DA Image
29 अक्तूबर, 2020|12:30|IST

अगली स्टोरी

निकिता मर्डर केस: आरोपी तौसिफ ने जुर्म कबूला, बोला- उसे मारकर '2018 कांड' का बदला लिया, जानें क्या हुआ था उस वक्त

nikita murder case

1 / 3Nikita Murder Case

nikita murder case

2 / 3Nikita Murder Case

nikita tomar murder case accused tausif was behind nikita from 12th had also kidnapped earlier

3 / 3

PreviousNext

हरियाणा के वल्लभगढ़ में सोमवार को दिनदहाड़े परीक्षा देकर घर लौट रही बी.कॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर (20 वर्षीय) की गोली मारकर हत्या कर दी गई, जिसके बाद बवाल जारी है। हरियाणा के वल्लभगढ़ में छात्रा निकिता की हत्या मामले में मुख्य आरोपी तौसिफ (तौसीफ) और उसके दोस्त रेहान को गिरफ्तार कर लिया गया है। निकिता हत्याकांड के दो दिन बाद इस हत्या की वजह सामने आ गई है। निकिता के हत्यारोपी तौसीफ ने पुलिस की पूछताछ में अपना जुर्म कुबूल कर लिया है और उसने बताया है कि आखिर इस दर्दनाक वारदात को अंजाम क्यों दिया। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो आरोपी तौसिफ निकिता से शादी करना चाहता था, मगर उसकी शादी कहीं और हो रही थी, जिस वजह से उसने उसकी दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी। 

इस वजह से तौसिफ ने की हत्या
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो हत्या के पीछे साल 2018 की एक घटना है। पुलिस पूछताछ में हत्यारोपी तौसिफ ने कथिततौर पर अपना जुर्म कुबूल किया है और कहा, 'मैंने उसे मारा क्योंकि वह किसी और से शादी करने जा रही थी। पूछताछ में उसने दावा किया कि निकिता के परिवार की ओर से साल 2018 में दर्ज केस की वजह से उसका करियर तबाह हो गया। उसने कहा, 'मैंने मेडिकल की पढ़ाई नहीं की, क्योंकि मुझे गिरफ्तार कर लिया गया था। और इसलिए मैंने बदला लिया।'

घटना के एक दिन पहले हुई थी तौसिफ और निकिता में बातचीत
उसने 25 अक्टूबर की रात को निकिता के साथ बातचीत करने की बात भी कबूल की है। हरियाणा पुलिस की अब तक की जांच में मिले कॉले डिटेल्स से यह बता चला है कि निकिता और तौसिफ के बीच हत्या वाले दिन से एक दिन पहले तक बातचीत हुई है। तौसिफ उसकी मर्जी के खिलाफ उसे घर से भागने और उसके साथ शादी करने का दबाव बना रहा था। बताया जा रहा है कि आरोपी और पीड़िता ने 12वीं तक साथ में पढ़ाई की है। निकिता ने जिस प्राइवेट स्कूल में पांचवीं से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई की, उसी स्कूल में आरोपी तौसिफ भी पढ़ता था। वह, यहां हॉस्टल में रहता था। इसी दौरान वह निकिता से एकतरफा प्यार करने लगा। वह निकिता का प्यार पाने के लिए उसे बार-बार परेशान भी किया करता था।

2018 में तौसिफ पर दर्ज हुआ था मामला
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो तौसिफ पर आरोप है कि उसने 2018 में निकिता का अपहरण कर लिया था। उसके खिलाफ बल्लभगढ़ थाने में मामला भी दर्ज किया गया था। इस समय निकिता नाबालिग थी। तौसिफ और उसके परिवार वालों ने माफी मांग ली, जिसके बाद निकिता के पिता ने मुकदमा वापस ले लिया। हालांकि, तौसीफ का एकतरफा प्यार खत्म नहीं हुआ।

रसूखदार परिवार से है तौसिफ
21 वर्षीय तौसिफ फिजियो थेरेपिस्ट का कोर्स कर रहा है। निकिता की हत्या में उसके दोस्त रेहान ने भी मदद की है। तौसिफ एक राजनीतिक रसूखदार परिवार से संबंध रखता है। उसके दादा कबीर अहमद विधायक रह चुके हैं, जबकि चाचा खुर्शीद अहमद हरियाणा के पूर्व मंत्री रहे हैं। इसके अलावा अन्य रिश्तेदार आफताब अहमद वर्तमान में कांग्रेस के नूंह (मेवात) से विधायक हैं। 

कब और कैसे हुई हत्या
सोमवार को फरीदाबाद में मिल्क प्लांट रोड पर अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर घर लौट रही निकिता तोमर की उसने गोली मारकर हत्या कर दी। इसमें उसके दोस्त ने भी उसकी मदद की। लहूलुहान हालत में निकिता को को पास के निजी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक वह दुनिया छोड़ चुकी थी। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हालांकि कथित तौर पर हत्या के बाग तौशीफ मौके से फरार होने में सफल रहा, लेकिन सीसीटीवी ने उसकी हर हरकतों को कैद कर लिया। पुलिस के हाथ लगे सीसीटीवी फुटेज से पहले तो दोनों आरोपियों की पहचान हुई। बाद में उन्हें धर दबोचा गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nikita Murder Case accused Tauseef Ahmed Confessed his crime and tells why he murdered Nikita Faridabad Murder case Nikita Tomar murder case Tausif