DA Image
23 अक्तूबर, 2020|9:34|IST

अगली स्टोरी

दिल्लीवालों के लिए राहत की खबर, कोरोना संक्रमित होने वालों के मुकाबले ठीक होने वालों की संख्या अधिक

coronavirus

दिल्ली में जुलाई महीने के शुरुआती 12 दिनों में कोरोना वायरस (COVID-19) से संक्रमित होने वाले लोगों के मुकाबले ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अधिक है। दिल्ली सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, एक जुलाई से 12 जुलाई के बीच दिल्ली में 25,134 लोग संक्रमित हुए जबकि 31,640 लोग ठीक हुए। वहीं, एक जुलाई से छह जुलाई की अवधि को छोड़ दें तो बाकी दिन संक्रमित होने वाले मरीजों के मुकाबले संक्रमण मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या अधिक है।

दिल्ली सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, एक जुलाई से बार 12 जुलाई के बीच रोजाना ठीक होने वालों की संख्या में भी तेजी से वृद्धि हुई- पहले छह दिन रोजाना औसतन दो हजार मरीज ठीक हुए, जबकि अगले तीन दिन रोजाना ठीक होने वालों की तादाद तीन हजार से अधिक रही। वहीं एक दिन (नौ जुलाई) करीब चार हजार लोग संक्रमण मुक्त हुए।

दिल्ली में 12 जुलाई तक कोविड-19 के 1,12,494 मरीज सामने आ चुके हैं जिनमें से 89,968 संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। आंकड़ों के मुताबिक, एक जुलाई को 1,644 लोग संक्रमण मुक्त हुए जबकि अगले दिन (दो जुलाई) को 3,015 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई। तीन जुलाई को ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में थोड़ी कमी आई और 2,617 लोगों ने कोरोना वायरस को मात दी जबकि अगले दिन यानि चार जुलाई को इसमें सुधार हुआ और ठीक होने मरीजों की संख्या 2,632 रही।

एक लाख के पार पहुंची संख्या

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, छह जुलाई को जब राजधानी दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या एक लाख के पार पहुंच गई, उस दिन केवल 749 लोग संक्रमण मुक्त हुए। हालांकि, इसके अगले दिन 2,129 लोग ठीक हुए। दिल्ली में संक्रमण मुक्त होने की दर करीब 80 प्रतिशत है जो राष्ट्रीय औसत से कहीं बेहतर है। जून महीने में संक्रमण मुक्त होने की दर में वृद्धि शुरू हुई और महीने के अंत तक यह 66 प्रतिशत तक पहुंच गई।

आंकड़ों के मुताबिक, पिछले महीने राजधानी दिल्ली में करीब 64 हजार लोग संक्रमित हुए जिनमें से 47,357 लोग ठीक हुए या पलायन कर गए। दिल्ली में ठीक होने की दर 20 जून को 50 प्रतिशत के स्तर पर पहुंची। इससे पहले करीब एक महीने तक यह इससे नीचे रही। 19 जून को दिल्ली में कोविड-19 से ठीक होने की दर 44.37 प्रतिशत थी, जो अगले दिन बढ़कर 55.14 प्रतिशत पर पहुंच गई, तब से ठीक होने की दर में लगातार सुधार हो रहा है और यह उन दिनों भी रहा जब एक दिन में संक्रमित होने वालों की संख्या तीन हजार से अधिक थी। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक 23 जून को एक दिन में सबसे अधिक 3,947 नए मामले सामने आए थे। हालांकि, उस दिन भी ठीक होने की दर 59.02 प्रतिशत रही।

कोरोना का पता लगाने को बढ़ाई जांच 

दिल्ली में कोविड-19 के मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर सरकार ने जांच की संख्या बढ़ाकर 20 हजार रोजाना के स्तर पर ले गई और संक्रमण के स्तर का पता लगाने के लिए सिरोलॉजिकल सर्वे कराया। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:More people recovering daily from COVID-19 in Delhi than contracting it