ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRकब से मेरठ साउथ तक आवाजाही करेंगी नमो भारत रैपिड ट्रेनें, रोजाना कितने लोग कर रहे सफर?

कब से मेरठ साउथ तक आवाजाही करेंगी नमो भारत रैपिड ट्रेनें, रोजाना कितने लोग कर रहे सफर?

सूचना अधिकार (आरटीआई) अधिनियम के तहत प्राप्त जानकारी के मुताबिक, नमो भारत रैपिड ट्रेनों से रोजाना औसत 3000 लोगों ने यात्रा की है। उक्त आंकड़ा नमो भारत ट्रेनों के संचालन के पहले 95 दिनों का है।

कब से मेरठ साउथ तक आवाजाही करेंगी नमो भारत रैपिड ट्रेनें, रोजाना कितने लोग कर रहे सफर?
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 19 Feb 2024 12:30 AM
ऐप पर पढ़ें

नमो भारत रैपिड ट्रेनों से रोजाना औसत 3000 लोगों ने यात्रा की है। सूचना अधिकार (आरटीआई) अधिनियम के तहत प्राप्त जानकारी से यह आंकड़ा सामने आया है। प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले साल 20 अक्टूबर को हरी झंडी दिखाकर इन ट्रेनों की शुरुआत की थी। उक्त आंकड़ा नमो भारत ट्रेन संचालन के पहले 95 दिनों 21 अक्टूबर से 23 जनवरी 2024 तक का है। आंकड़े बतलाते हैं कि 95 दिन की अवधि के दौरान कुल 279,423 यात्रियों ने नमो भारत ट्रेनों से सफर किया यानी हर दिन औसतन 2941 यात्रियों ने इस सेवा का इस्तेमाल किया। 

क्या कहते हैं आंकड़े?
'द इंडियन एक्सप्रेस' की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली-मेरठ रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) का इस्तेमाल अक्टूबर 2023 में 63,852 यात्रियों ने किया, जबकि उस साल नवंबर में 71,124 लोग ट्रेनों में सवार हुए। दिसंबर 2023 में 72,335 यात्रियों ने इन ट्रेनों के जरिए सफर किया। जनवरी 2024 के पहले 23 दिनों में, 72,382 लोगों ने आरआरटीएस पर यात्रा की। 

फिलहाल प्राथमिकता खंड तक ही सफर
मौजूदा वक्त में ये ट्रेनें 17 किलोमीटर लंबे प्राथमिकता वाले खंड पर चलाई जा रही हैं। इस खंड में पांच स्टेशन (साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर, दुहाई और दुहाई डिपो) शामिल हैं। मौजूदा वक्त में अधिकांश यात्री या तो साहिबाबाद से यात्रा कर रहे हैं या दुहाई जा रहे हैं। 

प्रतिदिन 8 लाख लोग करेंगे सफर
आरआरटीएस में दिल्ली के सराय काले खां से मेरठ के मोदीपुरम तक 82 किलोमीटर लंबा कॉरिडोर होगा। एनसीआरटीसी की व्यवहार्यता रिपोर्ट से पता चलता है कि एक बार जब पूरा मार्ग खुल जाएगा, तो इन ट्रेनों के जरिए रोजाना लगभग 8 लाख लोग यात्रा करेंगे। 

मेरठ साउथ तक लाइन जल्द
मार्च तक मेरठ साउथ तक की लाइन खुल जाएगी। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम (एनसीआरटीसी) के एक अधिकारी ने बताया कि मेरठ दक्षिण तक 25 किलोमीटर तक फैला एक अतिरिक्त मार्ग जल्द ही चालू हो जाएगा। इस गलियारे के चालू होने के बाद वास्तविक सवारियों की तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी। अधिकारी ने बताया कि अंतिम-मील कनेक्टिविटी के लिए, यूपीएसआरटीसी (उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम) के साथ बातचीत की जा रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें