ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRNDA सहयोगियों को 'झुनझुना मंत्रालय', मोदी कैबिनेट में विभागों के बंटवारे पर संजय सिंह

NDA सहयोगियों को 'झुनझुना मंत्रालय', मोदी कैबिनेट में विभागों के बंटवारे पर संजय सिंह

Modi Cabinet Portfolio: पीएम मोदी की कैबिनेट में मंत्रियों को उनके विभागों का बंटवारा कर दिया गया है। विपक्ष इसको लेकर केंद्र पर हमलावर है। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने इस पर तंज कसा है।

NDA सहयोगियों को 'झुनझुना मंत्रालय', मोदी कैबिनेट में विभागों के बंटवारे पर संजय सिंह
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 10 Jun 2024 09:03 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री मोदी की कैबिनेट में मंत्रियों को उनके विभागों का बंटवारा कर दिया गया है। अमित शाह, राजनाथ सिंह, निर्मला सीतारमण और एस जयशंकर ने अपने-अपने गृह, रक्षा, वित्त और विदेश मंत्रालय बरकरार रखे हैं। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कृषि एवं ग्रामीण विकास विभाग, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को स्वास्थ्य विभाग जबकि हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को ऊर्जा मंत्रालय दिया गया है। विपक्ष इसको लेकर केंद्र पर हमलावर है। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने इस पर तंज कसा है। 

संजय सिंह ने एक्स पर अपनी पोस्ट में लिखा, न गृह न रक्षा न वित्त न विदेश न वाणिज्य, न सड़क न रेल न शिक्षा न स्वास्थ्य, न कृषि न जलशक्ति, न पेट्रोलियम न दूरसंचार... एनडीए के घटक दलों के हिस्से में आया सिर्फ 'झुनझुना मंत्रालय'... यह तो बहुते बेइज्जती है। 

वहीं केंद्रीय मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के नेताओं के साथ छल किए जाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा- मंत्रालयों का आवंटन करना पीएम का विशेषाधिकार है, लेकिन विभागों में काम होना चाहिए। नरेन्द्र मोदी बिहार की वजह से पीएम बने, लेकिन बिहार के नेताओं को दिए गए मंत्रालयों से पता चलता है कि उनके साथ धोखा हुआ है।

केंद्रीय मंत्री चिराग पासवान ने खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय मिलने के बाद कहा, मुझे जिस मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है, उसका जिक्र मैंने हमेशा अपने विजन डॉक्यूमेंट में किया है। अपने 'बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट' विजन में मैंने हमेशा कहा है कि जब तक हम देश में फूड प्रोसेसिंग यूनिट नहीं लगाएंगे, तब तक किसानों को उनके उत्पादों का सही मूल्य नहीं मिलेगा। भारत कृषि आधारित देश है इसलिए कृषि उत्पादों की सही प्रोसेसिंग, पैकेजिंग और विनिर्माण करना महत्वपूर्ण है।