ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRरेकी कर वाहन चुराने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड, 33 टू व्हीलर्स बरामद

रेकी कर वाहन चुराने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड, 33 टू व्हीलर्स बरामद

नोएडा पुलिस ने दिल्ली-एनसीआर में सक्रिय चार संदिग्ध ऑटो चोरों की गिरफ्तारी के साथ 33 चोरी के दोपहिया वाहन और एक ई-रिक्शा बरामद करने का दावा किया। दो अलग-अलग अभियानों में गिरफ्तारियां की गईं।

रेकी कर वाहन चुराने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड, 33 टू व्हीलर्स बरामद
Krishna Singhहिन्दुस्तान,नोएडाSun, 09 Jun 2024 12:03 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा सेक्टर-39 और 113 की पुलिस ने शनिवार को रेकी कर वाहन चुराने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर दो बदमाशों को गिरफ्तार किया। उनकी निशानदेही पर 30 बाइक, तीन स्कूटी, एक ई-रिक्शा, तमंचा और कारतूस बरामद हुए। बदमाशों ने नोएडा से भी कई बाइक चोरी की है। लोगों को डराने के लिए ये बदमाश तमंचा और चाकू अपने पास रखते थे। डीसीपी विद्यासागर मिश्रा ने बताया कि सेक्टर-39 थाना क्षेत्र से दोपहिया वाहनों की चोरी होने की शिकायतें लगातार मिल रही थीं। 

घेरेबंदी कर दो युवकों को दबोचा
इसके चलते एक टीम गठित की गई। टीम को शनिवार को सूचना मिली कि वाहन चोरों का एक गिरोह वारदात करने के लिए आया है। पुलिस ने इसके बाद घेरेबंदी कर दो युवकों को दबोच लिया। पूछताछ करने पर युवकों ने खुद को वाहन चोर बताते हुए अपना नाम दिल्ली के मयूर विहार निवासी अनिमेश उर्फ अन्नी और सेक्टर-45 निवासी शिवम बताया। 

12 बाइक, तीन स्कूटी और एक ई-रिक्शा बरामद
सोम बाजार के पास से दबोचे गए दोनों वाहन चोरों की निशानदेही पर अलग-अलग जगहों से 12 बाइक, तीन स्कूटी और एक ई-रिक्शा बरामद हुआ। अनिमेश के खिलाफ हरियाणा, दिल्ली और नोएडा के अलग-अलग थानों में छह, जबकि शिवम के खिलाफ सात मुकदमे दर्ज हैं। अन्य थानों से भी बदमाशों का आपराधिक इतिहास पता किया जा रहा है।

ओएलएक्स समेत अन्य वेबसाइटों पर बेचे देते थे वाहन
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे रेकी करने के बाद ऑन डिमांड वाहनों की चोरी करते थे। चोरी के वाहनों को आरोपी ओएलएक्स समेत अन्य वेबसाइट पर बेहद कम दाम में बेचे देते थे। गिरोह में कई अन्य सदस्यों के शामिल होने की जानकारी पुलिस को मिली है। पुलिस अन्य बदमाशों की जानकारी जुटा रही है। बेरोजगारी और नशे की लत के कारण 19 वर्षीय अनिमेश और 20 वर्षीय शिवम वाहन चोरी की वारदात करने लगे। सुनसान जगहों पर खड़े वाहन चोरों के निशाने पर रहते थे।