ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRइंदिरा गांधी एयरपोर्ट और नोएडा हवाई अड्डे के बीच रैपिड रेल चलाने की तैयारी

इंदिरा गांधी एयरपोर्ट और नोएडा हवाई अड्डे के बीच रैपिड रेल चलाने की तैयारी

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट और नोएडा के जेवर हवाई अड्डे के बीच रैपिड रेल दौड़ाने की तैयारी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष यह प्रस्ताव रखा गया है जिस पर जल्द बैठक होने वाली है।

इंदिरा गांधी एयरपोर्ट और नोएडा हवाई अड्डे के बीच रैपिड रेल चलाने की तैयारी
Krishna Singhभाषा,नोएडाTue, 12 Dec 2023 01:16 AM
ऐप पर पढ़ें

इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा (Indira Gandhi International Airport, IGI) दिल्ली और नोएडा के जेवर स्थित एयरपोर्ट के बीच रैपिड रेल (नमो भारत ट्रेन) दौड़ाने की तैयारी है। अधिकारियों ने बताया कि पिछले हफ्ते ग्रेटर नोएडा दौरे पर आए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के समक्ष यह प्रस्ताव रखा गया था। रैपिड रेल डीएनडी/न्यू अशोक नगर से परी चौक तक चलाई जाएगी। एनसीआरटीसी करीब 25 किलोमीटर के इस रूट के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ के समक्ष अपना प्रजेंटेशन देगा। 

अधिकारियों ने बताया कि डीएनडी/न्यू अशोक नगर से परी चौक तक रैपिड रेल चलाने के मुद्दे पर 14 दिसंबर को लखनऊ में उच्चस्तरीय बैठक होने की संभावना है। उम्मीद है कि इस रूट को शासन से अनुमति मिल जाएगी। अधिकारियों के मुताबिक, यह रूट सराय काले खां के पास से परी चौक तक नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे के समानंतर पूरी तरह से एलिवेटेड रूट होगा। गाजियाबाद वाया ग्रेटर नोएडा वेस्ट होते हुए जेवर हवाई अड्डे तक का रूट पहले ही फाइनल हो गया है।  

प्रदेश सरकार ने नोएडा एयरपोर्ट को रैपिडएक्स (रैपिड रेल) से जोड़ने के लिए जिस रूट को मंजूरी दी है, वह गाजियाबाद से शुरू होगा। इस कॉरिडोर की लंबाई 72.2 किलोमीटर है। इस रूट से ग्रेनो वेस्ट, ईस्ट और यमुना प्राधिकरण क्षेत्र जुड़ेगा। यह रूट गाजियाबाद आरआरटीएस स्टेशन से शुरू होकर गाजियाबाद साउथ, ग्रेटर नोएडा वेस्ट (सेक्टर 4), सेक्टर 2, नॉलेज पार्क-5, सूरजपुर, परी चौक, इकोटेक-5, दनकौर, यीडा नॉर्थ (सेक्टर-18), यीडा सेंट्रल (सेक्टर-21, 35) होते हुए नोएडा एयरपोर्ट आकर खत्म होगा। 

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (नियाल) चाहती है कि नोएडा एयरपोर्ट को सीधे आईजीआई से जोड़ा जाए। इसके लिए दिल्ली से नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर के बीच रैपिड रेल चलाई जानी चाहिए। पिछले दिनों मुख्यमंत्री की समीक्षा बैठक में यह मुद्दा उठाया गया था। इसको लेकर मुख्यमंत्री का सकारात्मक रुख था। इस रूट से लोग नोएडा एयरपोर्ट से सराये काले खां होते हुए आईजीआई पहुंच जाएंगे। इस कॉरिडोर के बनने से नोएडा और ग्रेटर नोएडा भी रैपिड रेल से जुड़ जाएंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें