DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब Paytm से भी कर सकेंगे वाहनों के चालान का भुगतान, यहां हुई शुरुआत

ऑनलाइन और हाईटेक होती सभी सेवाओं के इस क्रम में अब ट्रैफिक पुलिस के चालान भी पेटीएम के माध्यम से अदा किए जा सकेंगे। इसकी शुरुआत हरियाणा के फरीदाबाद में हो चुकी है। 

paytm

ऑनलाइन और हाईटेक होती सभी सेवाओं के इस क्रम में अब ट्रैफिक पुलिस के चालान भी पेटीएम के माध्यम से अदा किए जा सकेंगे। इसकी शुरुआत हरियाणा के फरीदाबाद में हो चुकी है। स्मार्ट सिटी में अब वाहन चालक ट्रैफिक चालान का भुगतान मौके पर ही ऑनलाइन कर सकेंगे। बुधवार से पॉयलट प्रोजेक्ट के आधार पर यह सुविधा शुरू हो गई है। ट्रायल सफल रहा तो प्रदेश के अन्य जिलों में भी यह व्यवस्था शुरू कर दी जाएगी। 

इस नई व्यवस्था को लेकर बुधवार को सेक्टर-21 सी स्थित पुलिस आयुक्त कार्यालय के कान्फ्रेंस रूम में आयोजित कार्यक्रम के तहत पुलिस और पेटीएम के बीच समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। जिस पर पुलिस आयुक्त संजय कुमार, डीसीपी ट्रैफिक लोकेंद्र सिंह और पेटीएम के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अभय सिंह ने करार पर हस्ताक्षर किए। इस मौके पर ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी भी मौजूद थे।

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि अभी तक जिला पुलिस के पास मौके पर नगद ही चालान भुगतान की सुविधा है। ऐसे में अगर किसी के पास जेब में पैसे नहीं है तो एक सप्ताह में पुलिस की चालानिंग शाखा और उसके बाद अदालत में ही जाकर चालान भुगतना पड़ता था, लेकिन अब इससे वाहन चालकों को काफी सहुलियत मिल सकेगी। डिजिटल इंडिया के इस दौर में अब नए बच्चे जेब में पैसे नहीं रखते। ऐसे में वे सीधे पेटीएम से चालान का मौके पर ही भुगतान कर सकेंगे। पिछले करीब छह महीने से डीसीपी लोकेंद्र सिंह इस नई व्यवस्था को शुरू करने पर काम कर रहे थे। डीसीपी ट्रैफिक ने बताया कि यह डिजिटल की पहल है। आने वाले दिनों में इसके सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। इस व्यवस्था से मौके पर चालान के जुर्माने की अदायगी करने से वाहन चालकों का काफी समय भी बचेगा। हालांकि उन्होंने साफ किया कि पहले से जो चालान भुगतने की जो व्यवस्थाएं हैं, वह भी चालू रहेंगी।

कुछ चालान मौके पर जमा नहीं किए जाएंगे

यातायात के कुछ नियमों की अवेहलना करने पर वाहन चालकों से मौके पर जुर्माना नहीं वसूला जाएगा। उन्हें पहले की तरह चालानिंग शाखा व कोर्ट में जाकर ही जुर्माने की अदायगी करनी होगी। इनमें शराब पीकर वाहन चलाने की धारा, मोबाइल पर बात करते हुए वाहन चलाने व कॉमर्शियल वाहन में सवारी ढोने समेत छह धाराएं शामिल हैं।

ऐसे करें पेटीएम का इस्तेमाल

 

मोबाइल पर पेटीएम ऐप डाउन लोड करें। सिटी सर्विस में जाकर ट्रैफिक लाइट चालान का विकल्प क्लिक करें। फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस का विकल्प चुनें। अपने ई-चालान का नंबर डालें। जहां गाड़ी का नंबर और जुर्माना समेत ब्योरा दिखाई देगा। ऑनलाइन डेविड, क्रेडिट समेत अन्य सुविधाओं से जुर्माने की अदायगी करें।

डेबिट व क्रेडिट कार्ड के बारे में बैंकों से चल रही बात

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने कहा कि पेटीएम के अलावा भी वह अन्य कई ऐप कम्पनियों के संपर्क में हैं। बैंकों से भी बातचीत चल रही है, ताकि भविष्य में चालान के जुर्माने की अदायगी सीधे डेबिट व क्रेडिट कार्ड से हो सके। पुलिस का फोकस ई चालान पर है। सरकार से अनुमति लेकर पेटीएम की यह व्यवस्था शुरू की गई। इससे सीधा पैसा सरकार के खाते में जाएगा। चालान का भुगतान करने पर ऐप यूजर को किसी तरह का कोई कैश बैक ऑफर नहीं मिलेगा। चालान भुगतने के दौरान फिलहाल लोगों से किसी तरह का कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। पेटीएम आगे इस पर निर्णय लेने के बाद जानकारी देगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Now People can pay vehicles challan by Paytm Pilot project start in Faridabad