DA Image
29 मई, 2020|3:27|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली : शनिधाम में पूजा कर दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, पुलिस ने शुरू की जांच

daati maharaj

दो नाबालिग लड़कियों से बलात्कार का आरोपी स्वयंभू धर्मगुरु दाती महाराज एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। इस बार दाती महाराज को कोरोना वायरस को फैलने से रोकने करने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के नियमों और दिशानिर्देशों का उल्लंघन कर दक्षिण दिल्ली के असोला गांव में स्थित शनि धाम मंदिर में कुछ लोगों के साथ पूजा-अर्चना करते हुए देखा गया है।

कुछ लोगों के साथ स्वयंभू धर्मगुरु जिसमें वृद्ध व्यक्ति और बच्चे शामिल थे, उन्हें 'शनि जयंती' के अवसर पर मंदिर में पूजा करते देखा गया। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मामला सामने आया।

एक वीडियो में, कुछ बुजुर्गों, बच्चों और महिलाओं को सोशल डिस्टेंसिंग के सभी नियमों का उल्लंघन करते हुए लॉकडाउन के बीच मंदिर में पूजा करते हुए देखा गया। वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि इस दौरान लोग मास्क भी नहीं पहने हुए थे। हालांकि, आईएएनएस इस वायरल वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

जैसे ही यह मामला जिला मजिस्ट्रेट (दक्षिण) बी.एम. मिश्रा के संज्ञान में आया, उन्होंने दक्षिणी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) अतुल ठाकुर को मामले की जांच शुरू करने का निर्देश दिया।

वहीं, दिल्ली पुलिस ने बताया कि इसकी जानकारी मिलने के बाद दाती महाराज पर लगे आरोपों की जांच शुरू कर गई दी है। आरोप है कि शुक्रवार को महरौली में शनि धाम मंदिर खोला गया था और कई लोग अंदर गए थे। जिला मजिस्ट्रेट (दक्षिण) ने भी पुलिस से इस घटना की जांच करने और कार्रवाई करने के लिए कहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले इसी साल मार्च में, दिल्ली हाईकोर्ट ने दाती महाराज और अन्य को बलात्कार के एक मामले में अग्रिम जमानत रद्द करने की मांग करने वाली सीबीआई याचिका पर अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा था।

जनवरी में एक ट्रायल कोर्ट ने दाती महाराज को जमानत दे दी थी। जस्टिस चंद्र शेखर ने 26 अगस्त को मामले की अगली सुनवाई के लिए मामले को सूचीबद्ध करते हुए धर्मगुरु और उसके तीन सहयोगियों को नोटिस जारी किया था।

9 जनवरी 2016 को फतेहपुर बेरी में अपने आश्रम में 25 वर्षीय महिला के साथ बलात्कार करने और पीड़िता के साथ अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने के लिए सीबीआई की एफआईआर में दाती महाराज उर्फ दाती मदन लाल राजस्थानी, अशोक, अर्जुन और अनिल को नामजद किया गया है।  

दिल्ली पुलिस ने जून 2018 में दिल्ली की पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज करते हुए और बाद में दाती महाराज और अन्य के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Probe against Daati Maharaj for pooja at Shani Dham temple amidst lockdown