DA Image
8 मई, 2021|1:00|IST

अगली स्टोरी

निकिता तोमर हत्याकांड में कोर्ट शाम 4 बजे सुना सकती है सजा, पिता बोले- सरकार की ओर से बेटी को कोई सम्मान नहीं मिला

nikita tomar father moolchand

बल्लभगढ़ के बहुचर्चित निकिता तोमर हत्याकांड में फरीदाबाद की एक फास्ट ट्रैक कोर्ट आज आरोपियों को सजा सुना सकती है। कोर्ट शाम 4:00 बजे फैसला सुना सकती है। फैसला आने से पहले निकिता के पिता मूलचंद तोमर ने कहा कि उन्हें न्याय प्रक्रिया पर पूरा भरोसा है और आरोपियों को अवश्य ही फांसी की सजा मिलेगी। उन्होंने कहा कि यह 'लव जिहाद' का मामला है और सरकार ने उन्हें भरोसा दिलाया था 'लव जिहाद' पर अवश्य ही कानून बनाया जाएगा। दूसरे प्रदेशों में तो कानून बन गया, लेकिन हरियाणा प्रदेश में कानून आज तक नहीं बना है। 

उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है कि सरकार निकिता हत्याकांड को पूरी तरह भूल चुकी है। उन्होंने कहा कि निकिता को सरकार की ओर से कोई सम्मान नहीं मिला, जबकि निकिता ने 'लव जिहाद' को लेकर अपना बलिदान दिया है। उन्होंने दावा किया कि उन्हें भरोसा है कि आज आरोपियों को फांसी मिलेगी और उनकी बेटी को न्याय मिलेगा। 

कॉलेज ने लौटते वक्त हुई थी हत्या

गौरतलब है कि हरियाणा के फरीदाबाद में सोमवार 26 अक्टूबर 2020 को दिनदहाड़े कार सवार दो बदमाशों ने मिल्क प्लांट रोड पर अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर घर लौट रही बी.कॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर (20 वर्षीय) की गोली मारकर हत्या कर दी थी। लहूलुहान हालत में छात्रा को पास के निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। हत्या के बाद आरोपी भागने में सफल रहे। हत्या की यह वारदात घटनास्थल के पास लगे एक सीसीटीवी में कैद हो गई थी। वायरल वीडियो में हत्या से पहले दो लड़के छात्रा को जबरन कार में खींचने की कोशिश करते दिख रहे थे, लेकिन जब वह कामयाब नहीं हो पाए तो उन्होंने छात्रा को गोली मार दी थी। कथित तौर आरोपी निकिता पर धर्म परिवर्तन और शादी करने के लिए दबाव बना रहा था। 

रसूखदार परिवार से संबंध रखता है तौसिफ

मुख्य आरोपी तौसिफ राजनीतिक रसूखदार परिवार से संबंध रखता है। तौसिफ के दादा कबीर अहमद विधायक रह चुके हैं, जबकि चाचा खुर्शीद अहमद हरियाणा के पूर्व मंत्री रहे हैं। वहीं, एक अन्य रिश्तेदार (रिश्ते में भाई) आफताब अहमद वर्तमान में कांग्रेस के नूंह (मेवात) से विधायक हैं। 21 वर्षीय तौसिफ फिजियो थेरेपिस्ट का कोर्स कर रहा है जोकि थर्ड ईयर में है। वारदात में शामिल दूसरा आरोपी रेहान निवासी रेवासन जिला नूंह का रहने वाला है और वह तौसिफ का दोस्त है।

ये भी पढ़ें :- निकिता के पिता ने बताई, 2018 में तौसिफ के खिलाफ केस वापस लेने की वजह 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nikita Tomar murder case Faridabad Fast track court can hear sentence at 4 pm Nikita father said - daughter has not received any honour from govt