DA Image
19 जनवरी, 2021|1:30|IST

अगली स्टोरी

निकिता हत्याकांड : महापंचायत में शामिल सभी लोग 10 दिन के लिए क्वारंटाइन, तीन में मिला Covid-19 वायरस

mahapanchayat in faridabad   file photo

निकिता हत्याकांड को लेकर रविवार को बल्लभगढ़ के दशहरा मैदान में आयोजित हुई सर्व समाज की महापंचयत में शामिल सभी लोगों को दस दिन तक क्वारंटाइन में रहने के लिए गाइडलाइन जारी कर दी गई हैं। पुलिस पर पथराव और नेशनल हाईवे जाम करने के आरोप में गिरफ्तार आरोपियों में तीन की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उपायुक्त यशपाल यादव ने यह आदेश जारी किए हैं। साथ ही इस तरह के आयोजनों पर रोक लगा दी है। उपायुक्त के इस आदेश के साथ ही अब आठ नवंबर को बल्लभगढ़ दशहरा मैदान में शोक सभा के आयोजन पर भी संशय बन गया है। इसके अलावा महापंचायत के आयोजक भी नियमानुसार अब दस दिन तक घर से बाहर नहीं निकल सकेंगे।

महापंचायत में चारों तरफ घूम रहे थे आरोपी : उपायुक्त

उपायुक्त यशपाल ने जारी बयान में बताया कि रविवार को निकिता हत्याकांड को लेकर बल्लभगढ़ के दशहरा ग्राउंड में आयोजित महापंचायत के दौरान हुए हंगामे के बाद पुलिस ने 28 लोगों को गिरफ्तार किया था। इन सभी की स्वास्थ्य व कोविड जांच के दौरान तीन लोग कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। यह लोग सभा के अंदर लगातार घूमते रहे और यहां कोविड-19 के नियमों का पालन भी नहीं किया गया। ऐसे में महापंचायत में शामिल सभी लोगों को अगले 10 दिन तक होम क्वारंटाइन होने की एडवाइजरी जारी की जा रही है।

महामारी के नियमों का नहीं किया पालन

उपायुक्त ने बताया कि पिछले 10 दिन से जिला में कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और प्रतिदिन 300 के लगभग कोविड-19 पॉजिटिव मामले सामने आ रहे हैं। इतनी गंभीर स्थिति होने के बावजूद कुछ लोगों ने रविवार को बल्लभगढ़ के दशहरा मैदान में महापंचायत का आयोजन किया। उन्होंने बताया कि महापंचायत के दौरान कुछ लोगों ने हंगामा किया और हाईवे जाम करने की कोशिश भी की। इसी दौरान पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 28 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन गिरफ्तार किए गए 28 लोगों की जब कोविड-19 जांच करवाई गई तो इनमें से तीन लोग कोविड-19 से बुरी तरह से संक्रमित मिले। यह लोग लगातार कार्यक्रम में मंच व लोगों के बीच घूमते रहे। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम के दौरान लोगों ने कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया। इससे गंभीरता और ज्यादा बढ़ जाती है। इससे महापंचायत में शामिल अन्य सभी लोगों के भी कोविड पॉजिटिव होने की संभावना है। इसी को देखते हुए सिविल सर्जन फरीदाबाद ने सभा में शामिल सभी लोगों के लिए एडवाइजरी जारी की है। एडवाइजरी में सभी लोगों को दस दिन तक होम क्वारंटाइन होने की सलाह दी गई है ताकि इस महामारी के फैलाव को रोका जा सके।

सभाओं पर लगाई रोक

उपायुक्त ने भविष्य में इस तरह की सभाएं न करने के भी निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने आम जनता से भी अपील की है कि वह कोविड-19 (कोरोना) महामारी की गंभीरता को समझें और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें व मास्क का प्रयोग अवश्य करें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nikita murder case : people joined mahapanchayat in ballabhgarh sent in 10 days quarantine