DA Image
8 अप्रैल, 2021|5:05|IST

अगली स्टोरी

नोएडा में भी 17 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू पर लागू, रात 10 बजे से सुबह 5 बजे घरों से निकलने पर रोक

noida police

देश और प्रदेश में एक बार फिर तेजी से पैर पसार रहे कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर गौतमबुद्ध नगर में 17 अप्रैल तक के लिए नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। नाइट कर्फ्यू का समय रात दस बजे से सुबह पांच बजे तक रहेगा। हालांकि, इस दौरान आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं से जुड़े लोगों को छूट रहेगी। इससे पहले पड़ोसी शहर दिल्ली और गाजियाबाद में भी नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है।

जिलाधिकारी सुहास एलवाई द्वारा गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग, पुलिस तथा अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक में इस संबंध में निर्णय लिया गया। नाइट कर्फ्यू के साथ ही सभी सरकारी, निजी शिक्षण संस्थान (मेडिकल, पैरा मेडिकल और नर्सिंग को छोड़कर) और कोचिंग सेंटर्स में 17 अप्रैल 2021 तक ऑफलाइन क्लासों पर रोक रहेगी। हालांकि, प्रैक्टिकल सहित सभी परीक्षाएं अपने शेड्यूल के अनुसार आयोजित की जाएंगी और इस आदेश से छूट दी जाएगी।

इस दौरान पुलिस और सभी लोगों को अपने वर्क प्लेस और सार्वजनिक स्थानों पर मास्क और अन्य कोविड प्रोटोकॉल का गंभीरता से पालन करना होगा। शासन के द्वारा नाइट कर्फ्यू का फैसला जिलाधिकारियों को लेने के निर्देश दिए गए थे। जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिले में कुछ सख्ती बढ़ाई जाएगी। उन्होंने सभी से कोविड-19 प्रोटोकोल का पालन करने की अपील की है।

जिले में अब तक कुल 26,697 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें से 25,952 मरीज कोरोना मुक्त होकर अपने घर लौट गए हैं। वहीं, 93 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है। 

रिकॉर्ड 125 संक्रमित मिले, सिर्फ दो दिन का टीका बचा

गौतमबुद्ध नगर में चार महीने के बाद बुधवार को एक दिन में सबसे अधिक रिकॉर्ड 125 मरीजों की पुष्टि की गई। इससे पहले छह दिसंबर को 138 कोरोना संक्रमित मरीज मिले थे। वहीं,स्वास्थ्य विभाग के पास अब दो दिनों की वैक्सीन ही बची है। मार्च के बाद से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हुई है। आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण का और भी फैलाव होने की आशंका जताई जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को कोविड अस्पताल और होम आइसोलेशन से 49 मरीज स्वस्थ हुए। सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 652 हो गई है। कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 26,697 तक पहुंच गई है। कोरोना संक्रमण के बढ़ने का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 15 फरवरी को जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या 42 थी, जो अब 15 गुना बढ़ गई है।

निजी अस्पतालों में भी इलाज की सुविधा शुरू

कोरोना संक्रमण को बढ़ता देख स्वास्थ्य विभाग ने सरकारी के साथ ही निजी अस्पतालों में भी इलाज की सुविधा शुरू कर दी है। अगले सप्ताह से छह और नए अस्पतालों में मरीज इलाज करा सकेंगे। वर्तमान में दो सरकारी और दो निजी अस्पतालों में मरीजों का इलाज चल रहा है।

नए कोविड अस्पताल भी अगले सप्ताह शुरू होंगे : स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार अब तक 93 मरीजों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है। स्वस्थ होने वाले कुल मरीजों की संख्या 25952 हो गई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपक ओहरी ने बताया कि संदिग्ध मरीजों की जांच और उनका इलाज प्राथमिकताओं में है। टीकाकरण अभियान भी चल रहा है। इससे जल्द ही कोरोना संक्रमण को नियंत्रित होगा। नए कोविड अस्पताल भी अगले सप्ताह से शुरू हो जाएंगे। 

ये भी पढ़ें : अब गाजियाबाद में लगा नाइट कर्फ्यू, रेड जोन के लिए नई व्यवस्थाएं लागू

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Night curfew imposed in Gautam Budh Nagar till apr 17 in view-of rising covid 19 cases