ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRजी20 में किया बेहतरीन काम, अब पीएम के साथ डिनर का मौका; कल भारत मंडपम में कार्यक्रम

जी20 में किया बेहतरीन काम, अब पीएम के साथ डिनर का मौका; कल भारत मंडपम में कार्यक्रम

जी20 सम्मेलन के दौरान ड्यूटी करने वाले दिल्ली पुलिस के कर्मियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भारत मंडपम में डिनर करने का मौका मिलने वाला है। शुक्रवार को प्रगति मैदान में कार्यक्रम आयोजित होगा।

जी20 में किया बेहतरीन काम, अब पीएम के साथ डिनर का मौका; कल भारत मंडपम में कार्यक्रम
Sneha Baluniहिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीFri, 22 Sep 2023 11:45 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में सफलतपूर्वक जी20 शिखर सम्मेलन का आयोजन हुआ। अब इस सम्मेलन के दौरान ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्पेशल गिफ्ट देने वाले हैं। दरअसल, शुक्रवार को पीएम दिल्ली पुलिस के लगभग 250 कर्मी और अधिकारी जिसमें कमिश्नर से लेकर कांस्टेबल तक शामिल होंगे, उनसे विशेष बातचीत करेंगे। यह कार्यक्रम प्रगति मैदान स्थित भारत मंडपम में आयोजित किया जाएगा, जहां जी20 के कार्यक्रम हुए थे।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री के संवाद कार्यक्रम में जमीनी स्तर पर काम करने वाले पदाधिकारियों, मंत्रियों और विभिन्न मंत्रालयों के अधिकारियों सहित कुल 3,000 लोग भाग लेंगे, जिसके बाद एक सांस्कृतिक कार्यक्रम और एक विशेष रात्रिभोज का आयोजन किया जाएगा। विभिन्न रैंकों के पुलिस कर्मियों का चयन पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा के कार्यालय द्वारा किया गया है, जिसने जी20 जोन के सभी प्रमुखों से उन स्टाफ सदस्यों के नाम देने के लिए कहा जिनका प्रदर्शन उत्कृष्ट था।

अरोड़ा के अलावा, कार्यक्रम में आमंत्रित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों में विशेष पुलिस आयुक्त आरएस कृष्णिया, जो भारत मंडपम के आयोजन स्थल कमांडर थे, और पुलिस उपायुक्त (नई दिल्ली) प्रणव तायल शामिल हैं। मामले की जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने बताया, चूंकि पीएम कार्यक्रम स्थल पर मौजूद रहेंगे, इसलिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी। वह शाम 6 बजे पहुंचेंगे और सभा को संबोधित करने से पहले सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेंगे। इसके बाद बातचीत और फोटो सत्र होगा। इसके बाद, पीएम डिनर होस्ट करेंगे और शाम 7.30 बजे से पहले कार्यक्रम स्थल से चले जाएंगे।' 

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि दिल्ली पुलिस कर्मियों और अधिकारियों के अलावा, विभिन्न मंत्रालयों, आईटीपीओ और होटलों के कर्मचारी जहां विदेशी गणमान्य व्यक्ति रुके थे, उनमें से 3,000 लोगों को कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें