ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRजेल से रिहा हुए प्रबीर पुरकायस्थ, करना होगा इन शर्तों का पालन, अदालत ने दिए हैं आदेश

जेल से रिहा हुए प्रबीर पुरकायस्थ, करना होगा इन शर्तों का पालन, अदालत ने दिए हैं आदेश

न्यूजक्लिक के संस्थापक प्रबीर पुरकायस्थ को बुधवार को यहां तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया। सुप्रीम कोर्ट द्वारा उनकी गिरफ्तारी को अमान्य घोषित करने के कुछ घंटों बाद उनकी रिहाई हो गई।

जेल से रिहा हुए प्रबीर पुरकायस्थ, करना होगा इन शर्तों का पालन, अदालत ने दिए हैं आदेश
Krishna Singhपीटीआई,नई दिल्लीWed, 15 May 2024 10:30 PM
ऐप पर पढ़ें

न्यूजक्लिक के संस्थापक एवं प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ को सुप्रीम कोर्ट की ओर से गिरफ्तारी को अमान्य घोषित करने के कुछ ही घंटों बाद बुधवार को तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया। पुरकायस्थ पिछले साल 2 नवंबर से जेल में बंद थे। उच्चतम न्यायालय ने यूएपीए के तहत प्रबीर पुरकायस्थ की गिरफ्तारी को अवैध करार दिया और उनको हिरासत से रिहा करने का आदेश जारी किया। इसी बीच दिल्ली की एक अदालत ने प्रबीर पुरकायस्थ को निर्देश दिया कि वे सबूतों के साथ छेड़छाड़ नहीं करेंगे।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश (एएसजे) हरदीप कौर ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुपालन में पुरकायस्थ की रिहाई का आदेश जारी करते हुए शर्त लगाई कि वे मामले के गुण-दोष पर टिप्पणी नहीं करेंगे। अदालत ने पुरकायस्थ (Prabir Purkayastha) को यह भी निर्देश दिया कि वह मामले में किसी भी गवाह या सरकारी गवाह अमित चक्रवर्ती से संपर्क नहीं करेंगे। 

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पिछले साल 3 अक्टूबर को पुरकायस्थ को आतंकवाद विरोधी कानून गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के तहत गिरफ्तार किया था। उन पर कथित तौर पर खबरों के माध्यम से चीन समर्थक प्रचार के लिए धन प्राप्त करने के आरोप लगाए गए थे। पुरकायस्थ रात 9 बजे रोहिणी की जेल नंबर 10 से बाहर आए। उनके परिवार के सदस्यों और दोस्तों ने जेल परिसर के बाहर उनका स्वागत किया। पुरकायस्थ के वकील अर्शदीप सिंह खुराना ने यह जानकारी दी।