ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में नहीं लागू होगा ऑड-ईवन नियम, हवा साफ होने के बाद केजरीवाल सरकार का फैसला

दिल्ली में नहीं लागू होगा ऑड-ईवन नियम, हवा साफ होने के बाद केजरीवाल सरकार का फैसला

odd-even rule in delhi: दिल्ली के पर्यावरण मंत्री ने कहा कि पलूशन में गिरावट देखते हुए सरकार ने ऑड-ईवन नियम को फिलहाल पोस्टपोन कर दिया है। इसे 13 से 20 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

दिल्ली में नहीं लागू होगा ऑड-ईवन नियम, हवा साफ होने के बाद केजरीवाल सरकार का फैसला
Devesh Mishraएएनआई,नई दिल्लीFri, 10 Nov 2023 05:13 PM
ऐप पर पढ़ें

odd-even rule in delhi: राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को हवा की सेहत काफी हद तक सुधर गई। दरअसल, दिल्ली- एनसीआर में बारिश के चलते एक्यूआई में भारी गिरावट दर्ज की गई है। ऐसे में दिल्ली सरकार ने ऑड-ईवन नियम लागू करने का फैसला फिलहाल टाल दिया है। यह जानकारी दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने दी है।

पलूशन कम होने के बाद फैसला
गोपाल राय ने कहा, 'कल रात से दिल्ली के अंदर मौसम में बदलाव हुआ है... दिल्ली में पिछले आठ-दस दिनों से हवा की गति एक ठहराव में थी। तापमान नीचे गिर रहा था, पलूशन के स्तर में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। दिल्ली में पलूशन की स्थिति 'गंभीर प्लस' तक पहुंच गई थी। ऐसे में बारिश के चलते लगातार पलूशन में सुधार देखा जा रहा है। अभी 450 से पार जो प्रदूषण का स्तर था वो लगभग 300 तक पहुंच गया है। इसको देखते हुए अभी सरकार ने यह फैसला लिया है कि 13 (नवंबर) तारीख से लेकर 20 (नवंबर) तारीख तक जो ऑड-ईवन नियम लागू करने का जो फैसला था उसे पोस्टपोन किया जा रहा है।' 

गोपाल राय ने आगे कहा, 'दिवाली के बाद दिल्ली के प्रदूषण के स्थितियों की समीक्षा की जाएगी।' यानी दिल्ली में 20 नवंबर तक के लिए ऑड-ईवन नियम को टाल दिया गया है। इस नियम को लेकर दिवाली के बाद मीटिंग की जाएगी जिसमें इसे 20 तारीख के बाद लागू किया जाए या नहीं इसे लेकर फैसला लिया जाएगा।

इससे पहले गोपाल राय ने कहा था कि उच्चतम न्यायालय द्वारा इसकी प्रभावशीलता की समीक्षा करने और आदेश जारी करने के बाद इस योजना को शहर में लागू किया जाएगा। सर्वोच्च अदालत ने मंगलवार को वाहन प्रदूषण को रोकने के उद्देश्य से दिल्ली सरकार की सम-विषम योजना की प्रभावशीलता पर सवाल उठाया था।

गोपाल राय ने दिवाली के बाद हवा की गुणवत्ता में और गिरावट की आशंका जताते हुए सोमवार को घोषणा की थी कि यह योजना 13 नवंबर से 20 नवंबर के बीच लागू की जाएगी।

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री ने प्रदूषण फैलाने वाले ट्रकों के दिल्ली में प्रवेश पर प्रतिबंध के, छोटे प्रवेश स्थानों पर कार्यान्वयन में लापरवाही पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि सरकार दिल्ली यातायात आयुक्त को पत्र लिखकर ऐसी खामियों को दूर करने का अनुरोध करेगी। उन्होंने कहा कि वह उत्तर प्रदेश और हरियाणा के परिवहन मंत्रियों को पत्र लिखेंगे और उनसे राजधानी की सीमाओं पर जाम से बचने के लिए गैर-जरूरी सामानों की ढुलाई करने वाले ट्रकों को एक्सप्रेसवे पर डायवर्ट करने का निर्देश देने की अपील करेंगे।

बता दें कि वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर और धुंध से पिछले 10 दिन से परेशान दिल्लीवासियों को गुरुवार को रातभर हुई बारिश के कारण राहत मिली और राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता में शुक्रवार को सुबह स्पष्ट सुधार देखा गया। दिल्ली में गुरुवार शाम चार बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 437 था, जो शुक्रवार सुबह सात बजे 408 और फिर दो घंटे बाद नौ बजे तेजी से सुधरकर 376 रहा। प्रदूषक तत्वों के फैलाव के लिए हवा की गति अनुकूल होने के कारण वायु गुणवत्ता में और सुधार होने की उम्मीद है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि दिल्ली के प्राथमिक मौसम केंद्र सफदरजंग वेधशाला ने शुक्रवार को सुबह साढ़े आठ बजे पिछले 24 घंटों में छह मिमी बारिश दर्ज की। मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली के अधिकतर इलाकों में हल्की बारिश हुई। इसके अलावा नोएडा, गुरुग्राम और अन्य पड़ोसी इलाकों में भी हल्की से मध्यम बारिश हुई। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें