ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRप्रगति मैदान टनल का निरिक्षण करते हुए अचानक रुके पीएम मोदी, खुद कचरा और बोतल उठाकर दिया स्वच्छता का संदेश, देखें Video 

प्रगति मैदान टनल का निरिक्षण करते हुए अचानक रुके पीएम मोदी, खुद कचरा और बोतल उठाकर दिया स्वच्छता का संदेश, देखें Video 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रगति मैदान के टनल और अंडरपास किया। इसके बाद टनल का निरिक्षण करते हुए उन्हें सड़क किनारे रैपर और प्लास्टिक की बोतल गिरी हुई दिखी। जिसे उन्होंने खुद उठाया।

प्रगति मैदान टनल का निरिक्षण करते हुए अचानक रुके पीएम मोदी, खुद कचरा और बोतल उठाकर दिया स्वच्छता का संदेश, देखें Video 
Sneha Baluniहिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीSun, 19 Jun 2022 01:39 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को प्रगति मैदान इंटीग्रेटिड ट्रांसिट कॉरिडोर टनल और अंडरपास का उद्घाटन किया। उद्घाटन के बाद पीएम टनल का निरिक्षण करने लगे। इसी दौरान एक अजब नजारा देखने को मिला। दरअसल, चलते हुए पीएम को किनारे पर एक रैपर और प्लास्टिक की बोतल गिरी हुई दिखाई दी। इसके बाद उन्होंने खुद इस कचरे को उठाकर देशवासियों को स्वच्छ भारत का संदेश दिया। इससे पहले भी पीएम कई बार सफाई का संदेश देते और खुद कचरा उठाते हुए देखे गए हैं।

स्वच्छ भारत अभियान के पैरोकार प्रधानमंत्री आसपास के वातावरण को साफ रखने पर जोर देते हैं और इसका पालन भी करते हैं। इससे पहले 2019 में पीएम मोदी को तमिलनाडु के मामल्लपुरम (महाबलिपुरम) के एक समुद्र तट पर प्लॉगिंग (जॉगिंग करते हुए कूड़ा उठाना) करते हुए देखा गया था। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'आज सुबह मामल्लापुरम में एक समुद्र तट पर प्लॉगिंग की। यह 30 मिनट से अधिक समय तक चला। अपनी इकट्ठा की हुई चीजों को जयराज को सौंप दिया, जो होटल के कर्मचारियों में से एक हैं। आइए हम इस बात को सुनिश्चित करें कि हमारे सार्वजनिक स्थान साफ-सुथरे रहेंगे! आइए हम यह भी सुनिश्चित करें कि हम फिट और स्वस्थ रहेंगे।'

प्लॉगिंग 2016 के आसपास स्वीडन में एक संगठित गतिविधि के रूप में शुरू हुआ और बाद में 2018 में यह अन्य देशों में फैल गया। प्रधानमंत्री ने दिल्ली की पहली 1.6 किलोमीटर लंबी सुरंग का उद्घाटन किया। इससे पूर्वी दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद से इंडिया गेट और मध्य दिल्ली के अन्य क्षेत्रों जाने वाले लोगों को आईटीओ, मथुरा रोड और भैरों मार्ग पर मिलने वाले ट्रैफिक जाम से मुक्ति मिलेगी। साथ ही समय, ईंधन और पैसे की बचत होगी।

पीएम ने कहा, 'समय पैसा है।' उन्होंने कहा कि अगर सरकार लोगों के लिए 100 रुपए की घोषणा करती है, तो यह सुर्खियां बन जाती है लेकिन अगर 200 बचाए जाते हैं, तो इसके बारे में ज्यादा बात नहीं होती। लोगो को संबंधित करते हुए पीएम ने बताया कि इस टनल को बनाना आसान नहीं था। जिन सड़कों के आसपास यह कॉरिडोर बना है, वो सड़कें दिल्ली की सबसे व्यस्त सड़कों में से एक है। वहीं टनल के ऊपर सात रेलवे लाइन गुजरती है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें