ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRहमें डरपोक नेता नहीं चाहिए, लवली पर राहुल का बड़ा अटैक; केजरीवाल और सोरेन पर क्या बोले

हमें डरपोक नेता नहीं चाहिए, लवली पर राहुल का बड़ा अटैक; केजरीवाल और सोरेन पर क्या बोले

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अरविंदर सिंह लवली का नाम लिए बिना कहा कि हमें डरपोक नेता नहीं चाहिए। कहा कि केजरीवाल जी और हेमंत सोरेन जी को जेल भेजा। कांग्रेस नेताओं की लिस्ट भी तैयार है।

हमें डरपोक नेता नहीं चाहिए, लवली पर राहुल का बड़ा अटैक; केजरीवाल और सोरेन पर क्या बोले
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 18 May 2024 10:13 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली के चांदनी चौक में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अरविंदर सिंह पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने लवली का नाम लिए बिना कहा कि हमें डरपोक नेता नहीं चाहिए। हमें बब्बर शेर चाहिए जो सीबीआई और ईडी ने नहीं डरे। दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली कुछ दिन पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे।

राहुल गांधी ने अपने भाषण में केंद्र की भाजपा सरकार पर जोरदार हमला हमला बोला। राहुल ने कहा कि भाजपा सरकार ने केजरीवाल जी और हेमंत सोरेन जी को जेल में डाला... इस लिस्ट में कांग्रेस नेताओं के भी नाम हैं। राहुल ने कहा कि लिस्ट बनी हुई है कांग्रेस पार्टी में से। सीबीआई-ईडी खटाखट एक के बाद एक नेताओं को ले जा रहे हैं। अरविंदर सिंह लवली का नाम लिए बिना राहुल ने कहा कि दिल्ली से भी अभी एक को उठाकर ले गए। मैं कहता हूं अच्छा है। जितने चाहें उतने ले जाएं, हमें नहीं चाहिए डरपोक नेता। हमें बब्बर शेर चाहिए। हमारी लड़ाई है संविधान की। ये सारे हमारे टाइगर बैठे हैं। लगा लो इन पर सीबीआई और ईडी, ये नहीं डरने वाले।

राहुल गांधी ने कहा कि दिल्ली की सात सीटों में से चार पर आम आदमी पार्टी और तीन सीट पर कांग्रेस चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा कि कन्हैया कुमार ने उन्हें बताया कि यह कैसा संयोग है कि केजरीवाल जी कांग्रेस पार्टी का बटन दबाएंगे और वह आप का बटन दबाएंगे। कहा कि हम सबका लक्ष्य संविधान बचाने का है। 

कांग्रेस नेता ने रैली में मौजूद लोगों से कहा, मैं आपसे कह रहा हूं। जो आप नरेंद्र मोदी जी से कहलाना चाहते हो, मुझे बता दो। मैं उनके भाषण में वह कहलवा दूंंगा। राहुल ने कहा कि मोदी जी सिर्फ पांच दस जर्नलिस्टों को ही तीस पैंतीस इंटरव्यू दिए हैं। दो तीन इंटेलेक्चुअल और पत्रकारों ने मुझे चिट्ठी लिखी कि मुझे मोदी जी के साथ डिबेट करना चाहिए। इन लोगों ने मोदी जी को भी इसके लिए चिट्ठी लिखी। मैं तैयार हूं। कहीं भी किसी भी टाइम मोदी जी हमसे डिबेट करें। आपको क्या लगता है मोदी जी ऐसा करेंगे। वह ऐसा नहीं करेंगे।

राहुल गांधी ने कहा कि अगर मोदी जी मुझसे डिबेट करेंगे तो सबसे पहले मैं पुछूंगा कि अडाणी के साथ आपका क्या रिश्ता है। दूसरा मैं यह पुछूंगा कि आपने जो इलेक्ट्रोल बांड का जो धंधा चलाया, जिसमें आप किसी को कांट्रेक्ट देते हैं और उसके एक सप्ताह बाद वो बीजेपी को पैसे देता है। अगर वह पैसा नहीं देता है तो आप सीबीआई और ईडी को उसके पीछे लगा देते हो। उसके बाद वो आपको पैसे देते हैं और उसके बाद सीबीआई और ईडी का केस उन पर से खत्म हो जाता है। मोदी जी इन सवालों में फंस जाएंगे और डिबेट वहीं खत्म हो जाएगा।