ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRअधिकारियों ने माना पीएम मोदी का सुझाव, रविवार को ट्रैफिक के लिए बंद रहेगा प्रगति मैदान टनल; बेहद खास है इसकी वजह

अधिकारियों ने माना पीएम मोदी का सुझाव, रविवार को ट्रैफिक के लिए बंद रहेगा प्रगति मैदान टनल; बेहद खास है इसकी वजह

प्रगति मैदान टनल रविवार को वाहनों की आवाजाही के लिए बंद रहेगी। इसे लेकर दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी कर दी है। यह फैसला पीएम मोदी द्वारा दिए सुझाव को मानते हुए लिया गया है।

अधिकारियों ने माना पीएम मोदी का सुझाव, रविवार को ट्रैफिक के लिए बंद रहेगा प्रगति मैदान टनल; बेहद खास है इसकी वजह
Sneha Baluniहिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीSat, 25 Jun 2022 12:51 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

प्रगति मैदान टनल को अब हर रविवार वाहनों की आवाजाही के लिए बंद कर दिया जाएगा। ऐसा इसलिए किया जाएगा ताकि लोग इसकी दीवारों पर बनी पेंटिंग देख सकें। इस टनल का उद्घाटन 19 जून 2022 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। उन्होंने ही उद्घाटन करते समय सुझाव दिया था जिसपर अधिकारियों ने यह फैसला लिया है। प्रगती मैदान के नीचे से गुजरते हुए 1.3 किलोमीटर लंबी सुरंग मथुरा रोड को रिंग रोड से जोड़ती है। इसमें मंडला शैली की कला के साथ कश्मीर से कन्याकुमारी तक देश के विभिन्न हिस्सों में भारत की संस्कृति, वनस्पति-जीव, राशि चिन्ह और छह मौसमों को दर्शाते हुए बड़ी संख्या में पेंटिंग बनाई गई है।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने शुक्रवार को एडवाइजरी जारी करते हुए ट्वीट किया, 'प्रगति मैदान टनल रविवार यानी 26 जून को वाहनों के आवागमन के लिए बंद रहेगा। केवल पैदल यात्री ही टनल तक जा सकेंगे। कृपया आवाजाही के विकल्प के रूप में रिंग रोड, भैरों रोड और मथुरा रोड का उपयोग करें।' पुलिस अधिकारी ने स्पष्ट किया कि पैदल चलने वालों को भी टनल पार करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पीडब्ल्यूडी के एक अधिकारी ने कहा कि यातायात के लिए सुरंग को बंद करने से क्षेत्र में वाहनों की आवाजाही प्रभावित नहीं होगी क्योंकि अन्य अंडरपास वाहनों के लिए खुले रहेंगे।

लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के अधिकारी ने कहा, 'टनल के प्रवेश और निकास बिंदुओं पर मार्शल मौजूद रहेंगे ताकि आगंतुकों को निर्देशित किया जा सके। चूंकि रविवार को छुट्टी होती है, इसलिए ट्रैफिक कम होता है। अन्य अंडरपास खुले रहेंगे ताकि सुरंग के बंद होने से यातायात का प्रवाह बाधित न हो। यात्री अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए भैरों मार्ग, आईटीओ और मथुरा रोड का भी उपयोग कर सकते हैं।' पीडब्ल्यूडी के एक अधिकारी ने कहा कि टनल के अंदर पेंटिंग को हाथ से एक हल्की स्टील की शीट पर बनाया गया है, जो इसके लुक और गुणवत्ता को बढ़ाता है।

920 करोड़ रुपये की परियोजना को केंद्र सरकार ने फंड किया था और दिल्ली पीडब्ल्यूडी ने इसे बनाया है। टनल में हर 250 मीटर पर इन पेंटिंग का रंग बदल जाता है। बीते रविवार को टनल का उद्घाटन करते हुए पीएम मोदी ने सुझाव दिया था कि टनल को जब ट्रैफिक कम हो हफ्ते में एक बार 4-5 घंटे के लिए बंद किया जाए ताकि स्कूली बच्चों के लिए शैक्षणिक भ्रमण का आयोजन किया जा सके। जिससे उन्हें देश की कला, संस्कृति और त्योहार की शिक्षा दी जा सके। 

जीप में टनल का निरिक्षण करते हुए पीएम मोदी पेंटिंग को और करीब से देखने के लिए नीचे उतर गए थे। भ्रमण के बाद उन्होंने कहा था, 'मैं टनल के अंदर 10-15 मिनट तक चला और उन कलाकृतियों का आनंद लिया जो भारत की संस्कृति, त्योहार और छह मौसमों को दर्शाती हैं। टनल को आर्ट गैलरी के रूप में देखा जाना चाहिए।'

epaper