DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  SIT ने शुरू की निकिता मर्डर केस की जांच, मृतका के घर पहुंची टीम ने परिवार से किए सवाल-जवाब

एनसीआरSIT ने शुरू की निकिता मर्डर केस की जांच, मृतका के घर पहुंची टीम ने परिवार से किए सवाल-जवाब

फरीदाबाद। एएनआईPublished By: Praveen Sharma
Wed, 28 Oct 2020 01:10 PM
SIT ने शुरू की निकिता मर्डर केस की जांच, मृतका के घर पहुंची टीम ने परिवार से किए सवाल-जवाब

Nikita Murder case : निकिता हत्याकांड की जांच के लिए बनाई गई एसआईटी ने छानबीन शुरू कर दी है। एसआईटी की टीम बुधवार को दोपहर मृतका के घर जाकर पीड़ित परिवार से मुलाकात की और उनसे कुछ सवाल-जवाब भी किए। पुलिस ने हत्या के मुख्य आरोपी सहित दो को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने मंगलवार को दोनों को अदालत में पेश कर दो दिन की रिमांड पर लिया है।

मुख्य अभियुक्त की पहचान तौसिफ निवासी सोहना, जिला गुरुग्राम तथा दूसरे आरोपी रेहान निवासी रीवासन जिला नूंह के रूप में हुई। पुलिस कमिश्नर ओ.पी. सिंह ने बताया कि इस मामले में एसआईटी टीम भी गठित की गई है। क्राइम एसीपी अनिल कुमार के नेतृत्व में गठित यह टीम पूरे मामले की जांच करेगी। परिजनों की मांग पर इस पूरे मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। पुलिस पीड़ित परिवार के साथ है। आरोपी के खिलाफ इलेक्ट्रॉनिक्स एवं अन्य कई तरह के गुप्त साक्ष्य पुलिस के पास हैं। उनके आधार पर कोर्ट में अच्छी पैरवी कर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।

निकिता से एकतरफा प्रेम करता था तौसिफ, पहले भी किया था अपहरण

गौरतलब है कि हरियाणा के फरीदाबाद में सोमवार को दिनदहाड़े कार सवार दो बदमाशों ने मिल्क प्लांट रोड पर अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर घर लौट रही बी.कॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर (20 वर्षीय) की गोली मारकर हत्या कर दी थी। लहूलुहान हालत में छात्रा को पास के निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हत्या के बाद आरोपी भागने में सफल रहे। हत्या की यह वारदात घटनास्थल के पास लगे एक सीसीटीवी में कैद हो गई। घटना का वीडियो खूब वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो के अनुसार, दो लड़के छात्रा को जबरन कार में खींचने की कोशिश करते दिख रहे हैं, लेकिन जब वह कामयाब नहीं हो पाए तो उन्होंने रिवॉल्वर निकालकर छात्रा को गोली मार दी।

मुख्य आरोपी तौसिफ राजनीतिक रसूखदार परिवार से संबंध रखता है। तौसिफ के दादा कबीर अहमद विधायक रह चुके हैं, जबकि चाचा खुर्शीद अहमद हरियाणा के पूर्व मंत्री रहे हैं। वहीं, एक अन्य रिश्तेदार (रिश्ते में भाई) आफताब अहमद वर्तमान में कांग्रेस के नूंह (मेवात) से विधायक हैं। 21 वर्षीय तौसिफ फिजियो थेरेपिस्ट का कोर्स कर रहा है जोकि थर्ड ईयर में है। वारदात में शामिल दूसरा आरोपी रेहान निवासी रेवासन जिला नूंह का रहने वाला है और वह तौसिफ का दोस्त है। 

12वीं तक निकिता के साथ पढ़ा है आरोपी

पुलिस सूत्रों का कहना है कि निकिता शहर के एक प्राइवेट स्कूल में पांचवीं से 12वीं कक्षा तक पढ़ी है। आरोपी तौसिफ यूं तो कबीर नगर, सोहना गुरुग्राम का मूल निवासी है, पर बल्लभगढ़ में निकिता के ही स्कूल में 12वीं कक्षा तक पढ़ा था और यहां हॉस्टल में रहता था। तभी से वो निकिता से एकतरफा प्यार करने लगा था। उस पर यह भी आरोप है कि वह बार-बार निकिता को परेशान करता था। 

2018 में दर्ज हुआ था आरोपी तौसिफ के खिलाफ केस

पुलिस ने बताया कि तौसिफ वर्ष 2018 में भी लड़की का अपहरण कर अपने साथ ले गया था, जिस पर थाना सिटी बल्लभगढ़ में मामला दर्ज किया गया था। उस वक्त वह नाबालिग थी, केस दर्ज होने के बाद तौसिफ और उसके घरवालों ने माफी मांगी थी। निकिता के पिता के अनुसार इसलिए मुकदमा वापस ले लिया गया था।

पुलिस ने निकिता हत्याकांड में पुलिस ने मुख्य आरोपी सहित दो को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने मंगलवार को दोनों को अदालत में पेश कर दो दिन की रिमांड पर लिया है। इसके बाद हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने फरीदाबाद के पुलिस कमिश्ननर को पीड़िता के परिवार को सुरक्षा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ खड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गृहमंत्री ने कहा कि परिवार की सुरक्षा के लिए फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर से बात की गई है, जल्द ही उन्हें सुरक्षा दी जाएगी और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। वहीं, पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह के अनुसार, पुलिस के पास आरोपियों के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं, जिनके आधार पर उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।  

संबंधित खबरें