ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRनूंह हिंसा मामले में मोनू मानेसर को मिली बेल, फिर भी रहना होगा जेल, क्या है वजह?

नूंह हिंसा मामले में मोनू मानेसर को मिली बेल, फिर भी रहना होगा जेल, क्या है वजह?

नूंह हिंसा मामले में मोनू मानेसर को बड़ी राहत मिली है। मोनू मानेसर को नूंह हिंसा के मामले में 50 हजार के निजी मुचलके पर जमानत मिल गई है। हालांकि उसे जेल में ही रहना होगा। क्या है वजह?

नूंह हिंसा मामले में मोनू मानेसर को मिली बेल, फिर भी रहना होगा जेल, क्या है वजह?
Krishna Singhलाइव हिंदुस्तान,नूंहMon, 16 Oct 2023 04:44 PM
ऐप पर पढ़ें

मोनू मानेसर (Monu Manesar) को नूंह हिंसा मामले (Nuh Violence Case) में जमानत मिल गई है। उसे 50 हजार के मुचलके पर जमानत मिली है। हालांकि उसे जेल में ही रहना होगा। पटौदी हत्या के प्रयास और नासिर-जुनैद हत्या मामले में उसे कोई राहत नहीं मिली है। यानी राजस्थान में चल रहे मामलों में उसको राहत नहीं मिली है। इसलिए उसे जेल में ही रहना होगा। बता दें कि नूंह हिंसा के ठीक पहले एक वीडियो डाली गई थी। इसको लेकर हरियाणा सरकार ने आईटी एक्ट के तहत उसके खिलाफ केस दर्ज किया था। इसी मामले में नूंह की अदालत में मोनू ने जमानत की गुहार लगाई थी।

फिलहाल मोनू गुरुग्राम की भोंडसी जेल में बंद है। गुरुग्राम पुलिस उसे राजस्थान से अपने यहां प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई थी। गुरुग्राम पुलिस ने पटौदी में हुए हत्या के प्रयास के एक मामले में मोनू के खिलाफ 307 के तहत हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया था। इस मामले में गुरुग्राम पुलिस ने मोनू को चार दिन के रिमांड पर लिया था। इस दौरान पुलिस ने अपनी छानबीन में मोनू के खिलाफ कई सबूत जुटाए थे। इस मामले में पुलिस चार्जशीट दाखिल करने वाली है। 

मालूम हो कि नासिर-जुनैद हत्या मामले में मोनू के खिलाफ राजस्थान में केस चल रहा है। अब उसे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अदालत में पेश किया जाएगा क्योंकि पुलिस मोनू को सुरक्षा के लिहाज से राजस्थान नहीं ले जाना चाहती है। यह जरूर है कि यदि राजस्थान पुलिस उसे रिमांड पर लेती है तो उसको अपने साथ ले जा सकती है। हालांकि 25 अक्टूबर की तारीख को जब उसकी पेशी होगी तभी यह तय हो पाएगा कि मोनू के साथ क्या होता है।    

बता दें कि नूंह हिंसा के बाद हरियाणा सरकार ने आईटी एक्ट के तहत मोनू मानेसर के खिलाफ केस दर्ज किया था। मोनू मानेसर के वकीलों ने अपनी दलीलों में बिट्टू बजरंगी को मिली जमानत का भी हवाला दिया। नूंह हिंसा मामले में कई गंभीर आरोपों के तहत बिट्टू बजरंगी को भी गिरफ्तार किया गया था। नूंह सदर पुलिस थाना ने नूंह हिंसा मामले में बिट्टू बजरंगी को 15 अगस्त को गिरफ्तार किया था। नूंह सदर पुलिस थाना ने नूंह हिंसा मामले में बिट्टू बजरंगी को 15 अगस्त को गिरफ्तार किया था। वहीं नूंह क्राइम ब्रांच की टीम ने मोनू मानेसर को गुरुग्राम के मानेसर से गिरफ्तार किया था। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें