ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRएमपी के कई जिलों में आतंकवाद के खिलाफ ऑपरेशन, NIA की छापेमारी, एक को दबोचा

एमपी के कई जिलों में आतंकवाद के खिलाफ ऑपरेशन, NIA की छापेमारी, एक को दबोचा

मध्य प्रदेश में एनआईए की कार्रवाई जारी है। NIA आतंकियों, मादक पदार्थों के तस्करों और माफियाओं के बीच गठजोड़ से जुड़े मामलों में कार्रवाई कर रही है। एनआईए ने एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है।

एमपी के कई जिलों में आतंकवाद के खिलाफ ऑपरेशन, NIA की छापेमारी, एक को दबोचा
Krishna Singhभाषा,भोपालWed, 17 May 2023 05:43 PM
ऐप पर पढ़ें

एनआईए ने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) में दो स्थानों पर छापेमारी कर के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को यह जानकारी दी। वहीं अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, यूपी, उत्तराखंड और मध्य प्रदेश में एनआईए की छापेमारी जारी है। NIA आतंकियों, मादक पदार्थों के तस्करों और माफियाओं के बीच गठजोड़ से जुड़े मामलों में कार्रवाई कर रही है। एनआईए छह राज्यों में 100 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। 

नरोत्तम मिश्रा ने संवाददाताओं को बताया कि एनआईए की टीम ने भिंड जिले से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। एनआईए ने सेंधवा शहर (बड़वानी जिले) में भी छापेमारी की। सेंधवा में एनआईए की टीम ने उस जगह छापेमारी की है जहां सिकलीगर (समुदाय के सदस्य) रहते हैं। सनद रहे देश के कुछ राज्यों में सिकलीगर समुदाय के लोग सुरक्षा एजेंसियों के रडार पर रहे हैं क्योंकि उनमें से एक वर्ग हथियारों के अवैध निर्माण और आपूर्ति में कथित तौर पर शामिल रहा है।

अधिकारियों के मुताबिक, एनआईए ने पिछले साल तीन मामले दर्ज किए थे। इनमें आरोप लगाया गया था कि आतंकी संगठन और विदेश में मौजूद उनके आका टारगेट कीलिंग और हिंसक आपराधिक कृत्यों को अंजाम देने के लिए उत्तरी राज्यों में सक्रिय संगठित आपराधिक गिरोहों के सदस्यों के रूप में काम कर रहे हैं। 

छानबीन में यह भी सामने आया था कि आतंकवादियों, नशीले पदार्थों के तस्करों और माफियाओं का नेटवर्क अवैध हथियारों और गोला-बारूद का निर्माण एवं आपूर्ति करने वाले एक व्यापक अंतरराज्यीय गिरोह के जरिये सीमा पार हथियारों, विस्फोटकों और आईईडी की तस्करी में शामिल है। एनआईए गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के तहत विभिन्न आपराधिक गिरोहों के 19 सदस्यों, दो हथियार आपूर्तिकर्ताओं और नेटवर्क से जुड़े एक अन्य व्यक्ति को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।