DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

DDA की जमीन पर बने स्कूलों में होगा ऑनलाइन ड्रॉ, जानें इसकी वजह

फोटो : हिन्दुस्तान

सत्र 2019-20 में डीडीए की जमीन पर बने स्कूलों में कक्षा दो और उसके ऊपर की कक्षाओं में दाखिले के लिए दिल्ली शिक्षा निदेशालय ऑनलाइन ड्रॉ निकालेगा। साथ ही, निगम स्कूलों में 5वीं कक्षा तक के ईडब्ल्यूएस दाखिले भी शिक्षा निदेशालय ही करेगा।

दिल्ली शिक्षा निदेशक संजय गोयल ने बताया कि डीडीए की जमीन पर बने करीब 400 स्कूलों के लिए पहली बार निदेशालय की ओर से यह शुरुआत की जा रही है। ये स्कूल अब तक कक्षा दो और उसके आगे की कक्षाओं में दाखिले के लिए मैन्युअली ड्रॉ निकालते थे, लेकिन अब निदेशालय दाखिले के लिए ऑनलाइन ड्रॉ निकालेगा।  

DDA ने दिल्लीवालों को दिया नए साल का तोहफा, 33 सेवाएं आज से ऑनलाइन

वहीं, 10 जनवरी से शुरू होने जा रही ईडब्ल्यूएस श्रेणी के दाखिले की आवेदन प्रक्रिया में भी बदलाव किया गया है। शिक्षा निदेशक ने बताया कि इस वर्ष निगम से मान्यता प्राप्त सभी निजी स्कूलों में कक्षा पांच तक ईडब्ल्यूएस श्रेणी की सीटें भरने के लिए निदेशालय ऑनलाइन ड्रॉ निकालेगा। पहली बार निजी स्कूलों के साथ जोड़कर एक केंद्रीकृत व्यवस्था के तहत इसे शुरू किया जा रहा है। 

बची हुई सीटें जोड़ी जाएंगी : बीते सत्र में अक्तूबर तक 13 हजार के करीब इडब्ल्यूएस सीटें खाली थीं। सूत्रों के मुताबिक, अभी भी छह हजार से ज्यादा सीटें अलग-अलग कारणों से बची हैं। शिक्षा निदेशालय का कहना है कि बची हुई सीटों को फिर से नए सत्र में जोड़कर आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी। इस तरह निदेशालय करीब 46 हजार ईडब्ल्यूएस कोटे की सीटों के लिए आवेदन प्रक्रिया की तैयारी में है। इसके तहत 25 फरवरी को ईडब्ल्यूएस श्रेणी का पहला ड्रॉ निकाला जाएगा।

25 फीसदी सीटें आरक्षित

शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत निजी स्कूलों की 25 फीसदी सीटें ईडब्ल्यूएस (निम्न आय) व डीजी (वंचित वर्ग) के लिए आरक्षित की गई हैं। इन सीटों पर दाखिला लेने बच्चों को पूरी तरह मुफ्त शिक्षा दी जाती है। स्कूल की जिम्मेदारी होती है कि वे बच्चे को निशुल्क यूनिफार्म और किताबें भी उपलब्ध कराए। दिल्ली शिक्षा निदेशालय के अंतर्गत आने वाले सभी करीब 1700 स्कूलों की 25 फीसदी सीटों पर आवेदन की प्रक्रिया पूरी तरह ऑनलाइन होती है। 

EWS प्रवेश का आधार

  • स्कूल सबसे पहले एक किलोमीटर तक की दूरी से आए ईडब्ल्यूएस व वंचित वर्ग के बच्चों को प्रवेश देंगे
  • एक किलोमीटर के दायरे में रहने वाले बच्चों से सीटें बचती हैं तो तीन किलोमीटर के दायरे में रहने वाले बच्चों को प्रवेश का अवसर मिलेगा
  • अब भी सीटें नहीं भरती हैं तो छह किलोमीटर के दायरे में रहने वाले बच्चों को दाखिला दिया जाएगा
  • इसके बाद भी सीटें बचती हैं तो छह किलोमीटर से अधिक दूरी पर रहने वाले बच्चों को प्रवेश दिया जाएगा

115 बिंदुओं की स्कूल सुरक्षा रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे

स्कूली बच्चों और स्कूल की महिला कर्मियों के सुरक्षित परिवहन मुहैया कराने के संबंध में बुधवार शाम 3 बजे बैठक आयोजित होगी। शिक्षा निदेशालय के मुताबिक, बैठक में सभी जिलों के उप शिक्षा निदेशक 115 बिंदुओं की स्कूल सुरक्षा रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। इसके अलावा, उप शिक्षा निदेशक अपने जिलों के स्कूलों में चलने वाली बसों, कैब और वैन की जानकारी देंगे। अधिकारी यह भी बताएंगे कि सभी निजी स्कूलों में कितनी कैब चल रही हैं।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Online draw will be conduct in schools built on DDA land