ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर 2 महीने रफ्तार पर लगेगा ब्रेक, 15 दिसंबर से कम होगी वाहनों की गति सीमा

ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर 2 महीने रफ्तार पर लगेगा ब्रेक, 15 दिसंबर से कम होगी वाहनों की गति सीमा

नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर कोहरे को देखते हुए 15 दिसंबर से वाहनों की गति सीमा घटाई जाएगी। एक्सप्रेसवे के साथ-साथ एमपी टू एलिवेटेड रोड समेत शहर की आंतरिक सड़कों पर भी गति सीमा कम की जाएगी।

ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर 2 महीने रफ्तार पर लगेगा ब्रेक, 15 दिसंबर से कम होगी वाहनों की गति सीमा
Praveen Sharmaग्रेटर नोएडा। हिन्दुस्तानSun, 10 Dec 2023 06:35 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर कोहरे को देखते हुए 15 दिसंबर से वाहनों की गति सीमा घटाई जाएगी। एक्सप्रेसवे के साथ-साथ एमपी टू एलिवेटेड रोड समेत शहर की आंतरिक सड़कों पर भी गति सीमा कम की जाएगी। ट्रैफिक पुलिस ने यह निर्णय लिया है। यह व्यवस्था 15 फरवरी 2024 तक लागू रहेगी।

नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे करीब 24 किलोमीटर लंबा है, जिसमें से 20 किलोमीटर का हिस्सा नोएडा के क्षेत्र में आता है। पिछले कुछ सालों में यहां काफी हादसे हो चुके हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अगले सप्ताह से कोहरा पड़ने की संभावना है। ऐसे में सड़क हादसे की आशंका बढ़ जाती है। हादसे रोकने के लिए पहले से ही जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं।

डीसीपी ट्रैफिक अनिल कुमार यादव ने बताया कि एक्सप्रेसवे, एमपी टू एलिवेटेड रोड सहित शहर की छह सड़कों पर गति सीमा घटाई जाएगी। एक्सप्रेसवे पर हल्के वाहन (चार पहिया) के लिए गति सीमा 100 से घटाकर 75 किलोमीटर और भारी वाहनों के लिए 80 से घटाकर 60 किलोमीटर प्रति घंटा की जाएगी। उन्होंने बताया कि एमपी टू स्थित एलिवेटेड रोड पर हल्के वाहनों के लिए 50 और भारी वाहनों के लिए 40 किलोमीटर प्रति घंटा रफ्तार तय की गई है। मास्टर प्लान रोड नंबर-1(डीएनडी टोल प्लाजा से सेक्टर-57 चौराहा), 2(सेक्टर-18 से सेक्टर-60 अंडरपास), 3(कालिंदी कुंज से सेक्टर-122) और रोड नंबर-6(सेक्टर-62 मॉडल टाउन गोलचक्कर से सेक्टर-71 अंडरपास) के अलावा डीएससी (दादरी-सूरजपुर-छलेरा) रोड पर भी वाहनों की गति कम की जाएगी। इन जगह 80 से घटाकर 60 किलोमीटर प्रति घंटा रफ्तार तय होगी।

गौरतलब है कि कोहरे को देखते हुए नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर वाहनों की गति सीमा दूसरी बार घटाई जा रही है । पहली बार यह व्यवस्था वर्ष 2022 में शुरू हुई थी।

यमुना एक्सप्रेसवे पर भी रफ्तार कम होगी

वहीं, कोहरे में हादसों की आशंका के मद्देनजर यमुना एक्सप्रेसवे पर दो माह के लिए छोटे और बड़े वाहनों की गति पर अंकुश लगेगा। गति पर प्रतिबंध 15 फरवरी तक जारी रहेंगे। यमुना एक्सप्रेसवे अथॉरिटी 70 दिन के लिए गति सीमा पर पाबंदी लागू कर रहा है। अब हल्के वाहन 100 किमी प्रति घंटा की बजाय 75 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ सकेंगे। वहीं, भारी वाहनों के लिए पहले की तरह अधिकतम गति 60 किमी प्रति घंटे ही तय की गई है।

नियम तोड़ने पर चालान

ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर तेज गति का नियम तोड़ने वालों के कैमरों से चालान किए जा रहे हैं। अभी तक इनमें हल्के वाहनों के लिए 100 किलोमीटर प्रति घंटा रफ्तार तय है। अब 75 किमी प्रति घंटा के हिसाब से कैमरों को सेट किया जाएगा।

बोर्ड जल्द लगाए जाएंगे

गति सीमा घटाने से संबंधित जानकारी देने के लिए जल्द ही प्राधिकरण एक्सप्रेसवे और उससे पहले के रास्तों पर संबंधित जानकारी देने के लिए बोर्ड लगाएगा। कोहरे से बचाव के लिए ब्लिंकर भी लगाए जाएंगे।

पिछले पांच सालों में हुए सड़क हादसे

साल          हादसे

2019         1162

2020          740

2021          798

2022          1122

2023          1002

(वर्ष 2023 के आंकड़े 30 नवंबर तक के हैं) 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें