ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRनूंह पुलिस में SPO बनने का मौका, आवेदन के लिए क्या-क्या शर्तें; सैलरी से लेकर काम तक जानें सबकुछ

नूंह पुलिस में SPO बनने का मौका, आवेदन के लिए क्या-क्या शर्तें; सैलरी से लेकर काम तक जानें सबकुछ

नूंह के एसपी ने कहा कि एसपीओ भर्ती के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गई है जो 27 सितंबर को समाप्त होगी। इस पद के के लिए क्या नियम व शर्तें हैं और कितना वेतन मिलेगा उन्होंने इस बारे में भी बताया।

नूंह पुलिस में SPO बनने का मौका, आवेदन के लिए क्या-क्या शर्तें; सैलरी से लेकर काम तक जानें सबकुछ
Praveen Sharmaनूंह। लीना धनखड़Fri, 22 Sep 2023 03:11 PM
ऐप पर पढ़ें

हरियाणा के नूंह की साम्प्रदायिक हिंसा से सबक लेते हुए नूंह पुलिस ने अब प्रशिक्षित विशेष पुलिस अधिकारियों (एसपीओ) को नियुक्त करने का फैसला लिया है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने गुरुवार को इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि स्टाफ की कमी से जूझ रही नूंह पुलिस बल को मजबूत करने के लिए 100 एसपीओ को नियुक्त किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि 31 जुलाई को हुई सांप्रदायिक झड़पों के दौरान पर्याप्त संख्या में पुलिस कर्मियों की कमी महसूस की गई थी। पुलिस कर्मियों को भीड़ को हटाने के लिए संघर्ष करना पड़ा और उन्हें अन्य जिलों से भी अतिरिक्त पुलिस बल बुलाना पड़ा था।

पुलिस ने कहा कि नए नियुक्त एसपीओ प्रशिक्षित पूर्व सैनिक होंगे जिन्हें अशांति की समान स्थितियों में तैनात किया जाएगा। पुलिस ने कहा कि वर्तमान में जिले में 800 पुलिसकर्मी और 1100 होम गार्ड, विशेष पुलिस अधिकारी और भारतीय रिजर्व बटालियन बल तैनात हैं।

पुलिस अधीक्षक नरेंद्र बिजारणिया ने कहा कि एसपीओ भर्ती के लिए आवेदन मांगने की प्रक्रिया शुरू हो गई है जो 27 सितंबर को समाप्त होगी। उन्होंने कहा कि सशस्त्र बलों और अर्धसैनिक बलों के रिटायर्ड कर्मियों के अलावा, इंडियन रिजर्व बटालियन के रिटायर्ड कर्मचारियों और 2004 में हरियाणा सशस्त्र बलों से हटाए गए कर्मचारियों को भर्ती में प्राथमिकता दी जाएगी।

हर महीने मिलेगा 18000 रुपये वेतन

बिजारणिया ने कहा कि इन नए भर्ती होने वाले एसपीओ के लिए विशेष ट्रेनिंग कार्यक्रम तैयार किए जाएंगे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि वे कानून और व्यवस्था का प्रबंधन कर सकें। उन्होंने कहा कि एक बार आवेदन शॉर्टलिस्ट हो जाने के बाद आवेदकों के दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा और चयनित लोगों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाएगा। उनके पिछले अनुभव और क्षमताओं के आधार पर उनका चयन किया जाएगा। उन्हें प्रति माह ₹18,000 का भुगतान किया जाएगा।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि राज्य भर में पुलिस कर्मियों की कमी है और सरकार हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से सीधी भर्ती के माध्यम से 5,000 रिक्त पदों को भरने की कोशिश कर रही है। अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, “एसपीओ को काम पर रखने से विभाग को उन कार्यों को प्रबंधित करने के लिए अतिरिक्त बल प्राप्त करने में मदद मिलेगी जिनके लिए अनुभवी हाथों की आवश्यकता होती है। सरकार ने पुलिसकर्मियों की कमी को दूर करने का फैसला किया है।

पुलिस ने कहा कि नए एसपीओ को दैनिक गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने के लिए प्रमुख क्षेत्रों में तैनात किया जाएगा और थानों की पुलिस टीमों को गश्त में मदद मिलेगी।

नौकरी के लिए जरूरी शर्त

पुलिस अधिकारी ने कहा कि सशस्त्र बलों और अर्धसैनिक बलों के रिटायर्ड कर्मियों के अलावा, इंडियन रिजर्व बटालियन के रिटायर्ड कर्मचारियों और 2004 में हरियाणा सशस्त्र बलों से हटाए गए कर्मचारियों को भर्ती के लिए योग्य होंगे। हालांकि, पद के लिए आवेदन करने वाले किसी भी व्यक्ति को अनुशासनहीनता या चिकित्सा कारणों के आधार पर हटाया गया नहीं होना चाहिए और कम से कम पांच वर्षों तक सशस्त्र बलों में सेवा का अनुभव होना  चाहिए। पुलिस ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा निर्धारित अन्य नियम और शर्तें इस भर्ती पर भी लागू होंगी।

वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि एसपीओ के पास पुलिस कर्मियों के समान शक्तियां, विशेषाधिकार और प्रतिरक्षाएं होंगी और वे समान कर्तव्यों और जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए उत्तरदायी होंगे और समान अधिकारियों के अधीन होंगे।

देश और दुनिया की सभी ताजा और चटपटी खबरें पढ़ने के लिए हिन्दुस्तान के वॉट्सऐप चैनल को फॉलो करें