर बनाया गया था। वीडियो सामने आने के बाद लोगों ने चिंता जाहिर करते हुए कार्रवाई की मांग की थी।

कुछ महीनों पहले रश्मिका मंदाना का डीप फेक वीडियो सामने आया था। वीडियो आने के बाद रश्मिका का साथ ही फिल्म इंडस्ट्री के लोगों ने चिंता जाहिर की थी। इस मामले में चिंता जाहिर करते हुए अमिताभ बच्चन नें भी ट्वीट किया था और कार्रवाई की मांग की थी। इस मामले की जांच चल रही थी। अब मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पिछले साल नवंबर महीने में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था। वायरल वीडियो में ब्रिटिश इन्फ्लुएंसर जारा पटेल काले ड्रेस में लिफ्ट के अंदर आती हुई दिख रही हैं। इस वीडियो में आरोपी ने जारा की जगह रश्मिका मंदाना का चेहरा लगा दिया था। इस वीडियो में रश्मिका का चेहरा लगाने के लिए आरोपी ने एआई का सहारा लिया था। मामला सामने आने के बाद कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया था। अब मुख्य आरोपी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

क्या है डीप फेक
यह ऐसी तरीका है जिसमें आर्टीफिसियल इंटेलिजेंस (AI) का सहारा लेकर किसी की समानता को दूसरे की समानत के साथ बदला जा सकता है। ठीक यही तरीका रश्मिक मंदाना डीपफेक वीडियो केस में भी अपनाया गया था। आरोपी ने जारा पटेल के वीडियो में रश्मिका का चेहरा लगाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया था।

डीपफेक का शिकार कुछ दिन पहले पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर भी हो गए थे। डीपफेक वीडियो में सचिन एक बेटिंग ऐप का प्रमोशन करते हुए दिख रहे थे और बता रहे थे कि उनकी बेटी इस ऐप के माध्यम से डेढ़ लाख रुपए महीना कमाती है। हालांकि, यह वीडियो एआई तकनीक का इस्तेमाल करके बनाया गया था। सचिन का यह वीडियो फेक था।