ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदया करो, दिखावा नहीं काम चाहिए; भगवंत मान और केजरीवाल पर भड़के दिल्ली के LG

दया करो, दिखावा नहीं काम चाहिए; भगवंत मान और केजरीवाल पर भड़के दिल्ली के LG

Delhi Air Pollution: दिल्ली के ने प्रदूषण की समस्या को लेकर पंजाब सरकार पर निशाना साधा है। एलजी ने कहा कि दिल्ली में अब भी एक्यूआई 400 के पार है और राजधानी हांफ रही है। उन्होंने पंजाब का नाम भी लिया।

दया करो, दिखावा नहीं काम चाहिए; भगवंत मान और केजरीवाल पर भड़के दिल्ली के LG
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 16 Nov 2023 01:16 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के एलजी वीके सक्सेना ने प्रदूषण की समस्या को लेकर अरविंद केजरीवाल और पंजाब की भगवंत मान सरकार पर बड़ा प्रहार किया है। उन्होंने दिल्ली में 400 के आसपास एक्यूआई का जिक्र करते हुए पंजाब सरकार से जहां दया करने की अपील की तो दिल्ली सरकार पर काम की बजाय सिर्फ दिखावा करने का आरोप लगाया। उन्होंने केजरीवाल सरकार को राजनीति छोड़कर काम करने की नसीहत दी।

दिल्ली के एलजी ने गुरुवार को सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एक्स पर एक के बाद एक तीन पोस्ट में अपनी बात कही। उन्होंने लिखा, 'दूसरे प्रदेशों में फसल जलाने से आने वाले धुएं को लेकर हम ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं, सिवाय इसके कि उनसे विनती करें। राज्यों विशेषकर पंजाब के लापरवाही बरतने के बावजूद हम दया के याचिकाकर्ता हैं। एक्यूआई अभी भी 400 के आसपास है जिससे राजधानी हांफ रही है।' एलजी ने अपने पोस्ट के साथ न्यूज क्लिप भी शेयर की जिसमें कहा गया है कि पंजाब में पराली जलने की बात कही गई है।

केजरीवाल सरकार पर भी प्रहार
एलजी ने केजरीवाल सरकार पर निशाना साधते हुए 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' और 'ऑड-ईवन' जैसे अभियानों को प्रॉपेगेंडा की राजनीति करार दिया और कहा कि इन्हें जरूरत से ज्यादा हाइप दिया गया है। एलजी ने कहा कि इसके लिए दिल्ली की जनता की जान को जोखिम में नहीं डाला जा सकता है। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, 'दिल्ली में सीएनजी लागू होने और फ्लाइओवरों के निर्माण के बाद कुछ भी ठोस नहीं किया गया। दिल्ली को ऐक्शन की जरूरत है, सिर्फ दिखावे की नहीं। हम एक निश्चित समयसीमा के भीतर लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं। चलो ऐसा करते हैं। राजनीति इंतजार कर सकती है।'

दिल्ली सरकार और एलजी के बीच पुराना टकराव
दिल्ली सरकार और एलजी वीके सक्सेना के बीच लंबे समय से टकराव चला आ रहा है। अधिकारों के बंटवारे से लेकर भ्रष्टाचार तक के मुद्दे पर दोनों तरफ से एक दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगाए जाते हैं। एक दूसरे के खिलाफ बेहद तीखे शब्दों का इस्तेमाल किया जा चुका है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें