DA Image
12 जुलाई, 2020|7:01|IST

अगली स्टोरी

प्रधानमंत्री आवास योजना के फ्लैट हुए महंगे, अब 2 लाख रुपये ज्यादा चुकाने होंगे, जानें कितनी होगी नई कीमत

पाई-पाई जोड़कर एक सस्ता सा घर खरीदने का सपना देख रहे लोगों के लिए एक बुरी खबर है। कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनने वाले सस्ते फ्लैटों के दाम बढ़ाने को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से शासनादेश जारी हो गया है।

इस शासनादेश के अनुसार, अब गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) जो भी प्रधानमंत्री आवास की योजना लाएगा, उसमें मकान लेने के लिए आवेदक को पहले की अपेक्षा दो लाख रुपये अधिक देने होंगे। कीमत बढ़ने के बाद व्यक्ति को 6.51 लाख रुपये चुकाने होंगे, जबकि अभी तक इनकी कीमत 4.50 लाख थी।

प्रधानमंत्री आवास की कीमत कम और लागत अधिक होने के कारण शासन ने इन मकानों के दाम बढ़ा दिए हैं। कीमत बढ़ाने को लेकर पिछले साल सितंबर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया था, लेकिन इसका शासनादेश अब जारी हुआ है।

ऐसे में अब जीडीए इस योजना के तहत जो भी स्कीम लॉन्च करेगा, उनमें नई कीमतें लागू होंगी, जबकि वर्तमान में चल रही योजना पर पुरानी कीमत ही लागू रहेगी। सीएटीपी आशीष शिवपुरी ने बताया कि शासनादेश से मंजूरी मिल गई है। अब नए प्रोजेक्ट में आवास की कीमत 6.51 लाख रहेगी। 

अवैध निर्माण में छह बिल्डरों पर मुकदमा

ट्रांस हिंडन (सं.)। जीडीए ने अवैध निर्माण करने पर छह बिल्डरों के खिलाफ साहिबाबाद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। बिल्डरों पर सील तोड़कर निर्माण करने और नक्शे के विपरीत मकान बनाने का आरोप है। वहीं जीडीए की टीम ने पांच मकान को सील भी किया है।

जीडीए के अवर अभियंता राजेश कुमार शर्मा ने बताया कि जीटी रोड स्थित बालाजी एंक्लेव में चार भूखंडों पर हो रहे अवैध निर्माण को 12 मार्च को सील किया गया था। बिल्डर की ओर से सील तोड़कर दोबारा निर्माण कार्य कराया जा रहा था। निर्माण कराने वाले प्रमोद शर्मा, विनीत सिंह और पिंकी देवी के खिलाफ साहिबाबाद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

इसके साथ ही राजेंद्र नगर सेक्टर पांच की तीन इमारत में बिल्डर ने लॉकडाउन के दौरान तीन आवंटियों को बसा दिया। इस पर बिल्डर मुकेश कुमार यादव, मिथिलेश गर्ग और अनिल गर्ग के खिलाफ साहिबाबाद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। वहीं राजेंद्र नगर सेक्टर पांच में एक और सेक्टर दो में दो मकान नक्शे के विपरीत बनाए गए थे। पूर्व में इन्हें सील किया गया था। आंधी और बारिश से सील उड़ गई थी तो शुक्रवार को दोबारा सील कर दिया गया। वहीं आराधना सिनेमा के पीछे अवैध निर्माण के चलते तीन अन्य बिल्डिंग को सील किया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Pradhan Mantri Awas Yojana flats become expensive in Ghaziabad now people have to pay 2 lakh rupees extra