ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRनोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर बनेगा एक और अंडरपास, कई सेक्टर-गांव को फायदा; ट्रैफिक जाम से भी राहत

नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर बनेगा एक और अंडरपास, कई सेक्टर-गांव को फायदा; ट्रैफिक जाम से भी राहत

नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर एक और अंडरपास बनाया जाएगा। इसके बनने से ट्रैफिक जाम से राहत मिलेगी। इसको बनाने में करीब 92 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा। अंडरपास की लंबाई करीब 800 मीटर होगी।

नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर बनेगा एक और अंडरपास, कई सेक्टर-गांव को फायदा; ट्रैफिक जाम से भी राहत
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नोएडाTue, 06 Feb 2024 06:37 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर एक नया अंडरपास बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई। इससे जाम से राहत मिलेगी। नोएडा विकास प्राधिकरण ने झट्टा गांव के सामने बनने वाले इस अंडरपास की लागत तय कर दी है। इसको बनाने में करीब 92 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा। अंडरपास की लंबाई करीब 800 मीटर होगी। यह चार लेन का बनाया जाएगा। 

प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि अंडरपास के एक तरफ सेक्टर-145, 146 और दूसरी तरफ सेक्टर-155, 159 सेक्टर हैं। इसके सामने झट्टा गांव है। यहां पर भी छोटा अंडरपास बना हुआ है। यहां वाहनों का दबाव अधिक रहता है। इससे जाम लग जाता है। अब यहां नया अंडरपास बनाया जाएगा। इसके बनने से करीब एक दर्जन से अधिक सेक्टर और गांवों में रहने वालों को फायदा होगा।

पिछले महीने 12 जनवरी को प्राधिकरण के सीईओ डॉक्टर लोकेश एम ने एक्सप्रेसवे का निरीक्षण कर झट्टा अंडरपास के परियोजना को मंजूरी दी थी। दूसरी तरफ मेट्रो रूट भी है और सेक्टर-145 मेट्रो स्टेशन है। अधिकारियों ने बताया कि एक्सप्रेसवे पर दूसरा अंडरपास सुल्तानपुर गांव के सामने बनेगा। इसकी लागत तय करने का आकलन चल रहा है। 

पहला अंडरपास महामहाया प्लाईओवर से करीब छह किलोमीटर की दूरी पर बनाया जाएगा। इस स्थान के एक तरफ सेक्टर-135, 138 और दूसरी तरफ 105, 108 सेक्टर हैं। इसके सामने ही सुल्तानपुर गांव है। अभी यहां पर छोटा अंडरपास बना हुआ है। यहां बड़े वाहन अटक जाते हैं तथा एक-दूसरे के सामने वाहन आने पर लंबा जाम लग जाता है। इसके पास ही चार लेन का बड़ा अंडरपास बनाया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि बीते एक साल में नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर सेक्टर-152 सफीपुर, सेक्टर-142 एडवेंट और सेक्टर-96 अंडरपास शुरू हुए हैं। इससे पहले छह छोटे अंडरपास थे।

एक्सप्रेसवे पर ट्रैफिक घटाने को विकल्प तलाशा जा रहा

नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर वाहनों का दबाव लगता बढ़ता जा रहा। अब इस साल जेवर एयरपोर्ट की शुरुआत हो जाएगी। इससे यहां जाम लग सकता है। इसको देखते हुए नोएडा से ग्रेनो आने-जाने के लिए एक्सप्रेसवे का विकल्प तलाशा जा रहा है। अभी तक की तैयारी के मुताबिक कालिंदी कुंज के पास से यमुना पुस्ते पर ग्रेटर नोएडा तक एक्सप्रेसवे या एलिवेटेड रोड बनाने की तैयारी है। इसके बनने से राहत मिलेगी। अभी बने एक्सप्रेसवे पर ट्रैफिक घट जाएगा। प्राधिकरण ने यमुना पुस्ते से जुड़ी फिजिबिलिटी रिपोर्ट एनएचएआई को भेज दी है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें