ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRNCR : फरीदाबाद के 5 विधानसभा क्षेत्रों की बल्ले-बल्ले, सोहना फ्लाईओवर बनेगा 4 लेन; इन 20 से ज्यादा इलाकों को सीधा फायदा

NCR : फरीदाबाद के 5 विधानसभा क्षेत्रों की बल्ले-बल्ले, सोहना फ्लाईओवर बनेगा 4 लेन; इन 20 से ज्यादा इलाकों को सीधा फायदा

बल्लभगढ़ में सोहना रेलवे फ्लाईओवर (Sohna Flyover) को चार लेन बनाने का रास्ता अब पूरी तरह साफ हो गया है। फ्लाईओवर के चौड़ीकरण को जमीन लेने के लिए हरियाणा सरकार ने 15 करोड़ रुपये भी जारी कर दिए हैं।

NCR : फरीदाबाद के 5 विधानसभा क्षेत्रों की बल्ले-बल्ले, सोहना फ्लाईओवर बनेगा 4 लेन; इन 20 से ज्यादा इलाकों को सीधा फायदा
Praveen Sharmaबल्लभगढ़ (फरीदाबाद)। अशोक जैनMon, 19 Feb 2024 04:52 PM
ऐप पर पढ़ें

फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ में सोहना रेलवे फ्लाईओवर को चार लेन बनाने का रास्ता अब पूरी तरह साफ हो गया है। फ्लाईओवर के चौड़ीकरण को जमीन लेने के लिए हरियाणा सरकार ने 15 करोड़ रुपये भी जारी कर दिए हैं। अधिकारियों को दावा है कि इस मामले में जल्द ही रजिस्ट्री शुरू हो जाएगी। इसके अलावा सरकार जल्द ही रेलवे ओवरब्रिज पर कार्य करने को लेकर करीब एक करोड़ 62 लाख रुपये भी जारी कर देगी। अधिकारियों का दावा है कि आगामी कार्रवाई जल्द शुरू कर दी जाएगी।

इस फ्लाईओवर को चार लेन का बनाने के लिए 10 अप्रैल 2016 में प्रदेश के मुख्यमंत्री ने एनआईटी विधानसभा की एक जनसभा में की थी। वर्ष 2009 में निर्माणाधीन बल्लभगढ़-सोहना रेलवे फ्लाईओवर अभी दो लेन का है, जिससे हजारों वाहनों की प्रतिदिन आवाजाही होती है। संकरा होने के कारण सुबह-शाम पुल पर लंबा जाम लग जाता है। इससे नौकरी पेशा लोगों को भारी परेशानी होती है।

यमुनापार में रहने वालों के लिए गुड न्यूज, इन 9 सड़कों का होगा कायाकल्प

जाम में फंसते हैं वाहन चालक : इतना ही नहीं करीब 5 हजार उद्योगों का कच्चा व पक्का माल ले जाने वाले वाहन चालक भी अधिकतर इस फ्लाईओवर पर लंबे समय तक जाम में फंसे रहते हैं। जिस कारण उन्हें भी काफी परेशानी होती है।

फ्लाईओवर पांच विधानसभा क्षेत्र से जुड़ा है : मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने करीब आठ साल पहले एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में आयोजित एक रैली में सोहना फ्लाईओवर को चार लेन बनाने की घोषणा की थी। यह फ्लाईओवर पांच विधानसभा क्षेत्रों- बल्लभगढ़, फरीदाबाद, पृथला, एनआईटी और बड़खल से जुड़ा हुआ है। इस कारण रैली में तीन विधायकों ने दो लेन के फ्लाईओवर को चार लेन बनाने की मांग उठाई थी, ताकि फरीदाबाद की इन विधानसभाओं के लोगों को जाम से मुक्ति मिल जाए। फ्लाईओवर काफी संकरा होने के कारण सुबह-शाम पुल पर लंबा जाम लग जाता है। 

प्राइवेट कंपनी व लोगों से खरीदी जाएगी जमीन

चार लेन का फ्लाईओवर बनाने के लिए मौके पर जमीन केवल 11 मरले हैं, जबकि चार लेन का फ्लाईओवर बनने के लिए कम से कम 8 कैनाल 14 मरले जमीन की जरूरत है। उसके बाद ही पर चार लेन का फ्लाईओवर बन सकेगा। जमीन कम होने के चलते सरकार ने निजी भू-स्वामियों की जमीन खरीदने के लिए 15 करोड़ रुपये जारी किए हैं। अधिकारियों का दावा है आने वाले कुछ दिनों में अवश्य ही जमीन की रजिस्ट्री करा दी जाएगी।

इस क्षेत्र के लोगों को होती है परेशानी

सोहना फ्लाईओवर से औद्योगिक क्षेत्र सेक्टर-25, 24, 23, 22, औद्योगिक क्षेत्र एनआईटी, रिहायशी क्षेत्र सेक्टर-55, 56, राजीव कॉलोनी, संजय गांधी मेमोरियल नगर, मुजेसर, सरूरपुर, पाली, पाखल, नंगला गुजरान, गौंछी, सोहना और गुड़गांव मार्ग पर पड़ने वाले ग्रामीण क्षेत्र के लाखों लोगों का रोजाना आवागमन होता है।

-राहुल सिंह, उप महाप्रबंधक, पुल एवं सड़क निर्माण विकास निगम, ''जमीन को लेने के लिए सरकार ने 15 करोड़ रुपये जारी किए दिए हैं। रेलवे को देने के लिए जल्द ही एक करोड़ 62 लाख रुपये सरकार जारी कर देगी। उसके बाद ही आगामी कार्रवाई की जाएगी।'' 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें